Svamitva Card ऐसे बनाएं, बैंकों से मिलेगा आसानी से लोन, जाने प्रक्रिया

Svamitva Card: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मध्य प्रदेश में Svamitva Yojana के तहत 1.71 लाख लाभार्थियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अधिकार अभिलेख वितरित किए। इसके बाद पीएम मोदी ने मालिकाना हक योजना के लाभार्थियों से बातचीत की।

पीएम मोदी ने कहा कि ओनरशिप स्कीम से लोगों के लिए बैंकों से कर्ज लेना आसान होगा। ये लोग डिजिलॉकर के जरिए अपना प्रॉपर्टी कार्ड अपने फोन में डाउनलोड कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना सिर्फ कानूनी दस्तावेज उपलब्ध कराने की योजना नहीं है, बल्कि यह आधुनिक तकनीक से देश के गांवों में विकास और विश्वास का नया मंत्र भी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि, इस कोरोना काल में भारत के गांवों ने मिलकर एक लक्ष्य पर काम किया और बड़ी सावधानी से कोरोना महामारी से निपटा। इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि देश उस युग को पीछे छोड़ गया है जहां गरीब एक-एक पैसा, हर एक चीज के लिए सरकार के चक्कर लगाते थे। अब सरकार खुद गरीबों के पास आ रही है और गरीबों को सशक्त बना रही है।

Svamitva Card से ऐसे लें लोन

हर संपत्ति देश के सभी गांवों में ड्रोन की मदद से मैप हो जाएगी। इसके बाद, उस संपत्ति के लोग स्वामित्व अधिकारों को दिए जाएंगे। इस योजना की शुरुआत के बाद, गांव के लोग भी बैंकों से अपनी संपत्ति पर ऋण लेने में सक्षम होंगे। यह स्पष्ट है कि इस योजना के तहत, लोगों को गांवों में उनकी आवासीय भूमि के लिए मालिकाना किया जा रहा है।

केंद्र सरकार मालिकाना योजना के बारे में दावा करती है कि यह योजना ग्रामीणों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाएगी। यदि किसी भी संपत्ति पर दो पक्षों के बीच कोई विवाद है, तो इसे डिजिटल रूप से रिकॉर्ड के कारण जल्द ही हल कर दिया जाएगा। इस योजना की घोषणा 1 फरवरी 2021 को बजट के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सिथारामन ने की थी।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश में स्वामित्व योजना के लाभार्थियों के साथ खेलेंगे और जमीन की स्थिति के बारे में जानकारी होगी। इस अवसर पर, पीएमओ मोदी मालिकाना योजनाओं के तहत ई-प्रॉपर्टी कार्ड 1,71,000 लाभार्थियों को भी वितरित करेंगे। प्रधान मंत्री कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी इस कार्यक्रम में भाग लेंगे। सेंट्रल पंचायती राज मंत्रालय की तरफ से स्वामित्व योजना चल रही है। इस योजना का लक्ष्य ग्रामीण आवासीय इलाकों में रहने वाले लोगों को संपत्ति का अधिकार प्रदान करता है।

पीएमओ पर स्वामित्व योजना भी दी गई है। पीएमओ ने कहा है कि यह शहरी क्षेत्रों जैसे ग्रामीणों से ऋण और अन्य वित्तीय लाभ लेने के लिए वित्तीय संसाधनों के रूप में संपत्ति का उपयोग करने का तरीका रखेगा। पीएमओ के मुताबिक, इसका उद्देश्य नवीनतम सर्वेक्षण ड्रोन प्रौद्योगिकी के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में आवासीय क्षेत्रों को सीमांकित करना है।

Svamitva Card/संपत्ति कार्ड ऐसे प्राप्त करें

गांव में रहने वाले अधिकांश लोगों के पास उनके घर दस्तावेज नहीं हैं। इस योजना का उद्देश्य इस कमी को पूरा करना है। यह एक लाख गुण धारकों को संपत्ति कार्ड डाउनलॉक प्रदान करेगा। वे इसे अपने मोबाइल फोन पर भेजे गए एसएमएस लिंक के माध्यम से बना सकते हैं। इस योजना के लाभार्थियों को एक दिन के भीतर संपत्ति कार्ड की भौतिक प्रति मिल जाएगी।

अपनी संपत्ति का उद्देश्य कार्ड प्राप्त करने के बाद, लोग उस संपत्ति पर ऋण ले सकेंगे। वे गारंटी के रूप में इसका उपयोग करने में सक्षम होंगे। बैंक कई और लाभ के लिए जाने में सक्षम होंगे। इससे गांवों में भूमि विवाद को खत्म करने में मदद मिलेगी।

नवीनतम अपडेट पाने के लिए आप हमारी साइट sarkariiyojana.in को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment