PM Mudra Loan: बिना गारंटी 10 लाख का सरकारी लोन, ऐसे भरें MUDRA Loan Form

PM Mudra Loan Application Form: जैसे कि हम सभी जानते हैं कि देश में युवाओं को रोजगार के अवसर देने के उदेश्य से केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा समय-समय पर कई कल्याणकारी योजनाएं (Sarkari Yojana) चलाई जाती हैं। इन्हीं योजनाओं में से एक योजना है “PM Mudra Loan Yojana”। इस योजना के तहत केंद्र सरकार युवाओं को खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए कुल 10 लाख रुपये तक का Loan बिना गारंटी के मुहैया कराते हैं।

Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 8 अप्रैल 2015 में शुरू की गयी थी। Mudra Loan Scheme से सम्बंधित जानकारी के अनुसार, Mudra Loan के लाभार्थी लिए गए ऋण को चुकाने में अनुशासित हैं। इस स्कीम के तहत लाभार्थियों को दिए गए Loan में NPA बाकी लोन के मुकाबले बहुत कम है। Media Reports द्वारा जारी की गयी रिपोर्ट के अनुसार, इस साल इस PM Mudra Loan Scheme के तहत लिए गए लोन का NPA पूरे Banking Sector के NPA से लगभग आधा है।

PM Mudra Loan

इस बार PM Mudra Loan में NPA है कम

जानकारी के अनुसार, जब से PM Mudra Loan Scheme शुरु हुई है उसके बाद से अब तक Mudra Loan के तहत NPA कुल 46,053.39 करोड़ रुपये रहा है। ऐसे में NPA की संख्या 3.38% रही है और अगर पूरे Banking Sector की बात की जाये तो पूरे बैंकिंग सेक्टर में NPA कुल 5.97% रहा है। ऐसे में ये आंकड़े काफी अच्छे हैं, क्योंकि पिछले कुछ समय से कोरोना महामारी और वैश्विक मंदी के चलते NPA कम होना अच्छी खबर है

जानकारी के अनुसार, Mudra Rin Yojana के तहत 8 अप्रैल 2015 से जून 2022 तक जिन बैंकों ने लोन दिया है, उनका NPA या बैड लोन कुल 46,053.39 करोड़ रुपये रहा है। देखा जाये तो यह इस योजना के तहत दिए गए कुल लोन का मात्र 3.38% है। इसके अलावा अगर पूरे बैंकिंग सेक्टर की बात की जाये तो इस साल यानि की मार्च 2022 के अंत में यह 5.97% था। जैसे की हम कि कोविड-19 महामारी के चलते छोटे बड़े व्यवसायों को बहुत जूझना पड़ा था और उस दौरान सबसे ज्यादा सूक्ष्म और लघु उद्योग ही प्रभावित हुए थे।

बैंकिंग सेक्टर के NPA में सुधार

जानकारी के अनुसार वित्त वर्ष 2021-22 में Banking Sector के NPA में बहुत कमी आयी है। अगर पिछले कई सालों से इस बार के NPA की तुलना की जाये तो यह 5.97 फीसदी रहा जो कि काफी बेहतर है। रिपोर्ट्स के अनुसार वर्ष 2020-21 में NPA 7.3% था। इसके अलावा साल 2019-20 में 8.20%, साल 2018-19 में 9.1%, साल 2017-18 में 11.2%, साल 2016-17 में 9.3% और साल 2015-16 में 7.5% था। इन सभी आंकड़ों से तुलना करके आसानी से जाना जा सकता है कि इस बार वित्त वर्ष 202122 का NPA आंकड़ा पिछले 6 वर्षों में सबसे बेहतर रहा है, जो कि Banking Sector के लिए बहुत अच्छी खबर है।

जानें कितनी श्रेणियों में दिए जाते हैं Mudra Loan

जैसा कि सभी को पता होगा कि Micro Unit Development & Refinance Agency (MUDRA) पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किया गया था। इस स्कीम के तहत, गैर-कॉर्पोरेट, गैर-कृषि, लघु और सूक्ष्म उद्योग को ऋण प्रदान किया जाता है। आमतौर पर इसे PM Mudra Yojana के नाम से जाना जाता है। सरकार की इस स्कीम के तहत 3 श्रेणियों में ऋण दिया जाता है, जो इस प्रकार है- शिशु, किशोर और तरुण

जिनमें Sishu Loan श्रेणी के तहत 50,000 रुपये तक का Loan दिया जाता है, Kishor Loan श्रेणी के तहत 50,001-5 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है और Tarun Loan श्रेणी के तहत 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है। इन सभी श्रेणियों में से सबसे कम NPA, Sishu Loan का रहा है जो केवल 2.25% रहा है। इसके साथ ही दूसरे स्थान पर 2.29% के साथ Kishor Loan और इसके साथ ही Tarun Loan का NPA 4.49% रहा है।

Agromet Advisory: यूपी के किसानों के लिए जरुरी खबर, मिलेगा फसलों में इतना लाभ

Ration New Update: इन 3 राज्यों मे गेहूं बंद, 5 राज्यों मे राशन कम, ये हैं नए नियम

LPG Cylinder पर ज़ल्द सब्सिडी का लाभ लेने के लिए ऐसे करें आवेदन

PM Jan Dhan Account Open: जन-धन खाता खुलवाने पर 10,000 रुपये दे रही केंद्र सरकार, जानिये नियम और उठाएं लाभ

PM Gramin Awas Yojana List 2023: देखें PMAY List Gramin

PM Mudra Loan: बिना गारंटी 10 लाख का सरकारी लोन, ऐसे भरें MUDRA Loan Form

जानें क्या है PM Mudra Loan Yojana और Mudra Loan के लिए आवेदन की प्रक्रिया

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि मोदी सरकार (Modi Sarkar) द्वारा देश के नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए PM Mudra Loan Yojana शुरू की गयी और इसके तहत 50,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक का Loan दिया जाता है। सरकार द्वारा यह व्यवसाय शुरू करके रोजगार जुटाने के लिए loan दिया जाता है।

लोन लेने के लिए आवेदक के पास आईडी प्रूफ, स्थायी पता और व्यवसाय से जुड़े सभी प्रमाण पत्र होने चाहिए। इस Loan को प्राप्त करने के लिए आवेदक को व्यवसाय से संबंधित सभी दस्तावेज लेकर बैंक जाना होगा। उसके बाद बैंक द्वारा सभी दस्तावेजों का वेरिफिकेशन किया जायेगा और उसके बाद बैंक द्वारा आवेदक को Loan प्रदान किया जायेगा। यह लोन प्राप्त करने वाले आवेदक की उम्र 18 से 68 साल के बीच होनी चाहिए।

Sarkariiyojana Homepage                      | Click Here

Leave a Comment