pm kisan yojana uttar pradesh : 3 लाख से अधिक किसानों को करना होगा पैसा वापस, चेक लिस्ट?

pm kisan yojana uttar pradesh: पीएम किसान सम्मान निधि योजना (pm kisan yojana uttar pradesh) को लेकर कई तरह का फर्जीवाड़ा सामने आया है। इस योजना में जांच के दौरान अभी तक 3 लाख 15 हजार 10 लाभार्थी अपात्र पाए गए हैं। इन उम्मीदवारों से अब तक दी हुई राशि वापस कराई जाएगी। मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र ने कहा इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं।

PM Kisan Yojana में इन लाभार्थियों को नहीं मिलेगी किस्त

पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) में अब तक 2. 55 करोड़ किसानों को कम से कम एक बार लाभ मिल चुका है। इनमें से 6.18 लाख किसान ऐसे हैं जिनके डेटाबेस में उनका आधार नंबर गलत है या आधार कार्ड और आवेदन पत्र के नाम में भिन्नता दिखाई दे रही है जिसकी वजह से ऐसे लोगों को योजना की अगली किस्त नहीं मिल सकेगी। जिला प्रशासन के प्रयासों से कुछ लोगों का डेटाबेस सुधारा जा चुका है।

pm kisan yojana uttar pradesh

PM Kisan Yojana में अब तक 53 % लाभार्थियों ने कराया e- KYC

पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) में अब बिना pmkisanekyc के किसी भी किस्त का लाभ नहीं दिया जाएगा। केंद्र सरकार ने सभी लाभार्थियों का pm kisan e kyc 31 मई तक कराने का निर्देश दिया है। बता दें अभी तक सिर्फ 53 फीसदी लाभार्थियों ने pm kisan e-kyc करा लिया है। पीएम किसान पोर्टल या CSS केंद्र पर जाकर फ्री में pm kisan kyc करा सकते हैं। जिन किसानों का e kyc pm kisan नहीं होगा उन्हें पीएम किसान की pm kisan next 11th kist का लाभ नहीं मिलेगा।

PM Kisan Yojana में 30 जून तक कराएं निस्तारण

जिन लाभार्थियों के डेटाबेस में कोई गड़बड़ी है। किसी का आधार कार्ड नंबर गलत है, आधार कार्ड और आवेदन पत्र के नाम में भिन्नता दिखाई दे रही है। इस तरह की जो भी डेटाबेस में गलती नजर आ रही है उसे सही करवाने का 30 जून तक का समय दिया गया है। इससे पहले सभी आवेदक अपना आवेदन पत्र सही कर लें। वरना पीएम किसान लाभार्थी के खाते में 11 वीं किस्त (PM Kisan 11th Installment) का लाभ नहीं मिलेगा।

close button