7 th Pay Commission : 1 जुलाई से कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को मिलेगा बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता

7 th Pay Commission : केंद्र की मोदी सरकार देश भर के लाखों लोगों को बड़ी खुशखबरी दे सकती है। सरकार बहुत जल्द महंगाई भत्ते में बड़ा इजाफा करने जा रही है। जिससे कर्मचारियों का लम्बे समय से इन्तजार खत्म होने वाला है। केंद्र सरकार महंगाई भत्ते (DA) को जुलाई महीने में 4 % देने की बात कर रही है। इससे कर्मचारियों का DA 38 फीसदी हो जाएगा।

7 th Pay Commission के तहत जुलाई में बढ़ेगा AICPI इंडेक्स

साल 2022 के लिए महंगाई भत्ते (DA) में पहली वृद्धि की घोषणा मार्च में की गई थी। अब जुलाई में अगला संशोधन AICPI इंडेक्स में वृद्धि के कारण होने की संभावना है। दिसंबर 2021 में AICPI का आंकड़ा 125.4 था। लेकिन जनवरी 2022 में यह 0.3 अंक गिरकर 125.1 पर आ गया। फरवरी 2022 के लिए अखिल भारतीय CPI -IW 0.1 अंक कम होकर 125.0 पर रहा। यह पिछले महीने की तुलना में 0.08 प्रतिशत कम हो गया जबकि एक साल पहले इसी महीने के बीच 0.68 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई थी। मार्च महीने में 1 अंक का उछाल आया था। मार्च के AICPI इंडेक्स के आंकड़े 126 हैं। अगर यह AICPI आंकड़ा 126 से ऊपर जाता है तो सरकार महंगाई भत्ते में में 4 फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है।

7 th Pay Commission में महंगाई भत्ता होगा 38 फीसदी

केंद्र सरकार जुलाई महीने में महंगाई भत्ते (DA) में चार फीसदी की बढ़ोतरी कर सकता है यानी टोटल डीए 38 फीसदी तक पहुंच सकता है। मार्च महीने में AICPI इंडेक्स के आंकड़े जो डीए संशोधन निर्णय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। जुलाई-अगस्त की अवधि में डीए बढ़ोतरी 4 फीसदी के आसपास आ सकती है हालांकि आने वाले तीन महीनों यानी अप्रैल, मई, जून के AICPI के आंकड़ों का अभी पता नहीं चल पाया है।

7 th Pay Commission साल में दो बार बढ़ता है महंगाई भत्ता

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) को साल में दो बार संशोधित किया जाता है। पहला जनवरी से जून तक दिया जाता है जबकि दूसरा जुलाई से दिसंबर तक आता है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 30 मार्च को महंगाई भत्ते (DA) और महंगाई राहत (DR) को 3 प्रतिशत बढ़ाकर 34 प्रतिशत कर दिया था जिससे 1.16 करोड़ से अधिक केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को लाभ हुआ।

DA बढ़ने के बाद कितनी बढ़ेगी सैलरी?

केंद्र सरकार के कर्मचारियों को कर्मचारी के मूल वेतन से डीए की वर्तमान दर को गुणा करके गणना की गई जिसमें 38 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलेगा। बता दें कि यह गणना एक ऐसे कर्मचारी के वेतन के खिलाफ की जाती है जिसका मूल वेतन 18,000 रुपये है। फिलहाल 31 फीसदी डीए की दर से कर्मचारी को 6,120 रुपये डीए मिल रहा है। जुलाई में डीए बढ़ोतरी अगर 4 फीसदी पर लागू की जाती है तो कर्मचारी को 6,840 रुपये का डीए मिलेगा। इसका मतलब है कि नवीनतम डीए बढ़ोतरी के बाद 720 रुपये की वृद्धि की जाएगी।

महंगाई को कम करने के लिए सरकार हर साल जनवरी और जुलाई में डीए बढ़ाती है। इसलिए खुदरा मुद्रास्फीति एक साल के उच्च स्तर पर है इसलिए महंगाई भत्ते (DA) में बढ़ोतरी की संभावना भी ज्यादा है। अप्रैल में CPI आधारित मुद्रास्फीति आठ साल के उच्च स्तर 7.79 प्रतिशत पर रही।

close button