Solar Rooftop Subsidy Scheme: सोलर खरीदने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

Solar Rooftop Subsidy Scheme के तहत, राज्य के खरीदार अपने घर की छत पर रूफटॉप सोलर लगाकर (installing rooftop solar) बिजली बिल बचा सकते हैं। इसके लिए केंद्रीय विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार में प्रवेश के लिए आपको http://solarrooftop.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। केंद्र सरकार (Central Govt) द्वारा क्रेताओं द्वारा किए गए आवेदनों को विशेष राज्यों के फैलाव संगठनों को भेजा जाएगा।

Solar Rooftop Subsidy Scheme

राज्य विस्तार संगठन आवेदनों की जांच करेंगे और चयनित कार्यालयों के माध्यम से ग्राहकों के रूफ बोर्ड पर रूफटॉप सोलर पैनल उपलब्ध कराएंगे। साथ ही खरीददारों को स्वीकृत राशि का भुगतान संबंधित संस्था को करना होगा। कार्यालय द्वारा सोलर की शुरूआत के बाद, ग्राहक की जानकारी स्थानांतरित की जाएगी।

Subsidy of 40% on installing solar panels

Solar Rooftop Subsidy Yojana के तहत सोलर पैनल लगाने पर ग्राहकों को 40 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी।
इसके बाद विनियोग राशि को क्रेता के रिकॉर्ड से बाहर कर दिया जाएगा। किसी भी प्रकार के डेटा के लिए आप केंद्रीय बिजली मंत्री द्वारा दिए गए हेल्पलाइन नंबर 18001803333 पर कॉल करके डेटा प्राप्त कर सकते हैं। घरेलू खरीदार को 40% बंदोबस्ती केंद्र सरकार द्वारा घरेलू ग्राहकों को 1 से 3 kW के हाउसटॉप सन पावर्ड चार्जर की पेशकश करने पर 40% सब्सिडी दी जाएगी। 3 से 10 kW सनलाइट बेस्ड चार्जर लगाने वालों को खर्च का 20% केंद्र सरकार देगी।

Solar Rooftop Subsidy Yojana: अब देश के किसान सोलर पैनल रजिस्ट्रेशन के जरिए अपनी आमदनी के अलावा अन्य आय प्राप्त कर सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब किसानों की आय दोगुनी करने के लिए फ्री सोलर पैनल योजना शुरू की है. इस योजना के तहत वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य रखा गया है।

इससे देश के सभी लोगों को फायदा होगा। इसका लाभ लेने के लिए उम्मीदवार को सोलर पैनल योजना को ऑनलाइन अप्लाई (apply solar panel scheme online) करना होगा। Prime Minister’s Solar Panel Scheme के तहत किसानों को विशेष सुविधा दी जा रही है।

अब वह सोलर पैनल का उपयोग करके बिना डीजल के आसानी से सिंचाई कर सकता है और दूसरा सोलर पैनल लगाकर आप अतिरिक्त बिजली सरकार या बिजली कंपनियों को बेच सकते हैं और लाखों में कमा सकते हैं

5 साल तक मेंटेनेंस करेगी एजेंसी, सोलर 25 साल काम करेगा

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना के लिए एजेंसी का चयन टेंडर के जरिए रूफटॉप सोलर (Rooftop Solar) लगाने के लिए वितरण कंपनियों द्वारा किया जाएगा। चयनित एजेंसी 5 साल तक उपभोक्ताओं की छत पर सोलर पैनल बनाए रखेगी। यह सोलर पैनल 25 साल काम करेगा।
दक्षिण बिहार एवं उत्तर बिहार विद्युत वितरण कंपनी द्वारा प्रदेश में 10-10 मेगावाट की हाउसटॉप सन ओरिएंटेड शुरू की जाएगी। इसके लिए http://sbpdcl.co.in और http://nbpdcl.co.in पर आवेदन करें।
आपको एक से 3 kW सनलाइट बेस्ड चार्जर्स पर 65% और 3 से 10 kW सन पावर्ड चार्जर्स (3 से 10 kW सनलाइट बेस्ड चार्जर इंस्टालेशन) पर 45% का अनुदान बिहार के विस्तार संगठनों को घरेलू ग्राहकों के शीर्ष पर मिलेगा। राज्य सरकार 25 प्रतिशत पुरस्कार दे रही है। बाकी पुरस्कार केंद्र सरकार की ओर से होता है।
दुकानदारों द्वारा डीलर को स्पॉन्सरशिप की राशि कम कर दी जाएगी। लोक प्राधिकरण द्वारा वित्तीय शेष के माध्यम से व्यापारी को सीधे कितना ईनाम भेजा जाएगा।

सोलर रेट फाइनल प्रोसेस जारी (Solar Panel Rate process)

बिजली कंपनी ने घरेलू उपभोक्ताओं की छत पर सोलर लगाने लिए टेंडर के जरिए एजेंसी को आमंत्रित किया है। रेट फाइनल (Rate Final) करने की प्रक्रिया चल रही है। बिजली कंपनी मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार अगस्त माह में रेट तय करने के बाद वितरण कंपनियों की वेबसाइट से उपभोक्ताओं को जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही उपभोक्ताओं की छत का वेरिफिकेशन भी किया जाएगा।

Solar Rooftop Subsidy Scheme की गणना के लिए नेट मीटर का इस्तेमाल किया जाएगा

रूफटॉप सोलर पैनल से उत्पन्न बिजली की खपत घरेलू उपभोक्ताओं द्वारा की जाएगी। अगर खपत से ज्यादा बिजली होगी तो बिजली कंपनी खड़ी होगी। इसके लिए उपभोक्ताओं के पैसे में इस्तेमाल होने वाले मीटर की जगह नेट मीटर लगवाया जाएगा।

Rooftop Solar PanelsClick Here
Home PageClick Here
close button