मोबाइल से Health ID ऐसे बनाये, जाने क्या है इसके फ़ायदे

Ayushman Bharat Digital Mission के तहत लोगों को एक यूनिक डिजिटल Health ID प्रदान की जाएगी, जिसमें व्यक्ति के सभी स्वास्थ्य सम्बन्धी रिकॉर्ड होंगे। PM नरेंद्र मोदी ने 27 सितम्बर 2021 को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की शुरुआत की। इसके तहत लोगों को एक यूनिक डिजिटल Health ID प्रदान की जाएगी, जिसमें व्यक्ति के सभी स्वास्थ्य सम्बन्धी रिकॉर्ड होंगे। राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के पायलट प्रोजेक्ट की घोषणा प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त, 2020 को लाल किले की प्राचीर से की थी।

इस योजना की घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा की आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। पिछले 7 सालों में देश की स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत करने का अभियान आज एक नए चरण में प्रवेश कर रहा है। यह कोई सामान्य चरण नहीं है। संबोधन के दौरान, पीएम मोदी ने CoWIN GOV IN प्लेटफॉर्म की भी प्रशंसा की। प्रधान मंत्री ने रेखांकित किया कि जनवरी में टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से भारत ने 86 करोड़ से अधिक वैक्सीन खुराक का प्रबंध किया था, और CoWIN प्लेटफॉर्म को “बड़ी भूमिका” का श्रेय दिया।

वर्तमान में, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन परियोजना छह केंद्र शासित प्रदेशों में पायलट चरण में लागू की जा रही है। बयान में कहा गया है कि परियोजना का राष्ट्रव्यापी रोलआउट राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (NHA) द्वारा आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (ABJAY) की तीसरी वर्षगांठ मना रहा है। यह मिशन नागरिकों की सहमति से उनके देशांतरीय स्वास्थ्य रिकॉर्ड तक पहुंच और आदान-प्रदान को सक्षम बनाएगा।

परियोजना के प्रमुख घटकों में प्रत्येक नागरिक के लिए एक स्वास्थ्य आईडी शामिल है जो उनके स्वास्थ्य खाते के रूप में भी काम करेगा, जिससे व्यक्तिगत स्वास्थ्य रिकॉर्ड को मोबाइल एप्लिकेशन, एक हेल्थकेयर प्रोफेशनल रजिस्ट्री (HPR) और हेल्थकेयर सुविधाओं की मदद से जोड़ा और देखा जा सकता है। रजिस्ट्रियां (HFR) जो आधुनिक और पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों दोनों में सभी स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के भंडार के रूप में कार्य करेगी। यह डॉक्टरों और अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए व्यापार करने में आसानी सुनिश्चित करेगा।

Health ID के लाभ और विशेषताएं

  • यूनिक हेल्थ ID बन जाने के बाद मरीज को ढेर सारी फाइल ले जाने से छुटकार मिलेगा।
  • रोगी का यूनिक हेल्थ आईडी देखकर डॉक्टर या अस्पताल उसका पूरा डेटा निकालेंगे और सभी बातें जान सकेंगे।
  • अब सबकी पूरी मेडिकल हिस्ट्री डिजिटल फार्मेट में अपडेट होगी।
  • किसी दूसरे शहर, अस्पताल में भी यूनीक आईडी से डॉक्यूमेंट्स देख सकेंगे। इससे डॉक्टर्स को इलाज करने में आसानी होगी।
  • यह कार्ड ये भी बताएगा कि वह व्यक्ति किन-किन सरकारी योजनाओं का लाभ लेता है।

Health ID के लिए जरूरी दस्तावेज़

Health ID बनाने के लिए जिन जरूरी दस्तावेजो की जरुरत पड़ेगी वे इस प्रकार हैं :

  • आधार कार्ड
  • चालू मोबाइल नंबर
  • ईमेल ID

Health ID में क्या बातें होंगी दर्ज

Health ID में आपके स्वास्थ सम्बन्धी सारी जानकारी होगी। इससे पता लगाया जा सकेगा की आपको कोई गंभीर बीमारी तो नी है , आप किन किन दवाइयों का सेवन करते हैं , ये भी इस कार्ड से पता चल जाएगा। आप कोनसी दवाई लेते हो उससे कुछ फरक पड़ रहा या नहीं, ये सब जानकारी Health ID में होगी। आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन परियोजना से नागरिक स्वास्थ्य सुविधाओं तक पहुंचने से केवल एक क्लिक दूर होंगे।

मोबाइल से Health ID कैसे बनाये?

हेल्थ ID बनवाने के लिए आपको https://healthid.ndhm.gov.in/register लिंक पर जाना होगा। इसके बाद आपको अपना 12 नंबर का आधार कार्ड नंबर डालना होगा।

Health ID
Health ID

उसके बाद आपको “I AGREE” पे टिक करके आगे बढ़ना होगा। अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पे एक OTP आएगा आपको उसे यह भरना होगा और सबमिट बटन पे क्लिक करना होगा। अब आपकी हेल्थ id बन जाएगी। हेल्थ आईडी आप पब्लिक हॉस्पिटल, कम्युनिटी हेल्थ सेंटर, हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर से भी बनवा सकते हैं।

हेल्थ आईडी कार्ड में हेल्थ आईडी नंबर से लॉग इन कैसे करें

वन नेशन वन स्वास्थ्य कार्ड लॉगिन की प्रक्रिया

Step 1: पीएम हेल्थ आईडी कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

Step 2: स्क्रीन में एक होमपेज दिखाई देगा, क्रिएट हेल्थ आईडी ऑप्शन पर क्लिक करें।

Step 3: उसके बाद आपको लॉगिन बटन पर क्लिक करना होगा।

Step 4: लॉगिन पेज स्क्रीन पर दिखाई देगा, अब आपको हेल्थ आईडी नंबर दर्ज करना होगा।

Step 5: उसके बाद, आपने अपना स्वास्थ्य आईडी बनाने के लिए आईडी में लॉग इन किया

डिजी डॉक्टर क्या है?

यह एक ऐसा विकल्प है जो पूरे डॉक्टर को देश में इस वन हेल्थ कार्ड योजना 2021 ऐप पर पंजीकरण करने की अनुमति देगा। इस प्रधानमंत्री योजना ऐप में; डॉक्टर अपना मोबाइल नंबर भी दे सकते हैं, डॉक्टरों को मुफ्त में एक डिजिटल हस्ताक्षर प्रदान किया जाएगा और वे इसका उपयोग फॉर्म लिखने के लिए कर सकते हैं।

डिजी डॉक्टर आईडी कैसे बनाएं?

  • सबसे पहले एक राष्ट्र, एक स्वास्थ्य कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • आपके सामने एक होमपेज दिखाई देगा, अब आप डिजी डॉक्टर के विकल्प पर क्लिक करेंगे।
  • इसके बाद आपको एनरोलमेंट ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको आधार के माध्यम से रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको आधार नंबर दर्ज करना होगा और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सभी आवश्यक विवरण दर्ज करें, अब सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • अब, आपका डिजी डॉक्टर आईडी जनरेट होगा।

आशा है आपको यह जानकारी पसंद आएगी। यदि आपके पास अभी भी कोई प्रश्न है, तो आप हमें कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। नवीनतम अपडेट के लिए आप हमारी साइट sarkariiyojana.in को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment