Ladli Laxmi Yojana : लाडली लक्ष्मी योजना में अब ऑनलाइन करें आवेदन , बेटियों को मिलेंगे कुल 2 लाख

Ladli Laxmi Yojana : मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में कन्या भूर्ण हत्याओं को रोकने के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की है। Ladli Laxmi Yojana एक लड़की के जन्म, शिक्षा और स्वास्थ्य के बारे में सकारात्मक सोच के बारे में जागरूकता फैलाएगी।

Ladli Laxmi Yojana

Ladli Laxmi Yojana की शुरुआत मध्य प्रदेश सरकार ने 2007 में की थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य बालिका के जन्म के प्रति समाज के दृष्टिकोण में बदलाव लाना है। इसके अतिरिक्त, योजना की मुख्य पहल बालिकाओं के लिंग अनुपात, शैक्षिक और स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार लाना है। लाडली लक्ष्मी योजना की समग्र सफलता के बाद, अन्य राज्यों ने भी बालिकाओं की भलाई के लिए ऐसी योजनाओं को चालू किया जा रहा है।

इसे कब लॉन्च किया गया था?

लाड़ली लक्ष्मी योजना की शुरुआत 2 May, 2007 को मध्य प्रदेश के CM शिवराज सिंह चौहान ने की थी। Ladli Laxmi Yojana वर्तमान में उत्तर प्रदेश, दिल्ली, बिहार, छत्तीसगढ़, गोवा और झारखंड में चालू है। इस योजना से गैर-कर भुगतान करने वाले परिवार और महिला अनाथों में 1 जनवरी, 2006 को या उसके बाद जन्म लेने वाली बेटी को लाभ मिलता है।

Ladli Laxmi Yojana की विशेषताएं

Ladli Laxmi Yojana लड़कियों के सशक्तिकरण के लिए शुरू की गयी है। यह लड़कियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने की पहल करती है इस योजना के तहत पंजीकृत सभी लड़कियों को उनकी शिक्षा के लिए ख़र्चा दिया जाएगा। हालांकि, स्कूल छोड़ने वाली लड़कियों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा। इस योजना के तहत सरकार लड़की के परिवार वालो को लड़की की शादी के लिए 1 लाख रुपये देती है। 18 साल से कम उम्र में अगर कोई लड़की शादी करती है तो उसे Madhya Pradesh लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।

MP सरकार हर साल लड़कियों के जन्म के बाद उनके नाम पर 6000 रुपये की NSC खरीदती है और यह खरीद लगातार पांच वर्षों तक जारी रहती है जब तक कि कुल धनराशि 30,000 रुपये तक नहीं पहुंच जाती।

Ladli Laxmi Yojana आवेदन की प्रक्रिया

Ladli Laxmi Yojana के आवेदन के लिए आपको परियोजना कार्यालय जाना होगा या किसी इंटरनेट साइबर कैफे से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की मदद से आप आवेदन जमा करा सकते हैं। योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले ऑफिसियल साइट पे जाना होगा। उसके बाद होमपेज पर “आवेदन पत्र” पर क्लिक कर “जनसामान्य” पे क्लिक करें।इसके बाद लाड़ली लक्ष्मी योजना हेतु आवेदन पत्र भरे। अंत में सबमिट पे क्लिक कर दें।

क्या कोई माता-पिता या अभिभावक बालिका के जन्म के एक वर्ष पूरे होने के बाद भी योजना आवेदन जमा कर सकते हैं?

Ladli Laxmi Yojana के लिए आवेदन बालिका के जन्म के एक वर्ष के भीतर करना होगा, अगर तब तक आवेदन जमा नहीं किया जाता है, तो आप अपने जिले के कलेक्टर को अपील कर सकते है। ऐसे में कलेक्टर के पास आवेदन को स्वीकार या अस्वीकार करने का पूर्ण विवेक होगा। मध्य प्रदेश के सभी अभिभावक अपनी बेटी का पंजियन Ladli Laxmi Yojana में करवा सकते है।

नवीनतम अपडेट पाने के लिए आप हमारी साइट sarkariiyojana.in को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment