यूपी वृद्धावस्था पेंशन प्रतिमाह 400 से बढ़कर 500 रूपए: जानिए आवेदन करने की प्रक्रिया

यूपी वृद्धावस्था पेंशन: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में वृद्धावस्था पेंशन की राशि बढ़ाने का फैसला लिया जा सकता है. सरकार वृद्धावस्था पेंशन को 400 रुपये मासिक से बढ़ाकर 500 रुपये करने जा रही है। अब तक सरकार 60 से 79 वर्ष के आयु वर्ग के वृद्धों को 400 रुपये मासिक पेंशन देती थी।

मुख्यमंत्री ने हाल ही में 60 साल और उससे अधिक उम्र के सभी बुजुर्गों की पेंशन 500 रुपये प्रति माह करने की घोषणा की थी. इस पर समाज कल्याण विभाग ने 60 से 79 वर्ष आयु वर्ग के सभी वृद्धजनों को 500 रुपये पेंशन देने का प्रस्ताव तैयार किया था. पहले 500 रुपये पेंशन सिर्फ 79 साल से ऊपर के बुजुर्गों को दी जाती थी, लेकिन अब 60 साल से ऊपर के सभी बुजुर्गों को इसका फायदा मिलेगा.

पेंशन एक तरह की महत्वपूर्ण आर्थिक सहायता है। जिसमें आवेदक कर्ता को हर महीने एक निश्चित राशि मिलती है। इस पैसे से वह आराम से अपनी जिंदगी गुजार सकता है। कई वृद्ध लोग जो अब 60 वर्ष से अधिक के हो चुके हैं। और उनके पास आय का कोई स्रोत नहीं है। ऐसे में यूपी पेंशन योजना की मदद से वे आत्मनिर्भर बन सकते हैं विधवा महिला पेंशन योजना एवं दिव्यांग पेंशन योजना हेतु आवेदन पत्र भी ऑफिसियल वेबसाइट से भरा जा सकता है |

पेंशन नियम को लागू करने के लिए सरकार ने समाज कल्याण को भी आदेश जारी किए हैं। जिले की बात करें तो यहां 35 हजार से ज्यादा बुजुर्गों को वृद्धा पेंशन का लाभ दिया जा रहा है. जिससे अब इन लाभार्थियों के खातों में जो पेंशन जाएगी वह 500 रुपये के हिसाब से जाएगी। समाज कल्याण विभाग को भी पेंशन योजना का लाभ वृद्धों को देने के निर्देश मिले हैं। बताया गया कि वृद्धा पेंशन के लिए विभाग नए हितग्राही भी तैयार करेगा। पूर्व में शिविर लगाकर गांवों में बनाए गए लाभार्थियों को भी पेंशन योजना में शामिल किया गया है। विभाग के अनुसार वृद्धावस्था पेंशन लाभार्थियों के खातों में हर तीन महीने में जाएगी और उन्हें 1500 रुपये दिए जाएंगे।

यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना की पात्रता

आवेदक को उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदन करने के लिए गरीबी रेखा से नीचे होना आवश्यक है। गरीबी रेखा के लिए धारक को बीपीएल सर्टिफिकेट दिखाना होता है। आवेदक समाज में पिछड़े वर्ग से हो सकता है। आवेदन करने के लिए वित्तीय रूप से कमजोर होना चाहिए। यदि आप किसी भी सरकारी नौकरी में हैं तो आप पेंशन योजना आवेदन नहीं कर पाएंगे।

यूपी वृद्धावस्था पेंशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

आवश्यक दस्तावेजों की सूची इस प्रकार है:

  • आधार कार्ड
  • मतदाता कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • बीपीएल प्रमाण पत्र
  • विधवा पेंशन के लिए: पति की मृत्यु का प्रमाण पत्र
  • दिव्यांग पेंशन: विकलांगता प्रमाणपत्र
  • बैंक खाते की जानकारी
  • फोन नंबर
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो

यूपी वृद्धावस्था पेंशन आवेदन करने की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना आवेदन की प्रक्रिया आप बताये गए स्टेप्स मे देख सकते हैं:

  • सबसे पहले यूपी पेंशन योजना ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा, इसमें आपको पेंशन से संबंधित विकल्प मिलेंगे
  • आप अपना विकल्प चुनते हैं: यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना, यूपी विधवा पेंशन योजना, यूपी दिव्यांग पेंशन योजना
  • विकल्प चुनने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, यहां दिए गए विकल्प पर क्लिक करें ऑनलाइन आवेदन करें
  • अब आवेदन फॉर्म आपके सामने है
  • कृपया अपनी जानकारी भरें. और मांगे गए दस्तावेजों को अटैच करें
  • अंत में सबमिट बटन पर क्लिक करके रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करें

आशा है आपको आवेदन से जुडी जानकारी मिल गयी होगी। अगर अभी भी आपको कोई दुविधा है है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें।

Leave a Comment