Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

PM Kusum Yojana Form [लिंक]: फ़्री सोलर पंप के लिए इस तरह भरें आवेदन फॉर्म

भारत सरकार (Government of India ) किसानों के लिए कई खास योजनाएं चलाती है। कुसुम योजना (Kusum scheme) भी है। इस PM Kusum Yojana का उद्देश्य बंजर भूमि का उपयोग करना और किसानों की आय बढ़ाना है। इन्हीं में से एक योजना है किसान सौर ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान ( Kisan Solar Energy Suraksha and Utthan Maha Abhiyan) यानि KUSUM। इस संबंध में भारत के कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि PM-KUSUM के तहत 20 लाख किसानों को स्टैंडअलोन सोलर पंप (standalone solar pumps) दिए जाएंगे.

कुसुम सोलर पंप वितरण योजना (Kusum Solar Pump Distribution Scheme) के पहले चरण में सरकार डीजल से चलने वाले 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों में परिवर्तित करेगी. Kusum Solar Subsidy Scheme के तहत किसानों को दोहरा लाभ दिया जाएगा। Kusum scheme के तहत किसान बिजली का इस्तेमाल सिंचाई के लिए कर सकेंगे और बची हुई बिजली को ग्रिड को बेचकर पैसा कमा सकेंगे। Kusum Solar Subsidy Yojana से 28000 मेगावाट अतिरिक्त बिजली पैदा की जाएगी।

PM Kusum Yojana Form

Free Solar Pump PM Kusum Yojana Form

Kusum Solar Pump Scheme,के लिए सरकार द्वारा 50 हजार करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। Kusum Solar Subsidy Yojana के तहत आने वाले 10 वर्षों में सरकार ने 17.5 लाख डीजल पंप और तीन करोड़ कृषि पंपों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों में बदलने का लक्ष्य रखा है

  • Kusum Yojana (PMKY) का पूरा नाम किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महा अभियान (Kisan Energy Security and Upliftment Maha Abhiyan) है।
  • कुसुम सोलर पंप वितरण योजना (Kusum Solar Pump Distribution Scheme) के तहत सरकार देश के तहत तीन करोड़ पंप चलाएगी।
  • इस योजना के तहत किसानों को लागत का केवल 10% ही देना होगा।
  • सरकार ने 2022 तक देश में 3 करोड़ पंप बिजली या डीजल से चलाने की बजाय सौर ऊर्जा से चलाने का लक्ष्य रखा है।
  • Kusum Yojana पर होने वाले खर्च में राज्य सरकार और केंद्र सरकार का बराबर का हिस्सा होगा।
  • Kusum Solar Pump Distribution yojana (PM KY) के प्रथम चरण में डीजल से चलने वाले 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों में बदला जाएगा.
  • कुसुम योजना (pmky) से किसानों को दोहरा लाभ मिलेगा, जो हम आपको पहले ही ऊपर बता चुके हैं।

Kusum Yojana Benefits

  • Kisan भाइयों द्वारा सिंचाई पर खपत होने वाली बिजली या डीजल नहीं होगा, उसमें एक बड़ी बचत होगी।
  • डीजल से चलने वाले पंपों में कमी आएगी और सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों में बढ़ोतरी होगी, जिससे सिंचाई की समुचित व्यवस्था हो सकेगी।
  • Kusum Yojana के आने से गरीब Farmer भी अपनी खेती की पूरी तरह सिंचाई कर सकेंगे जिससे उनकी फसल काफी अच्छी होगी।
  • पहले पैसों की कमी के कारण इतने डीजल से किसान ठीक से सिंचाई नहीं कर पाते थे, लेकिन Kusum Yojana (PMKY) के आने से यह समस्या भी दूर हो जाएगी।
  • Kusum Solar Pump Scheme (PMKY) के आने से डीजल की खपत कम हो जाएगी और डीजल के स्रोत भी आने वाली पीढ़ी के लिए सुरक्षित रहेंगे।
  • अत्यधिक बिजली पैदा कर किसान इसे ग्रिड को बेच सकेंगे और इससे आय अर्जित कर सकेंगे।

एक तो उन्हें सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली (Free Bijli Scheme) मिलेगी और दूसरी अगर वे अतिरिक्त बिजली बनाकर ग्रिड को भेजेंगे तो उनकी कमाई भी होगी। अगर किसी किसान के पास बंजर जमीन है तो वह उसका उपयोग सौर ऊर्जा उत्पादन के लिए कर सकता है। इस M Kusum Yojana से उन्हें भूमि से भी आमदनी होगी

Documents Required

आधार कार्ड
️ बैंक खाता पासबुक
️ जमीन के दस्तावेज
️मोबाइल नंबर
️ एड्रेस प्रूफ
️पासपोर्ट साइज फोटो

PM Kusum Yojana Form

किसान को सबसे पहले Pradhan mantri Kusum Solar Pump Yojana की आधिकारिक वेबसाइट mnre.gov.in पर जाना होगा!
अब इस वेबसाइट के मेन्यू में “Kusum Solar Pump Yojana Online Application” पर क्लिक करें।
इसके बाद खुलने वाले अगले पेज पर पूछी गई सारी जानकारी भरकर सबमिट कर दें !
इस तरह किसान आसानी से PM Kusum Yojana (Solar Pump) में आवेदन कर सकते हैं।

किसान रहें सावधान

मंत्रालय द्वारा सभी हितधारक किसानों को एतद्द्वारा सूचित किया जाता है कि Pradhanmantri Kusum Yojana संबंधित राज्यों में कार्यान्वयन एजेंसियों के माध्यम से कार्यान्वित की जा रही है। (सौर पंप) ऐसी एजेंसियों का विवरण MNRE की वेबसाइट mnre.gov.in पर उपलब्ध है। MNRE (Solar Energy)योजना के तहत लाभार्थियों को अपनी किसी भी वेबसाइट के माध्यम से पंजीकृत नहीं करता है।

और इसलिए इस योजना के लिए PM Kusum Yojana registration portal होने का दावा करने वाला कोई भी पोर्टल संभावित रूप से भ्रामक और कपटपूर्ण है। किसी भी संदिग्ध धोखाधड़ी वाली वेबसाइट पर, यदि किसान द्वारा दौरा किया जाता है, तो इसकी सूचना MNRE (Solar Pump)को दी जा सकती है।

Free Solar Pump InstallationClick Here
Home PageClick Here
close button