Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

Breaking News: किसान अपनी फसल की सुरक्षा के लिए PMFBY में ऐसे कराएं रजिस्ट्रेशन, 31 जुलाई है लास्ट डेट

PMFBY: हमारे देश में हर साल किसी न किसी राज्य में प्राकृतिक आपदा आती है, जिससे किसानों को काफी नुकसान होता है। इसके अलावा जब अधिक वर्षा होती है या अधिक ओले पड़ते हैं तो उससे भी किसानों की फसल खराब हो जाती है। इसी समस्या को देखते हुए सरकार ने फसल बीमा योजना (Fasal Bima Yojana) की शुरुआत की है ताकि Crop Insurance Scheme की मदद से किसानों को उनकी फसल खराब होने पर पैसा दिया जा सके।

Kisan Fasal Bima Yojana की शुरुआत देश के प्रधानमंत्री ने साल 2016 में मध्य प्रदेश में की थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की फसल बर्बाद होने पर उन्हें राहत प्रदान करना है। जब प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों की फसल पूरी तरह से नष्ट हो जाती है, तो ऐसी स्थिति में उन्हें काफी नुकसान होता है। यदि वह पहले से ही फसल बीमा योजना के तहत अपनी फसल का बीमा करा लेता है तो फसल के नुकसान के बाद बीमा की राशि (amount of insurance) सरकार द्वारा दी जाएगी। अब तक PM Fasal Bima Yojana के जरिए 36 करोड़ से ज्यादा किसानों की फसलों का बीमा किया जा चुका है।

Breaking News किसान अपनी फसल की सुरक्षा के लिए PMFBY में कराएं रजिस्ट्रेशन 31 जुलाई है लास्ट डेट min 1

जो भी किसान Fasal Bima Yojana के तहत अपनी फसल का बीमा करवाता है तो उसे भी प्रीमियम (pay premium) देना होता है। यदि किसी किसान ने फसल बीमा लिया है और वह भविष्य में फसल बीमा योजना नहीं लेना चाहता है तो उसे इसकी जानकारी विभाग को देनी होगी।
यदि किसान यह जानकारी विभाग को नहीं देता है तो उसके बैंक खाते से फसल बीमा योजना का प्रीमियम कटता रहता है, जिससे किसानों को भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए अगर आपने एक बार फसल बीमा योजना ली है और अगली बार नहीं लेना चाहते हैं तो तुरंत विभाग को सूचित करें।

PM Fasal Bima Yojana का उद्देश्य किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों को होने वाले नुकसान से बचाना है। जब प्राकृतिक आपदा आती है तो उनकी फसलों को बहुत नुकसान होता है। इस वजह से किसानों के पास अगली बार फसल उगाने के लिए पैसे भी नहीं हैं.

खासतौर पर छोटे किसानों को फसल खराब होने से काफी परेशानी होती है, लेकिन अब किसानों को ऐसी किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा. क्योंकि फसल नष्ट होने के बाद उन्हें अपनी फसल का बीमा उनके बैंक खातों में मिल जाएगा। इसलिए वह अगली बार दोबारा खेती कर पाएंगे।

PMFBY 2022 Latest Update

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana 2022 के तहत एक बड़ा बदलाव किया गया है, जिसके बाद अब किसानों के पास अपनी मर्जी है कि उन्हें फसल बीमा मिलेगा या नहीं। पहले सरकार ने किसानों के लिए अपनी फसल का बीमा कराना अनिवार्य कर दिया था लेकिन अब ऐसा बिल्कुल नहीं है। अब सभी किसान पूरी तरह आजाद हैं। अगर उन्हें लगता है कि फसल बीमा कराने से उन्हें फायदा हुआ है तो वे बीमा करा सकते हैं.

यदि किसी ने अपने सामने अपनी फसल का बीमा कराया है तो प्राकृतिक विपदा के कारण फसल को हुए नुकसान के बाद उस किसान को फसल बीमा की राशि दी जाती है. इस राशि से फसल बर्बाद होने के बाद भी किसानों को कोई नुकसान नहीं होता है.
प्राकृतिक आपदाओं के कारण जब किसानों की फसल नष्ट हो जाती है तो बीमा राशि बिना किसी परेशानी के किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर कर दी जाती है।
फसल बीमा योजना के तहत किसान महज 2000 रुपये में 1 लाख रुपये तक की फसल सुरक्षित कर सकते हैं।

फसल खराब होने के बाद किसको और कैसे सूचित करें?

  • अगर किसी ने अपने सामने अपनी फसल का बीमा कराया है और प्राकृतिक आपदाओं के कारण उसकी फसल खराब हो जाती है, तो किसानों को फसल खराब होने के 72 घंटे के भीतर ही बीमा कंपनी (insurance company ) को फसल के नुकसान की सूचना देनी होगी।
  • बीमा कंपनी तक खबर पहुंचते ही बीमा कंपनी का एक व्यक्ति आता है और आपकी फसल की जांच करता है। सत्यापन के बाद, सत्यापन के बाद, आपको बीमा राशि दी जाती है जो आपके बैंक खाते में कुछ ही दिनों में जमा हो जाती है।
  • अगर किसी किसान की फसल मानवीय कारणों से नष्ट हो जाती है तो उसे फसल बीमा योजना का लाभ नहीं दिया जाता है। क्योंकि फसल बीमा योजना के तहत बीमा राशि बाढ़, तूफान, आंधी, बारिश, ओलावृष्टि आदि की स्थिति में ही दी जाती है

किन फसलों का हो सकता है बीमा?

फसल बीमा योजना के अंतर्गत विभिन्न फसलों का बीमा किया जा सकता है जैसे –

खरीफ मौसम में धान, मक्का, बाजरा, कपास आदि का बीमा किया जा सकता है।
रबी मौसम में गेहूं, सरसों, चना, जौ और सूरजमुखी की फसलों का बीमा किया जा सकता है।

दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • खेती से जुड़े सभी दस्तावेजों की छायाप्रति
  • आवेदक किसान का पासपोर्ट आकार का फोटो
  • बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
  • मूल पता प्रमाण
  • राशन कार्ड
  • कृषि भूमि के किराये के मामले में, खेत के मालिक से एनओसी प्राप्त करना आवश्यक है।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Apply

  • जो भी किसान फसल बीमा योजना का लाभ लेना चाहते हैं, वे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से आवेदन कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन फसल बीमा योजना का लाभ लेने के लिए आप आधिकारिक वेबसाइट-https://pmfby.gov.in/ के माध्यम से किसान फसल बीमा योजना 2022 का आसानी से लाभ उठा सकते हैं। आपको वेबसाइट पर जाना है और फॉर्म भरना है।
  • इसके अलावा ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीकी कृषि विभाग में जाकर आवेदन फॉर्म लेना होगा।
  • फिर आवेदन पत्र भरने के बाद उसके साथ सभी आवश्यक दस्तावेज संलग्न करने होंगे और फिर कृषि विभाग में ही जमा कर देना होगा।

नवीनतम अपडेट को जानने के लिए sarkariiyojana.in बुकमार्क जरूर करें।

close button