Solar Rooftop Scheme: छत पर लगवाएं Solar Panel, 20 साल तक पाएं Free बिजली, करें आवेदन

Solar Rooftop Scheme : ईंधन की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं और आम आदमी महंगाई की मार झेल रहा है। बिजली की खपत बढ़ने के साथ दाम भी बढ़ रहे हैं। ऐसे में आप अपनी छत पर सोलर पैनल (Solar Panel) लगा सकते हैं और मुफ्त बिजली प्राप्त कर सकते हैं। सरकार सोलर पैनल लगाने में भी मदद कर रही है। इससे लोगों को बिजली बचाने में काफी मदद मिलती है।

सरकार की तरफ से फ्री सोलर पैनल योजना (Free Solar Panel Yojana) शुरू हो गई है। जिसका नाम रूफटॉप सोलर प्लांट (Rooftop Solar Plant) रखा गया है। इस योजना में सरकार द्वारा सब्सिडी (Solar Subsidy Yojana) भी मुहैया कराई जा रही है। अगर आप अपने घर की छत पर सोलर पैनल (Solar Panel) लगवाते हैं तो सरकार की तरफ से सब्सिडी का लाभ भी दिया जाएगा।

Solar Rooftop Scheme

Solar Rooftop Scheme में मिलती है सब्सिडी

गौरतलब है कि सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना (Solar Rooftop Subsidy Scheme) भारत सरकार द्वारा देश में सोलर रूफटॉप को बढ़ावा देने के लिए चलाई जा रही है। सोलर रूफटॉप योजना (Solar Rooftop Scheme) के साथ केंद्र सरकार देश में अक्षय ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहित करती है। इसके लिए केंद्र सरकार उपभोक्ताओं को सोलर रूफटॉप इंस्टॉलेशन पर सब्सिडी देती है।

Solar Rooftop Scheme में मिलेगी 20- 25 साल तक बिजली फ्री

अपने घर की छत पर सोलर रूफटॉप (Solar Rooftop) लगाकर आप बिजली की लागत को 30 से 50 प्रतिशत तक कम कर सकते हैं। सोलर रूफटॉप (Solar Rooftop) से 20-25 साल तक बिजली मिलेगी और इस सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना में 5-6 साल में खर्च का भुगतान किया जाएगा। इसके बाद आपको अगले 20-25 साल तक सोलर से मुफ्त बिजली का लाभ मिलेगा।

सोलर सब्सिडी योजना (Solar Subsidy Yojana) में 5 से 6 साल खर्चे का भुगतान करने की जरुरत होती है। उसके बाद आपको 20 सालों तक फ्री बिजली प्राप्त होने लगती है। उसके बाद आपको अपने नजदीकी बिजली कार्यालय में बात करनी होती है। अधिक जानकारी के लिए उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट mnre.gov. in पर जाना होगा।

Solar Rooftop में 10 वर्ग मीटर की जगह है जरुरी

सोलर रूफटॉप प्लांट लगाने के लिए ज्यादा जगह की जरूरत नहीं होती है। इसमें एक किलोवाट सौर ऊर्जा के लिए 10 वर्ग मीटर जगह की आवश्यकता होती है। केंद्र सरकार 3 किलो वॉट तक के सोलर रूफटॉप प्लांट (Solar Rooftop Plant) पर 40 प्रतिशत और 10 किलो वॉट तक 20 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाती है। सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना (Solar Rooftop Subsidy Scheme) के लिए आप बिजली वितरण कंपनी के नजदीकी कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप mnre.gov.in पर जा सकते हैं।

Solar Rooftop Scheme में इतने प्रतिशत की बिजली करेगा कम

सोलर रूफटॉप योजना (Solar Rooftop Scheme) प्रदूषण कम करने के साथ सोलर पैनल पैसे बचाने में भी काफी मददगार साबित होता है। ग्रुप हाउसिंग में सोलर पैनल लगवाकर बिजली की लागत को 30 प्रतिशत से 50 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना (Solar Rooftop Subsidy Scheme) के तहत केंद्र सरकार 500 किलोवॉट तक के सोलर रूफटॉप प्लांट लगाने पर 20 प्रतिशत की सब्सिडी दे रही है।

Solar Rooftop Scheme Online Apply कैसे करें

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट solarrooftop.gov.in पर जाएं।
  • इसके बाद होम पेज पर सोलर रूफिंग आवेदन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अगले पेज पर अपना राज्य चुनें।
  • इसके बाद आपको अपनी स्क्रीन पर सोलर रूफ एप्लीकेशन दिखाई देगी।
  • उसमें सभी विवरण भरें और सबमिट पर क्लिक करें।

Solar Rooftop Scheme के लिए टोलफ्री नंबर

सोलर रूफटॉप योजना (Solar Rooftop Scheme) में टोल फ्री नंबर 1800-180-3333 प्राप्त होता है जिसकी मदद से सोलर रूफ टॉप इंस्टालेशन में काफी मदद मिलेगी। सोलर रूफटॉप पैनल में शामिल एजेंसियों की राज्यवार सूची आधिकारिक वेबसाइट पर भी देखी जा सकती है। सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना (Solar Rooftop Subsidy Scheme) भारत सरकार के अक्षय एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा चलाई जा रही है।

Solar Subsidy Yojana में ऐसे मिलेगा फायदा

जनवरी 2022 में केंद्र सरकार ने सोलर पैनल लगवाने वालों को सब्सिडी (Solar Subsidy Yojana) का ऑप्शन दिया है। सरकार ने रूफटॉप सोलर को लगवाने की प्रक्रिया को काफी आसान बना दिया है। सरकार यह सब्सिडी सोलर पैनल के साइज पर दे रही है। अगर सोलर पैनल का साइज बड़ा है तो सब्सिडी (Solar Subsidy Yojana) ज्यादा मिलने जा रही है और अगर सोलर पैनल का साइज छोटा है तो सब्सिडी कम मिलेगी।

Solar Panel Installation

सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
उसके बाद अप्लाई फॉर सोलर रूफटॉफ के ऑप्शन पर जाएं।
उसके बाद अपने राज्य को चुने।
उसके बाद आवेदन फॉर्म पर जाएं और इसे भरें।
उसके बाद रूफटॉफ आवेदन हो जाएगा।

सोलर रूफ टॉप लगाते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

installing solar roof top: मंत्रालय ने कहा है कि कुछ रूफटॉप सोलर कंपनियां/विक्रेता यह दावा करते हुए रूफटॉप सोलर प्लांट (rooftop solar plants) लगा रहे हैं कि वे मंत्रालय द्वारा अधिकृत विक्रेता हैं। जबकि मंत्रालय की ओर से स्पष्ट किया गया है कि मंत्रालय द्वारा किसी वेंडर को अधिकृत नहीं किया गया है। यह योजना केवल राज्य में डिस्कॉम (Discoms) द्वारा लागू की जा रही है। डिस्कॉम ने रूफटॉप सोलर इंस्टालेशन (rooftop solar installation) के लिए बोली प्रक्रिया और तय दरों के जरिए वेंडरों को शॉर्टलिस्ट किया है।

इसके लिए लगभग सभी डिस्कॉम ने ऑनलाइन प्रक्रिया जारी कर दी है। MNRE scheme के तहत रूफटॉप सोलर प्लांट स्थापित (install rooftop solar plants ) करने के इच्छुक आवासीय उपभोक्ता ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और पैनल में शामिल विक्रेताओं द्वारा रूफटॉप सोलर प्लांट स्थापित (rooftop solar plants installed) करवा सकते हैं। इसके लिए उन्हें मंत्रालय द्वारा वेंडर को दी जाने वाली सब्सिडी की राशि को निर्धारित दर के अनुसार कम कर रूफटॉप सोलर प्लांट की लागत का भुगतान करना होगा। जिसका प्रोसेस Discom के ऑनलाइन पोर्टल पर दिया गया है।

मंत्रालय द्वारा DISCOMs के माध्यम से विक्रेताओं को सब्सिडी राशि प्रदान की जाएगी। घरेलू उपभोक्ताओं को सलाह दी जाती है कि मंत्रालय की योजना के तहत सब्सिडी प्राप्त करने के लिए, उन्हें DISCOMs द्वारा अनुमोदन की उचित प्रक्रिया का पालन करके DISCOMs के पैनल में शामिल विक्रेताओं से rooftop solar plants लगवाना चाहिए।

पैनल में शामिल विक्रेताओं द्वारा स्थापित किए जाने वाले सौर पैनल और अन्य उपकरण मंत्रालय के मानक और विशिष्टताओं के अनुसार होंगे और इसमें विक्रेता द्वारा rooftop solar plant का 5 साल के लिए रखरखाव भी शामिल होगा।

मंत्रालय ने आगाह किया है कि कुछ विक्रेता घरेलू उपभोक्ताओं से डिस्कॉम द्वारा निर्धारित दरों से अधिक कीमत वसूल रहे हैं, जो गलत है। उपभोक्ताओं को सलाह दी जाती है कि वे केवल डिस्कॉम द्वारा निर्धारित दरों के अनुसार ही भुगतान करें। डिस्कॉम को ऐसे विक्रेताओं की पहचान करने और उन्हें दंडित करने का निर्देश दिया गया है

Solar Subsidy Yojana में आएगा कितना खर्च

अगर आप 2 किलोवॉट का सोलर पैनल लगवाते रहे हैं तो इसका खर्च लगभग 1 लाख 20 हजार आएगा। मगर इस सोलर पैनल पर आपको 40 % की सब्सिडी सरकार से मिल जाएगी। जिसमें आपकी लागत 72 हजार रुपये रह जाएगी। सरकार की तरफ से 48000 की सब्सिडी का लाभ हो जाएगा। सोलर पैनल को 25 साल तक लगवा सकते हैं। ऐसे में एक बार निवेश करने पर बिजली के महंगे महंगे बिल से काफी राहत मिलेगी।

Solar Panel की मदद से क्या क्या चलता है

सोलर पैनल की मदद से घर में फ्रीज, कूलर, पंखा आदि चल सकता है लेकिन इसके लिए सोलर इन्वर्टर की आवश्यकता होगी। सोलर इन्वेर्टर AC करेंट को DC में कन्वर्ट करता है। सोलर पैनल DC वोल्टेज देता है जिसे हम डायरेक्ट करेंट कहते हैं।

Solar Yojana में कितनी सब्सिडी का मिलता है फायदा ?

सोलर प्लांट उपभोक्ताओं को सब्सिडी देने का फैसला उत्तर प्रदेश नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विकास अभिकरण (UPNEDA) द्वारा किया जा चुका है। 1 से 3 किलो का सोलर प्लांट लगवाने पर 40 फीसदी की सब्सिडी प्राप्त होती है। 3 से ज्यादा किलो की सब्सिडी पर 20 फीसदी का लाभ होता है।

सौर ऊर्जा (Solar energy ) को ऊर्जा का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है क्योंकि सौर पैनलों (solar panels) से ऊर्जा पैदा करने में प्रदूषण नहीं होता है। सौरमंडल (solar system) पूरी तरह सूर्य के प्रकाश पर आधारित है। solar panels से ऊर्जा बनाने के लिए कोयला, पेट्रोल और डीजल का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता। आप हर महीने बिजली बिल में बचत भी कर सकते हैं।

Online Apply for PM Free Solar PanelClick Here
Home PageClick Here
close button