Fixed Deposit New Rule 2021: सावधि जमा पर RBI का नया नियम, FD Maturity के बाद नहीं मिलेगा ज्यादा ब्याज

Fixed Deposit New Rule: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कुछ समय पहले फिक्स्ड डिपॉजिट और टर्म डिपॉजिट को लेकर अपने नियमों में बदलाव किया था। इन बदलावों के तहत जमाकर्ताओं को अब मैच्योरिटी के बाद अपनी जमा राशि पर ब्याज का नुकसान उठाना पड़ेगा।

क्या आपने किसी सरकारी या वाणिज्यिक बैंक में सावधि जमा राशि प्राप्त की है? अगर हां, तो शायद आप इस बदलाव से वाकिफ हैं, अगर नहीं तो हम आपको इसके बारे में बता रहे हैं. सेंट्रल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कुछ समय पहले सावधि जमा और सावधि जमा को लेकर अपने नियमों में बदलाव किया था (एफडी के नए नियम)। इन बदलावों के तहत जमाकर्ताओं को अब मैच्योरिटी के बाद अपनी जमा राशि पर ब्याज का नुकसान उठाना पड़ेगा। यानी अब अगर मैच्योरिटी के बाद जमा का पैसा नहीं निकाला गया तो उस पर मिलने वाला ब्याज कम हो सकता है

आरबीआई ने Fixed Deposit New Rule 2021 (सावधि जमा पर RBI का नया नियम) जारी किया , जिसमें कहा गया था कि अगर ग्राहक मैच्योरिटी के बाद अपने पैसे का दावा नहीं करते हैं, तो उन्हें ब्याज के पैसे पर नुकसान उठाना पड़ेगा। हालांकि, इसमें यह भी उल्लेख किया गया है कि भले ही किसी की सावधि जमा परिपक्व हो, लेकिन पैसा वापस नहीं लिया गया और आय का भुगतान नहीं हुआ, फिर भी उन्हें ब्याज मिलेगा।

Fixed Deposit New Rule 2021

आरबीआई ने अपने सर्कुलर में कहा था, ‘यह तय किया गया है कि अगर कोई सावधि जमा मैच्योर हो जाता है और आगे की कार्यवाही का भुगतान नहीं किया जाता है, तो बैंक के पास बचे इस पैसे पर ब्याज बचत खाते या अनुबंध में ब्याज की राशि के बराबर होगा।’ इनमें से जो भी कम हो, उतना ही अधिक ब्याज मिलता रहेगा। अगर मैच्योरिटी के बाद सावधि जमा का दावा नहीं किया जाता है, तो यह बचत खाते में निर्धारित ब्याज या परिपक्व एफडी पर अनुबंध, जो भी कम हो, के बराबर रिटर्न अर्जित करेगा।

बता दें कि यह नया नियम भारतीय स्टेट बैंक सहित सभी सहकारी बैंकों के लिए HDFC, ICICI, Kotak जैसे निजी बैंकों पर लागू होगा। अगर आपकी FD किसी बैंक के पास है तो मैच्योरिटी के बाद आपको इस नए नियम का ध्यान रखना होगा

ज्यादातर बैंक पहले से ही सावधि जमा और बचत खातों पर कम ब्याज दरों की पेशकश कर रहे हैं। वहीं बैंक पहले से ही FD की बकाया राशि पर सेविंग अकाउंट का ब्याज लगा रहे थे और अक्सर सेविंग अकाउंट पर ब्याज FD से कम होता है नए नियम के मुताबिक अब यह सुनिश्चित किया जाएगा कि अनक्लेम्ड डिपॉजिट unclaimed deposit पर सिर्फ कम ब्याज दिया जाए।

सभी राज्य और केंद्र सरकार की योजनाएं प्राप्त करने के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें।