अब सभी किसानों का होगा सोशल ऑडिट, pm kisan social audit kya hai?

pm kisan social audit: Narendra Modi सरकार ने 24 फरवरी 2019 को PM Kisan Samman Nidhi Yojana की शुरुआत की। इस योजना का मकसद देश के किसानों की आर्थिक मदद सीधे पहुँचाना है। इस योजना के तहत राज्य में हर वर्ग के किसानों का सोशल ऑडिट (PM Kisan Social Audit 2022) किया जाएगा ताकि सही जरूरतमंद को ही सालाना 6000 की क़िस्त (PM Kisan 6000 installment) का लाभ दिया जा सके।

इस दौरान योजना से जुड़े किसानों का वेरिफिकेशन (Kisan Verification) किया जाएगा। यह कार्य ग्राम सभा स्तर पर पंचायत राज संस्थाओं के सहयोग से किया जायेगा, जिससे कि ग्राम स्तर पर कोई कमी या चूक न हो। इस संबंध में कृषि सचिव डॉ. एन. सभी डीएम को भी सरवन कुमार ने निर्देश दिया है।

क्यों होगा सोशल ऑडिट?

pm Kisan Yojana के तहत लाभार्थियों के परिवारों की पूरी जानकारी सरकार जुटाएगी। जिसे सोशल ऑडिट (pm kisan social audit) कहते हैं। इसके माध्यम से सभी अपात्र हितग्राही इस योजना के लाभ से वंचित हो जायेंगे। इस योजना के तहत सभी पुराने लाभार्थी के परिवार का सोशल ऑडिट किया जाएगा। अब अगर कोई व्यक्ति Prime Minister Kisan Samman Nidhi Scheme के तहत आवेदन करता है तो उसे भी अपने परिवार से जुड़ी सभी जरूरी जानकारी सरकार को देनी होगी।

kisan social audit
kisan social audit

PM Kisan Social Audit Process 2022

शासन के निर्देशानुसार Pm Kisan Samman Nidhi Yojana के लाभार्थियों की सूची संबंधित गांवों को भेजकर PM Kisan Social Audit Process कराया जायेगा। गांवों में सूची सार्वजनिक होने के बाद पता चलेगा कि कौन पात्र है और किसको गलत फायदा हो रहा है। इसके लिए सूची प्रखंड कृषि अधिकारियों को भेज दी गई है. जो जल्द ही गांवों तक पहुंच जाएगा। जो पात्र नहीं होंगे उनका नाम सूची से हटा दिया जाएगा

कैसे होगा pm kisan social audit 2022?

इस योजना का लाभ उठाने के लिए भूमि की अद्यतन रसीद को साइट पर अपलोड करना होगा। इससे पहले वंशावली और एलपीसी पर भी लाभ मिलते थे। सोशल ऑडिट में पति-पत्नी या बच्चे के नाम पर अलग-अलग लिए जा रहे लाभों का पता चलेगा. परिवार में केवल एक सदस्य को ही लाभ मिलना है।

आधार कार्ड के सत्यापन से आयकर दाता का प्रमाण मिलेगा और उसी के आधार पर लाभार्थियों के नाम भी काटे जाएंगे, जबकि कई नए किसानों के नाम भी जमा किए जाएंगे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों के बीच इस योजना को और अधिक पारदर्शी बनाना है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से बड़ी संख्या में अपात्र लोगों को भी लाभ मिला है। अब ऐसे लोगों की पहचान करने के बाद उनका काम लाभार्थियों की सूची से हटा दिया जाएगा। इसका सोशल ऑडिट कराया जाएगा। योजना से लाभान्वित होने वाले लोगों की सूची संबंधित में चस्पा की जायेगी। लाभार्थियों के नाम भी सरपंच के माध्यम से ग्रामीणों के सामने सार्वजनिक किए जाएंगे। ताकि यह पता चल सके कि कौन पात्र है और किसे गलत तरीके से योजना का लाभ मिला है।

(नया अपडेट) घर बैठे होगा पीएम किसान सोशल ऑडिट?

हम भारत के सभी राज्यों के सभी किसान भाइयों और बहनों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत जारी PM Kisan Samman Nidhi Yojana Social Audit के बारे में बता रहे हैं:

  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत सभी लाभार्थी किसानों का pm kisan social audit सरकार द्वारा जल्द किया जाएगा
  • आपको बता दें कि पीएम किसान सोशल ऑडिट के तहत किसानों के घर घर जाकर योजना के लिए उनकी योग्यता /पात्रता (PM kisan Yojana Eligibility) की जांच की जाएगी
  • इस योजना के तहत की जाने वाली पात्रता जांच मेंअयोग्य /अपात्र पाये जाने वाले किसानों की लाभार्थी राशि को बंद कर दिया जायेगा
  • PM kisan online form भरते समय पूरे परिवार की जानकारी देनी होगी
  • 1 परिवार के केवल 1 सदस्य को ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा अर्थात पति पत्नी अलग अलग इस योजना क्क लाभ नहीं ले सकते हैं इस बारे में और जानें तथा
  • साथ ही योजना के तहत 6000 रुपये का लाभ प्राप्त करने वाले सभी लाभार्थियों की गहन जांच की जाएगी और जो किसान पात्र पाए जाएंगे उन्हें ही इस योजना का लाभ (PM Kisan Installment) दिया जाएगा।

PMKSNY benefits

कौन ले सकता है इस योजना का फायदा

परिवार में पति-पत्नी में से कोई एक, जिसके नाम पर जमीन है। यदि 18 वर्ष से कम आयु का कोई पुत्र या पुत्री है, तब भी उन्हें पति और पत्नी के साथ एक इकाई के रूप में माना जाएगा। 18 वर्ष से अधिक आयु का पुत्र या पुत्री, जिसके नाम पर भूमि हो और जो माता-पिता से अलग निवास करता हो। इसे एक अलग इकाई माना जाता है और यह इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र है। कई परिवारों में पति-पत्नी दोनों इस योजना का लाभ उठाते रहे हैं। पात्रों की सूची से उनमें से एक का नाम हटा दिया जाएगा। इस तरह की अयोग्यता की पहचान Social Audit PM kisan में की जाती है।

ये लोग नहीं उठा सकते फायदा

सरकारी कर्मचारी, 10,000 रुपये से अधिक के पेंशनभोगी, टैक्स रिटर्न फाइल करने वाले, टैक्स रिटर्न फाइल करने वाले इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं। केंद्र सरकार अब तक किसान सम्मान निधि की pm kisan yojana 10 kist जारी कर चुकी है। काफी अपात्र लोगों की pm kisan yojana 11th kist रोक दी जाएगी । उनके खातों में पहले जमा की गई राशि को भी वसूल किया जा सकता है। आधिकारिक रूप से सुचना को जानने के लिए आपको आधिकारिक पोर्टल (pmksny official website) पर जाना होगा। जैसे ही इस बारे में कोई लेटेस्ट जानकारी प्रपात होगी हम आपको तुरंत अपडेट करंगे।

close button