7th Pay Commission : कर्मचारियों को होंगे 3 बड़े फायदे, वेतन में होगा 70000 रुपये तक का फायदा

7th Pay Commission : केंद्रीय कर्मचारियों को केंद्र सरकार (Central Government) दो बड़े तोहफे देने के बाद तीसरी एक और खुशखबरी दे सकती है। मोदी सरकार महंगाई भत्ता (DA) और एरियर में लाभ देने के बाद वही फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) में 3% की वृद्धि कर रही है। अगर सरकार ऐसा फैसला लेती है तो कर्मचारियों के वेतन में 20000 से 70000 तक का फायदा हो सकता है। कर्मचारियों को इसकी वृद्धि कब होगी इसको लेकर अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

केंद्रीय कर्मचारियों को HRA में होगी 3 % की बढ़त

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 31 फीसदी से बढ़कर 34 फीसदी हो गया है और अब उम्मीद है कि जल्द ही हाउस रेंट अलाउंस में भी 3 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है लेकिन ऐसा तब होगा जब डीए 50 फीसदी होगा और फिर HRA 30%, 20% और 10% हो जाएगा। वर्तमान में केंद्रीय कर्मचारियों को 27%, 18% और 9% की दर से HRA मिल रहा है।

पिछले साल जुलाई में HRA को संशोधित किया गया था जब DA 25% को पार कर गया था और जब जुलाई 2021 में DA को बढ़ाकर 28 प्रतिशत कर दिया गया था भले ही DA 28 % को पार कर गया हो। अब महंगाई भत्ता 34 फीसदी हो गया है ऐसे में माना जा रहा है कि HRA फिर से बढ़ाया जा सकता है।

HRA में 3% का रिवीजन किया जा सकता है

केंद्रीय कर्मचारियों का डीए बढ़ने के बाद HRA में 3% रिवीजन किया जा सकता है जिसके बाद अधिकतम HRA रेट 27 फीसदी से बढ़कर 30 फीसदी हो जाएगा और सैलरी बेनिफिट 20000 रुपये होगा। DoPT के मुताबिक हाउस रेंट अलाउंस (HRA) में संशोधन केंद्रीय कर्मचारियों का HRA महंगाई भत्ते के आधार पर किया जाता है। 2016 में जारी इसी मेमोरेंडम में कहा गया था कि डीए बढ़ने के साथ हाउस रेंट अलाउंस (HRA) को भी रिवाइज किया जाएगा लेकिन एक शर्त होगी कि इसके लिए डीए का 50 फीसदी से ज्यादा होना जरूरी है। अगर ऐसा होता है तो HRA 30 %, 20% और 10% होगा। साल 2021 में 1 रिवीजन HRA हाइक हो चुका है लेकिन दूसरा कब होगा इसका कुछ पता नहीं।

7th Pay Commission – कर्मचारियों का बढ़ेगा फिटमेंट फैक्टर

कर्मचारी के मूल वेतन की गणना 7वें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के फिटमेंट फैक्टर 2.57 को गुणा करके की जाती है। अगर फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना किया जाए तो मूल वेतन में 8000 का लाभ होगा और यह 18000 से बढ़कर 26000 हो जाएगा। इससे लगभग 52 लाख कर्मचारियों को फायदा होगा।

वही केंद्र सरकार के कर्मचारियों का मूल वेतन भी बढ़ सकता है। केंद्रीय कर्मचारियों को लंबे समय से न्यूनतम वेतन 18,000 रुपये से बढ़ाकर 26,000 रुपये और फिटमेंट फैक्टर 3.68 में 2.57 गुना बढ़ा दिया गया है। इसे बढ़ाकर 3.68 गुना करने की कोशिश की जा रही है। अगर मोदी सरकार डीए के बाद फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने पर विचार करती है तो वेतन में 50 हजार तक की बढ़ोतरी होगी. इससे पहले, न्यूनतम मूल वेतन 6,000 रुपये से बढ़ाकर 18,000 रुपये किया गया था।

इससे जुड़ी अधिक जानकारी जानने के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें।

close button