pm kisan 11th 2000 installment when?

pm kisan 11th 2000 installment date: PM Kisan Scheme के तहत बहुत सारे लाभार्थी किसानों को योजना की 11वीं किस्त का बेसब्री से इंतजार है। लाभार्थियों के बैंक खाते में इस योजना की 10 installment भेजी जा चुकी है। वर्ष 2021 में Apply online for Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana pmkisan.gov.in के तहत केंद्र सरकार ने कुछ बदलाव किये हैं।

बदले हुए नियमों के अनुसार, अब pmkisan की 11वीं किस्त का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को योजना के तहत अपनी ई-केवाईसी (e-KYC) पूरी करवानी होगी। यानी कि अब किसानों को नए नियमों का पालन करते हुए आवेदन करना होगा और केवल तभी किसान योजना की 11वीं किस्त का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

PM Kisan eKYC पूरी होने के बाद ही लाभार्थी योजना की Pm Kisan 11th kist का लाभ प्राप्त कर पाएंगे और बिना ई-केवाईसी के किसानों की किस्त का पैसा रुक सकता है। जल्द ही पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 11वीं किस्त का पैसा किसान लाभार्थियों के बैंक खाते में आने की उम्मीद जताई जा रही है

pradhanamntri Kisan samman nidhi yojana के ऑफिसियल पोर्टल पर जानकारी दी गयी है कि आधार आधारित ओटीपी प्रमाणीकरण के लिए आवेदक किसानों को किसान कॉर्नर में Pm Kisan Yojana e-Kyc के विकल्प पर क्लिक करके प्रक्रिया पूरी करनी होगी और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के लिए अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र पर जाना होगा। आवेदक ये काम घर बैठे आसानी से अपने मोबाइल या कंप्यूटर या लैपटॉप की मदद से पूरा कर सकते हैं।

pm kisan 11th 2000 installment when?

ये प्रश्न किसानों के दिमाग में काफी समय से चल रहा है की आखिर क़िस्त का पैसा कब उनके खातों में ट्रांसफर किये जायेगा। आधिकारिक रूप से इसके कोई ऑफिसियल पुस्टि नहीं की गई है लेकिन असर हैं की जल्द ही आपके खाते में pm kisan 11th kist आने वाली है

pm kisan 11th

इसके लिए आपको समय रहते पीएम किसान योजना की योग्यताओं (pm kisan yojana eligibility )को पूरा करना होगा. घबराएं नहीं जल्द ही सरकार आपके खाते में pm kisan 11th kist ka paisa transfer करने वाली है। जैसे ही कोई pm kisan yojana latest update 2022 मिलता है हम आपको तुरंत सूचित करेंगे।

PM Kisan eKYC करने की प्रक्रिया

आधार आधारित ओटीपी वेरिफिकेशन के लिए आवेदक को किसान कॉर्नर के अंतर्गत ‘Pm Kisan ekyc Update 2022’ विकल्प पर क्लिक करना होगा। बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन के लिए आवेदक को अपने निकटतम सीएससी केंद्र पर संपर्क करना होगा। इसके अलावा, आवेदक घर बैठे ही योजना के तहत pm Kisan ekyc online process @pmkisan.gov.in कर सकते हैं और यह कार्य आवेदक अपने मोबाइल, लैपटॉप या कंप्यूटर का उपयोग करके पूरा कर सकते हैं।

केवाईसी करने के लिए सबसे पहले आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करके pmkisan.gov.in पोर्टल पर जाना होगा। इसके बाद आवेदक को Pm Kisan Ekyc Documents के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके अलावा, आवेदक घर बैठे ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अपनी किस्त का स्टेटस भी आसानी से चेक कर सकते हैं।

Check 11th Kist List 2022

सबसे पहले आवेदक को पीएम किसान योजना की ऑफिसियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in पर जाना होगा। अब होमपेज पर आवेदक को फार्मर्स कॉर्नर के अंतर्गत PMKisan Samman Nidhi Yojana List (PMKISAN) के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आवेदक को ड्रॉप डाउन लिस्ट में से अपना राज्य, जिला, उप जिला, ब्लॉक और अपने गांव का चयन करना होगा। उसके बाद आवेदक को ‘गेट रिपोर्ट’ पर क्लिक करना होगा।
अब कंप्यूटर स्क्रीन पर लाभार्थी सूची प्रदर्शित हो जाएगी और आवेदक इस pm kisan suchi 2022 में अपना नाम चेक कर सकते हैं।

pm kisan yojana fake beneficiary list 2022

PM Kisan Samman Nidhi Yojana को लेकर एक बड़ा खुलासा सामने आया है. उत्तर प्रदेश में अब तक इस योजना के तहत 3 लाख 15 हजार 10 fake beneficiaries पाए जा चुके हैं, जो अब तक इस योजना का लाभ उठा रहे थे। लेकिन अब ऐसे लोगों से दी जाने वाली राशि की वसूली की जाएगी. मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र ने सभी जिलाधिकारियों को मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

यूपी में अब तक इस योजना के तहत 2.55 करोड़ किसानों को कम से कम एक बार PM Kisan Samman Nidi का लाभ दिया जा चुका है। इनमें से 6.18 लाख किसान ऐसे हैं जिनके डेटाबेस में उनके आधार नंबर में त्रुटियां या आवेदन में अशुद्धि थी। ऐसे लोगों को एक किश्त मिलने के बाद भी दूसरी किस्त नहीं मिल पा रही है।

किश्त नहीं मिल रही तो क्या करें

वैसे तो ऐसे लोगों के डाटा में सुधार किया जा रहा है, लेकिन अगर आपको भी इस योजना के तहत एक के बाद एक किस्त या कोई किस्त नहीं मिली है तो आप इस योजना के तहत दिए गए दस्तावेजों की जांच कर सकते हैं. इसके अलावा आप PM Kisan Portal पर जाकर अपने आवेदन में सुधार कर सकते हैं। वहीं मुख्य सचिव ने निर्देश दिया है कि 30 जून तक राजस्व एवं कृषि विभाग की टीम बनाकर आधार अवैध, नाम बेमेल और नए आवेदनों का सत्यापन कर लिया जाए.

Leave a Comment

close button