13 अक्टूबर तक कर लें यह काम, वर्ना नहीं आएगी PM Kisan की अगली क़िस्त

PM Kisan: अगर पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आपकी किस्त बंद हो गई है या अभी तक नहीं मिली है और आप उत्तर प्रदेश के किसान हैं तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है। उत्तर प्रदेश कृषि विभाग राज्य के सभी जिलों में 11 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक ‘पीएम किसान समाधान दिवस’ का आयोजन करेगा। यहां आधार नंबर, नाम, खाता, IFSC कोड जैसी समस्याओं का समाधान किया जाएगा, ताकि किसानों को दिसंबर की किश्त मिलने में कोई दिक्कत न हो। आपको बता दें कि अब पीएम किसान पोर्टल पर नया पंजीकरण बंद हो गया है।

पीएम किसान समाधान दिवस

आधार प्रमाणीकरण अनिवार्य होने के कारण, बड़ी संख्या में जिन किसानों का आधार नंबर अमान्य है या आधार कार्ड में लिखे नाम के अनुसार डेटाबेस में नाम नहीं डाला गया है, उनके किसान सम्मान निधि का भुगतान केंद्र द्वारा रोक दिया गया है। सरकार ऐसे मामलों के निस्तारण के लिए तीन दिवसीय अभियान ‘पीएम किसान समाधान दिवस’ के रूप में चलाया जा रहा है।

इसके लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम किसान से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए जिला स्तर पर ‘पीएम किसान समाधान दिवस‘ चलाने का निर्देश दिया है। इस दौरान मुख्य रूप से अवैध आधार और नाम को आधार के हिसाब से ठीक किया जाएगा। जिन किसानों को योजना के तहत कम से कम एक किस्त प्राप्त हुई है, लेकिन उनका आधार कार्ड नंबर या नाम या कोई भी जानकारी गलत फीड है तो ऐसे किसानों का विवरण संबंधित बैंक से प्राप्त किये जाने हैं जिस से उनका सत्यापन कराकर डाटा में सुधार करें | इसके लिए कृषि विभाग एवं अन्य विभागों में कार्यरत कम्प्यूटर आपरेटरों को तीन दिन के लिए सरकारी बीज गोदामों में पदस्थापित किया जाये।

पहले से पंजीकृत किसान जिनकी किश्तें अमान्य आधार, नाम बेमेल या किसी अन्य कारण से रोकी गई हैं या सुधार योग्य कारणों से कुछ किश्तों के बाद रोकी गई हैं, सरकारी कृषि बीज भंडार में एक शिविर आयोजित करके, जैसे रिकॉर्ड किसान, आधार की फोटोकॉपी, बैंक पासबुक की फोटोकॉपी और पात्रता प्रमाणित घोषणा और शेयर प्रमाणित खतौनी और लेखाकार द्वारा आवेदन पत्र प्राप्त करके उनके डेटा के सुधार का काम किया जाएगा। अब पीएम किसान पोर्टल पर नया पंजीकरण बंद हो गया है, इसलिए किसान उक्त शिविर में पंजीकरण के लिए संपर्क नहीं करें।

पीएम किसान समाधान दिवस कैंप कहां लगेगा?

जिन किसानों का आधार नंबर गलत आधार संख्या या आधार के अनुसार नाम सही नहीं होने के कारण पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं मिल रहा है, वे अपने विकास खंड सरकारी बीज गोदाम में 11 से 13 अक्टूबर के बीच 11 बजे आधार कार्ड और जानकारी सुधर के लिए आवेदन कर सकते हैं आप खाता विवरण के साथ एक्सेस करके अपना डेटा ठीक करवा सकते हैं। इसके अलावा कोई और परेशानी होने पर भी किसान समाधान दिवस में मदद ली जा सकती है।

PM Kisan Kist कब आयेगी?

आपको बता दें कि पीएम किसान सम्मान निधि के तहत मोदी सरकार देश के 10 करोड़ से अधिक किसानों को हर साल 2000-2000 रुपये की तीन समान किश्तों में कुल 6000 रुपये दे रही है अगली पीएम किसान सम्मान निधि योजना की अगली किस्त: 1 दिसंबर 2021 से 31 मार्च 2022 के मध्य कभी भी आ सकती है. जानने के लिए हमारे आर्टिकल्स को पढ़ते रहे , अपडेट होते ही हम आपको तुरंत सूचित करेंगे |

पीएम किसान समाधान प्रक्रिया

अगर पीएम किसान किस्त पर लटक रहा है या ट्रांजेक्शन फेल हो रहा है या आधार से संबंधित सुधार में कोई समस्या है तो चिंता करने की जरूरत नहीं है। आपके पेमेंट से लेकर रजिस्ट्रेशन से जुड़ी नई दिक्कतों का समाधान आपके मोबाइल में है। आइए जानते हैं कैसे आप सरकार को अपनी परेशानी बता सकते हैं…

स्टेप 1: सबसे पहले आप पीएम किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

स्टेप 2: . अब आपके सामने एक नए पेज पर Query Form खुल जाएगा। यहां आपको दो विकल्प मिलेंगे। क्वेरी रजिस्टर करें Query Register Form और क्वेरी की स्थिति जानें। यदि आप पहली बार जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो Register Query पर क्लिक करें और आधार नंबर या खाता संख्या या मोबाइल नंबर दर्ज करें और विवरण प्राप्त करें पर क्लिक करें। अब आपके सामने कुछ इस तरह का पेज होगा

स्टेप 3: नए पेज पर अब तक प्राप्त किश्तों की स्थिति प्रदर्शित होगी. इसमें सबसे नीचे शिकायत प्रकार ड्रॉप-डाउन मेनू होगा। यहां उस आइटम का चयन करें जिसके बारे में आप जानकारी चाहते हैं या शिकायत करें और टेक्स्ट बॉक्स में अपनी समस्या दर्ज करें और कैप्चा कोड दर्ज करें। इसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करें आपकी समस्या सरकार तक पहुंच जाएगी।

यह भी पढ़े:

आशा है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आई होगी, इसी तरह की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट sarkariiyojana को बुकमार्क करें।

Leave a Comment