Vridha Pension KYC: वृद्धावस्था पेंशन KYC हुआ अनिवार्य, जल्दी करें

vridha pension, vridha pension up ,vridha pension yojana , vridha pension online , vridha pension status , up vridha pension , vridha pension list , vridha pension bihar , up vridha pension

Vridha Pension KYC :जैसे कि हम सभी जानते हैं कि सरकार द्वारा नागरिकों को कई प्रकार की Pension प्रदान की जाती है, जैसे कि Vridha Pension, Viklang Pension, Vidhwa Pension आदि। सरकार द्वारा जारी किये गए आदेश के अनुसार वृद्धा पेंशन(Vridha Pension) या विकलांग पेंशन(Vridha Pension) या अन्य किसी भी प्रकार की pension का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी लाभार्थियों को Vridha Pension KYC करना अनिवार्य है। अगर लाभार्थी अपना KYC नहीं करते हैं तो उन्हें आगामी किस्तों का लाभ नहीं मिल पायेगा।

Vridha Pension KYC

अब सभी लाभार्थियों को Vridha Pension जैसे अन्य किसी भी तरह की pension का लाभ प्राप्त करने के लिए KYC (Know Your Customer) करना अनिवार्य है, अन्यथा लाभार्थी लाभ से वंचित रह जायेंगे। इसके लिए लाभार्थियों को अपना आधार नंबर verify कराना होगा। लाभार्थी अपने Mobile number तथा Laptop के द्वारा अपना KYC स्वयं घर बैठे भी कर सकते हैं। इसके अलावा, लाभार्थी अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाकर भी वृद्धा पेंशन एवं अन्य पेंशन के लिए KYC करा सकते हैं।

इसके अलावा सभी पेंशन धारकों को अपना केवाईसी अप्रैल माह से पूर्व ही कराना होगा, क्योंकि ऐसा न करने पर उनकी Pension में विलम्ब हो जायेगा और पेंशन रोक दी जाएगी। सरकार द्वारा उन सभी व्यक्तियों को वृद्धा पेंशन मुहैया करायी जाती है, जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक है। साथ ही जो व्यक्ति आर्थिक रूप से गरीब श्रेणी के अंतर्गत आते हैं उन्हें भी पेंशन प्रदान की जाती है। सरकार द्वारा पेंशन के रूप में यह सहायता राशि सभी वृद्ध लोगों को अपना जीवन सुचारु रूप से जीने के लिए दी जाती है ताकि उन्हें किसी और पर निर्भर न रहना पड़े। इसके अलावा वृद्धावस्था पेंशन के लिए केवाईसी करने के लिए लाभार्थियों के पास अपना वृद्धावस्था पेंशन नंबर या Registration number होना अनिवार्य है।

Vridha Pension KYC करने का मुख्य उदेश्य

देश के ऐसे लाभार्थी जो वृद्धावस्था पेंशन(Vridha Pension) या अन्य किसी पेंशन का लाभ ले रहे थे लेकिन अब जीवित नहीं है , लेकिन अभी भी सरकार उनके बैंक खाते में पेंशन के पैसे भेजती है, इससे सरकार पर अधिक आर्थिक बोझ पड़ता है,जिससे किसी अन्य जरूरतमंद को लाभ से वंचित रहना पड़ता है। ऐसे कई लाभार्थी है जो जिनकी मृत्यु हो गयी है, फिर भी उनके नाम पर उनके खाते में Pension दी जाती है, लेकिन KYC होने के बाद ऐसे सभी लोग सामने आ जायेंगे और फिर उन्हें पेंशन योजना लिस्ट से अलग कर दिया जायेगा। जो लाभार्थी वास्तविक रूप से Pension scheme के लिए पात्र हैं तथा जीवित हैं, उन सभी लाभार्थियों को KYC के आधार पर verification कराकर सरकार द्वारा pension प्रदान की जाएगी। Aadhar verification के द्वारा पात्र पेंशनधारियों की जाँच की जा रही है, ताकि केवल पात्र लाभार्थी को ही पेंशन का लाभ प्राप्त हो सके।

Vridha Pension KYC करने की प्रक्रिया

  • Vridha Pension, Viklang Pension, Vidhwa Pension का लाभ लेने के लिए अपनी KYC करनी अनिवार्य है, तभी लाभार्थी को पेंशन का लाभ मिलगा। KYC करने से पहले लाभार्थी के पास Registered mobile number और अपना Old age pension का Registration ID होना आवश्यक है।
  • Old age pension KYC करवाने के लिए सबसे पहले आवेदक को इस लिंक Sspy-Up.Gov.In के माध्यम से official website पर जाना होगा।
  • इसके बाद आवेदक को अपनी Pension का नाम select करना होगा।
  • उसके बाद आवेदक को वृद्धावस्था पेंशन आवेदक login पर click करना होगा।
  • अब आवेदक को अपना Registration id तथा Registered Mobile नंबर enter करना होगा और उसके बाद जो OTP प्राप्त होगा उसे enter करना होगा।
  • इसके बाद आवेदक को login पर click करना होगा।
  • उसके बाद आवेदक को अपना Aadhar number डाल कर verify करना होगा।
  • Verification के बाद kyc की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

इस प्रकार आपका Vridha Pension KYC पूरा हो जाएगा। उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आयी होगी।

ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariiyojana.in के माध्यम से देते हैं, तो आप हमारी वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद…

close button