Solar Rooftop Calculator: कितने KW के Solar System के लिए कितना खर्च होगा? ऐसे करें कैलकुलेट

Solar Rooftop Calculator: भारत की जनसंख्या बढ़ने के साथ-साथ ऊर्जा की मांग भी बढ़ रही है। ऊर्जा की बढ़ती मांग बिजली उद्योग के लिए एक चुनौती बन रही है। वर्तमान में, बिजली उद्योग भी सौर ऊर्जा और ऊर्जा के अन्य नवीकरणीय स्रोतों पर स्विच करने की कोशिश कर रहे हैं। प्राथमिक समस्या खपत की तुलना में अपर्याप्त संसाधन है। औसत व्यक्ति के लिए मासिक बिजली लागत का भुगतान करना असंभव है जो बहुत अधिक है। इस मुद्दे को हल करने के लिए, सरकार विद्युत ऊर्जा के व्यवहार्य विकल्प के रूप में सौर ऊर्जा का सुझाव देती है।

Solar Rooftop Calculator

Solar Rooftop Scheme Subsidy Online Apply

केंद्र सरकार सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना (Solar Rooftop Subsidy Scheme) के लिए ऑनलाइन आवेदन स्वीकार कर रही है, जिसे इच्छुक उम्मीदवार ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से जमा कर सकते हैं। आज के लेख में, हम सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना के उद्देश्यों के बारे में जानेंगे, इसके उद्देश्यों से लाभ पात्रता, और ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरें।

इस सौर पैनल का उपयोग सूर्य के प्रकाश को इकट्ठा करने के लिए किया जाता है, जिसे बाद में विभिन्न प्रयोजनों के लिए उपयोग किया जा सकता है। इस प्रणाली के कई फायदे हैं, जिनमें से एक यह है कि इसके लिए केवल थोड़ी मात्रा में स्थान की आवश्यकता होती है और फिर भी ऊर्जा उत्पन्न होती है जिसका उपयोग विभिन्न उपयोगों के लिए किया जा सकता है। आज के महानगरीय क्षेत्रों में इस पद्धति का उपयोग अधिक व्यापक होता जा रहा है। और अधिकांश लोग बिजली पर अपनी निर्भरता और महंगे बिजली के बिलों के जोखिम को कम करने के लिए इस पद्धति (Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022) का उपयोग करने का प्रयास कर रहे हैं

सोलर रूफटॉप सिस्टम (Solar Rooftop Subsidy Scheme) के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने Solar Rooftop Subsidy Scheme के नाम से एक कार्यक्रम शुरू किया है। Solar Subsidy Scheme भारत सरकार द्वारा देश भर में सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए एक पहल है। इस कार्यक्रम में सरकार ग्राहकों की छतों पर सोलर पैनल लगाने के भुगतान में मदद करेगी। इससे देश में अक्षय ऊर्जा का उपयोग निश्चित रूप से बढ़ेगा और ग्राहकों को इससे भी काफी फायदा होगा। इस पहल के तहत, सरकार का लक्ष्य 2022 तक 1 लाख मेगावाट सौर ऊर्जा हासिल करना है, जिसमें से 40,000 मेगावाट रूफटॉप सौर ऊर्जा संयंत्रों से प्राप्त होगा।

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना उद्देश्य

Solar Rooftop Subsidy Yojana Objectives: केंद्र सरकार द्वारा स्थापित solar panel subsidy scheme का मुख्य लक्ष्य है कि अधिक से अधिक लोग अपनी छतों पर सोलर पैनल का प्रयोग करें ताकि ग्रिड स्टेशन से कम बिजली की आवश्यकता हो। यह योजना न केवल सरकार या पूरे देश की मदद करती है, बल्कि यह स्थानीय स्तर पर लोगों की भी मदद करती है।

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना के फायदे (Solar Rooftop Subsidy Yojana Benefits)

चूंकि इस प्रणाली को छत पर लगाया जाता है, यह बहुत सारी भूमि को मुक्त कर देता है जिसे अन्यथा बिजली बनाने की आवश्यकता होती। काम आसान करें ताकि ग्राहकों को ग्रिड पावर पर निर्भर न रहना पड़े।
सोलर रूफ सिस्टम डीजल जनरेटर के उपयोग में कटौती करते हैं, जो पर्यावरण को बचाने में मदद करता है।
सोलर रूफटॉप सिस्टम व्यावसायिक संगठनों के लिए सबसे अच्छा है क्योंकि यह सबसे ज्यादा जरूरत पड़ने पर सबसे ज्यादा बिजली पैदा कर सकता है। और यह ग्रिड से मिलने वाली बिजली से भी कम खर्च करता है।
यह एक बार का निवेश है जो उपयोगिता व्यय को कम करता है।
यह सब्सिडी परिवारों, उद्योगों और सामाजिक संरचनाओं (अस्पतालों, स्कूलों, आदि) पर लागू होती है। इस रणनीति से कारोबारियों को भी मदद मिलती है।स्थापना के बाद इस सौर प्रणाली की कोई चालू लागत नहीं है।
यह योजना लोगों को पैसे बचाने में मदद करती है। हालांकि इस योजना का लक्ष्य तुरंत नहीं देखा जा सकता है, यह समय के साथ स्पष्ट हो जाएगा।
इस सौर ऊर्जा प्रणाली की लागत मात्र 6.50 रुपये/kWh है, जो डीजल जनरेटर और मानक बिजली की तुलना में काफी सस्ता है।
राष्ट्रीय सौर मिशन के तहत, राष्ट्रीय सरकार अगले पांच वर्षों में 600 से 5,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी।
यह प्रोग्राम कार्बन उत्सर्जन को कम करता है और इसलिए ग्लोबल वार्मिंग को कम करने में भी मदद करता है।

  • Rooftop Solar Power Plant लगाने के लिए आवश्यक स्थान – 100 वर्ग फीट
  • बिना सब्सिडी के रूफटॉप सोलर पावर प्लांट लगाने की लागत 60 हजार से 70 हजार
  • 30% सब्सिडी में कमी के बाद कितनी राशि का भुगतान करने की आवश्यकता है – 42 हजार से 49 हजार
  • उत्पादन आधारित प्रोत्साहन का लाभ उठाने के लिए उपभोक्ताओं को कितनी बिजली उत्पन्न करने की आवश्यकता है? 1,100 से 1500 किलोवाट/किलोवाट प्रति वर्ष

सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर (Solar Rooftop Calculator)

सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर को ऑनलाइन इस्तेमाल करने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
वेबसाइट के होमपेज पर सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर के विकल्प पर क्लिक करके पहुंचा जा सकता है।
आपके सामने “Solar Rooftop Calculator” नामक एक नया वेब पेज लोड होगा।
कैलकुलेटर पृष्ठ पर, आप शीर्ष पर मेनू से या तो सौर पैनल क्षमता, जिसे आप स्थापित करना चाहते हैं, अपना बजट, या पूरे छत क्षेत्र में से चुन सकते हैं।
फिर, आपको अपना राज्य और ग्राहक वर्ग चुनना होगा।
अंतिम चरण में, आपको बिजली की औसत लागत का चयन करना होगा और इसे टेक्स्ट बॉक्स में लिखना होगा।
इसके बाद आपको कैलकुलेट बटन दबाना होगा।

Solar Panel Yojana Official WebsiteClick Here
Home PageClick Here

नोट-यह न्‍यूज वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है, SarkariiYojana.in अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

Leave a Comment

close button