kisan 11th installment 2022: अगली किस्त में कितनी देरी?

kisan 11th installment 2022: Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana (www.pmkisan.gov.in ) एक सरकारी योजना है जिसके माध्यम से सभी छोटे और सीमांत किसानों को न्यूनतम आय सहायता के रूप में हर चार महीने में 2,000 रुपये की तीन समान किश्तों में 6,000 रुपये प्रति वर्ष तक मिलते हैं। 75,000 करोड़ रुपये की इस योजना का लक्ष्य 125 मिलियन किसानों को कवर करना है, भले ही भारत में उनकी जोत का आकार कुछ भी हो

हालांकि अभी तक किसानों के खातों में 11th installment PM-Kisan Yojana नहीं भेजी गई है। पिछले साल किसानों को उनके खातों में April-July installment 15 मई को मिली थी। गौरतलब है कि PM Kisan eKYC को पूरा करने की आखिरी तारीख 31 मई है। पिछले साल यह प्रक्रिया अनिवार्य नहीं थी।

kisan 11th installment

kisan 11th kist में देरी के 5 वजह?

यहां एक नजर PM-Kisan Yojana 11th kist में देरी के संभावित 5 कारणों पर

eKYC

पिछले साल के विपरीत, इस साल pm kisan eKYC process को अनिवार्य कर दिया गया है और इसे पूरा करने की आखिरी तारीख 31 मई है, जो देरी का कारण हो सकता है। PM Kisan portal के माध्यम से pm kisan KYC किया जा सकता है।

भूमि जोत की सीमा

शुरुआत में, केवल 5 एकड़ से कम भूमि वाले किसान ही योजना के तहत धन प्राप्त करने के पात्र थे। हालाँकि, यह अब लागू नहीं है और सभी किसान अब पात्र हैं। यह बदलाव देरी का कारण भी हो सकता है।

अपात्र हितग्राहियों से धन वसूली ( Money recovery from non-eligible beneficiaries)

pmkisanKYC पूरा होने के बाद, non-eligible beneficiaries को योजना के तहत प्राप्त धन वापस करने के लिए कहा जाएगा। pm kisan refund online link, pm-kisan portal के माध्यम से की जा सकती है।

Kisan Credit Card में परिवर्तन

Kisan Credit Card (KCC) भारत सरकार की एक योजना है जो किसानों को समय पर ऋण की सुविधा प्रदान करती है। इस योजना को pradhanmantri kisan scheme से जोड़ा गया है। PM Kisan Scheme के माध्यम से 4 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर 3 लाख रुपये का ऋण प्राप्त कर सकते हैं।

कागजी कार्रवाई हटाना ( Removal of paperwork)

प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए, सरकार ने भौतिक रूप से सत्यापन कराने की आवश्यकता को कम कर दिया है। बल्कि किसान अपने Aadhaar Card का इस्तेमाल कर घर बैठे ही योजना के लिए pm kisan yojana registration online link करा सकते हैं।

kisan 11th installment 2022, ऐसे होगी छटनी

Bharat Sarkar की महत्त्वाकांक्षी योजना Prime Minister Kisan Samman Nidhi का गलत लाभ लेने वाले किसानों की अब खैर नहीं है। eligible farmers list 2022 को जोड़ने और ineligible farmers list 2022 को वंचित करने के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर pm kisan social audit किया जाएगा जिसके लिए कृषि विभाग ने ग्राम पंचायतवार कलैण्डर तैयार किया है

प्रभारी उप संचालक कृषि एवं भूमि संरक्षण अधिकारी डॉ. राजमंगल चौधरी ने बताया कि kisan social audit के लिए गठित कमेटी में कृषि विभाग, लेखाकार, सचिव, ग्राम पंचायत एवं ग्राम विकास अधिकारी के कर्मचारी social audit का कार्य पूरा करेंगे। उन्होंने बताया कि 9 मई से 30 जून तक ग्राम पंचायतवार कलैण्डर (Gram Panchayat wise calendar )तैयार कर लिया गया है:

  • पहले चरण में ग्राम सभा के सार्वजनिक स्थल पर सूची चस्पा की जायेगी और
  • दूसरे चरण में लाभुकों को पढ़कर सुनाया जायेगा और
  • अगले तीसरे चरण में अपात्र/छूटे पात्र हितग्राहियों की सूची तैयार कर समस्त कर्मचारियों के हस्ताक्षर कराये जायेंगे।
  • चौथे चरण में पात्र लाभार्थियों को पीएम किसान पोर्टल के ओपन सोर्स पर पंजीकृत किया जाएगा। सूची को ग्राम सभा में पढ़ते समय ऐसे हितग्राहियों को चिन्हित किया जायेगा जो भूमिहीन या मृत हो गये हैं या अन्य कारणों से अपात्र हैं।

भूमिहीन होने की दशा में सचिव लेखापाल एवं हितग्राहियों की मृत्यु के संबंध में ग्राम पंचायत का प्रमाण पत्र देगा। ऐसे परिवारों की सूची बनाएं जिनमें पति, पत्नी और नाबालिग बच्चे एक से अधिक लोगों की ओर से PM Kisan benefit ले रहे हैं, केवल एक ही मिलेगा।

पोर्टल पर गांवों की तहसीलवार मैपिंग कुछ त्रुटियों के कारण कृषि एवं राजस्व विभाग के अधिकारी आपसी समन्वय से ऐसे गांवों का वास्तविक तहसील से सोशल ऑडिट करेंगे जब एक तहसील के गांव दूसरी तहसीलों में प्रदर्शित होंगे. उन्होंने कहा कि वे सभी भूमिधारी किसान परिवार जिनके नाम पर उनके पास खेती योग्य भूमि है, योजना के पात्र हैं।

close button