प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021 में आने वाले राज्य और शहर: PMAY List 2021

PMAY List: प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट के अंतर्गत उन लाभार्थियों को शामिल किया गया है जिन्होंने हाल ही में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन किया था | केंद्र सरकार द्वारा लाभार्थियों के सभी दस्तावेजों का सत्यापन कर प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में उनका नाम सम्मिलित किया गया है | देश का कोई भी निवासी जिसने PMAY Yojana के अंतर्गत आवेदन किया है वह आसानी से पीएमएवाई सूची में अपना नाम खोज सकता है | यदि आप भी प्रधान मंत्री आवास योजना लिस्ट में अपना नाम खोजना चाहते है तो आज हम आपको Pradhan Mantri Awas Yojana List 2021 के अंतर्गत अपना नाम खोजने का बहुत ही सरल व आसान तरीका बताने जा रहे हैं|

PMAY List के अंतर्गत इनकम कैटेगरी

आवास योजना के अंतर्गत तीन कैटेगरी के लोगों को लोन दिया जाता है। यह कैटेगरी लोगों के सालाना आय के हिसाब से निर्धारित की जाती है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्य आय वर्ग के लोगों को लोन दिया जाता है। कई बार लोगों के मन में यह सवाल आता है कि हम किस कैटेगरी में आते हैं। तो आइए जानते हैं कि इन वर्गों में कितनी आय वाले लोग आते हैं।

  • आर्थिक कमजोर वर्ग: आर्थिक कमजोर वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹300000 या फिर उससे कम है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग के लोगों को लोन प्रदान किया जाता है।
  • निम्न आय वर्ग: निम्न आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹300000 से ₹600000 तक है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निम्न आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है।
  • मध्य आय वर्ग: मध्य आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹600000 से ₹1800000 तक है। PM Awas Yojana के अंतर्गत मध्य आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट की विशेषताएं

  • इस योजना का लाभ शहरी क्षेत्र के गरीब लोग उठा सकते है |
  • इस योजना के अंतर्गत 2022 तक गरीब वर्गों के लिए 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य केंद्र सरकार द्वारा रखा है |
  • PM Awas Yojana 2021 का लाभ उठाने के लिए शहरी क्षेत्र के MIG I के लिए लाभार्थी की वार्षिक आय 6 लाख से 12 लाख रूपये के मध्य होनी चाहिए.और MIG II के लिए 12 लाख से 18 लाख वार्षिक आय होनी चाहिए |
  • देश के लिचुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करके स्वयं का पक्का घर बनाने के लिए ऋण प्राप्त कर सकते है |
  • देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आय वर्गो को केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत Benefits under 3 components में रखा गया है|

प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित कुछ मुख्य जानकारी

  • प्रधानमंत्री आवास योजना की फंडिंग के लिए नेशनल अर्बन हाउसिंग फंड जो कि 60,000 करोड़ रुपए का है आवंटित किया गया है।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग को इंफ्रास्ट्रक्चर स्टेटस प्रदान किया जाएगा।
  • जीएसटी को 8% से 1% अफॉर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट्स के लिए किया जाएगा तथा 12% से 5% अन्य हाउसिंग प्रोजेक्ट के लिए किया जाएगा।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग फंड के अंतर्गत इनिशियल कॉरपस प्रदान किया जाएगा जो कि 10000 करोड रुपए का होगा।
  • इनकम टैक्स में भी छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट सेक्शन 80-IBA के अंतर्गत प्रदान की जाएगी। जो कि 30 से 60 स्क्वायर मीटर मेट्रो सिटी के लिए होगी तथा 60 से 90 स्क्वायर मीटर नॉन मेट्रो सिटी के लिए होगी।
  • एक अल्टरनेट इन्वेस्टमेंट फंड प्रस्तुत किया जाएगा जो कि 25000 करोड रुपए का होगा।

PMAY में आने वाले राज्य और शहर

  • निम्नलिखित राज्य हैं जिनमें सरकार शामिल है। शहर / शहरों की पहचान की है और योजना के तहत रखे जाने का निर्माण शुरू किया है-
  • छत्तीसगढ़ – 1000 शहर / कस्बे
  • राजस्थान
  • हरियाणा, 38 शहरों और कस्बों में 53,290 घर
  • गुजरात, 45 शहरों और कस्बों में 15,584 घर
  • उड़ीसा, 26 शहरों और कस्बों में 5,133 घर
  • महाराष्ट्र, 13 शहरों और कस्बों में 12,123 घर
  • केरल, 52 शहरों में 9,461 घर
  • कर्नाटक, 95 शहरों में 32,656 घर
  • तमिलनाडु, 65 शहरों और कस्बों में 40,623 घर
  • जम्मू और कश्मीर – 19 शहर / कस्बे
  • झारखंड – 15 शहर / कस्बे
  • मध्य प्रदेश – 74 शहर / कस्बे
  • उत्तराखंड, 57 शहरों और कस्बों में 6,226 घर

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क कीजिये |

Leave a Comment