लो आ गयी है [New] Job Card List 2021: नई NREGA कार्ड सूची में अपना नाम ऐसे देखें

Job Card: नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट आधिकारिक तौर पर ऑनलाइन पोर्टल पर जारी कर दी गई है। देश के जो इच्छुक लाभार्थी नरेगा कार्ड सूची और उस सूची में अपना नाम देखना चाहते हैं तो वे मनरेगा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आसानी से ऑनलाइन देख सकते हैं। केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही मनरेगा योजना एक सरकारी योजना है जो पूरी तरह से रोजगार पर केंद्रित है। नरेगा जॉब कार्ड सूची 2021 का उपयोग करके आप अपने गांव/शहर के उन लोगों की पूरी सूची देख सकते हैं जो आगामी वित्तीय वर्ष में मनरेगा के तहत काम करेंगे।

मनरेगा जॉब घोषणा- NREGA List

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दूसरी किस्त की घोषणा की है जो प्रवासी मजदूर दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं और अब अपने गांवों को लौट गए हैं, उनके लिए मनरेगा के तहत प्रतिदिन मिलने वाली 182 रुपये की राशि को बढ़ाकर 202 रुपये प्रतिदिन कर दिया गया है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा 13 मई तक 14.6 करोड़ मानव दिवस कार्य किया जा चुका है, यानी 13 मई 2020 तक 14.62 करोड़ मानव दिवस कार्य उपलब्ध कराया गया है। इसके लिए 10000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था। यह काम इसलिए किया ताकि वापस आए प्रवासी मजदूरों को काम मिल सके।

श्रमिकों को दिया जाएगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ

आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना का लाभ अब सरकार श्रम संसाधन विभाग में पंजीकृत श्रमिकों को देगी। आयुष्मान भारत योजना को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना भी कहा जाता है। यह एक तरह की हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम है। जिसके माध्यम से प्रत्येक लाभार्थी परिवार को प्रतिवर्ष ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है। यह विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना है। वे सभी श्रमिक जो पुल, पुलिया, भवन निर्माण एवं अन्य निर्माण कार्य कर रहे हैं, वे सभी लोग इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

  • अब सभी श्रमिकों को भी 50,00,00₹ प्रति वर्ष तक मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान दी जाएगी
  • सरकार की ओर से सभी श्रमिकों के लिए आयुष्मान कार्ड बनाने की व्यवस्था को भी आसान बनाया जाएगा। कार्ड बनवाने के लिए मजदूरों के पास लेबर कार्ड और आधार कार्ड होना अनिवार्य है
  • यह कार्ड योजना के तहत पैनल में शामिल सरकारी और निजी अस्पतालों में बनवाया जा सकता है। इस योजना के सभी लाभार्थी CSC केंद्र के माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं

महात्मा गांधी मनरेगा योजना के तहत किए जाने वाले कार्य

महात्मा गांधी मनरेगा योजना के तहत किया जाने वाला कार्य
इस योजना के अंतर्गत सभी प्रकार के कार्यों को चार प्रमुख श्रेणियों में बांटा गया है, जो इस प्रकार हैं:-

श्रेणी ए – इस श्रेणी में प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन से संबंधित सभी सार्वजनिक कार्य शामिल हैं। जैसे जल संरक्षण संरचनाएं, जल कैचमेंट प्रबंधन, सूक्ष्म और लघु सिंचाई बुनियादी ढांचा कार्य, पारंपरिक जल स्रोत और पुनरोद्धार, वनीकरण, शामलात भूमि पर भूमि विकास कार्य और चारागाह विकास।

श्रेणी बी – श्रेणी बी में कमजोर वर्ग के लिए व्यक्तिगत संपत्ति का निर्माण, आजीविका का विकास, परती और बंजर भूमि का विकास, इंदिरा आवास योजना के तहत 90 अकुशल श्रमिक दिवस कार्य भुगतान, पशुपालन और मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए, भौतिक संसाधनों का निर्माण करना आदि का प्रयोग किया जाता है।

श्रेणी सी – श्रेणी सी में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत, भौतिक संसाधन निर्माण कार्य जैसे कृषि उत्पादकता बढ़ाना, जैव उर्वरकों के लिए संरचना, कृषि उपज के भंडारण के लिए पक्के कार्य श्रेणी सी में स्वयं सहायता समूहों के लिए किए जाएंगे।

श्रेणी डी – श्रेणी सी के तहत ग्रामीण भौतिक संसाधनों से संबंधित कार्य जैसे ग्रामीण स्वच्छता कार्य, हर मौसम में सड़क संपर्क, खेल मैदान निर्माण कार्य, आपातकालीन प्रबंधन और बहाली कार्य, भवन निर्माण कार्य आदि किया जाएगा।

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कुछ मुख्य बातें

नरेगा योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के हर नागरिक को रोजगार उपलब्ध कराना है। इस योजना के तहत एक वित्तीय वर्ष में प्रत्येक नरेगा जॉब कार्ड धारक को 100 दिनों का सुनिश्चित कार्य प्रदान किया जाता है। मनरेगा योजना का संचालन भारत सरकार पिछले 14 साल से कर रही है। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष भारत सरकार द्वारा श्रमिकों को 1.3 करोड़ नए नरेगा जॉब कार्ड प्रदान किए गए हैं और इस योजना के तहत इस वर्ष नरेगा योजना के तहत 1 करोड़ परिवारों ने काम किया है। पिछले साल नरेगा योजना के तहत एक परिवार का औसत रोजगार 48 दिन का था, जो अब 41 दिन का हो गया है। 30 नवंबर, 2020 तक 17 लाख परिवारों ने 100 दिन का रोजगार पूरा कर लिया है, लेकिन पिछले साल नवंबर तक 40.6 लाख परिवारों ने काम पूरा कर लिया था। आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, केंद्र सरकार द्वारा 30 नवंबर, 2020 तक 324 करोड़ दिन आवंटित किए गए थे। फिलहाल इस योजना के तहत काम देने की प्रक्रिया सिक्योर नाम के सॉफ्टवेयर के जरिए की जाती है।


सभी राज्य और केंद्र सरकार की योजनाएं प्राप्त करने के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें।

Leave a Comment