7th Pay Commission Diwali Gift: दीवाली तोहफा – DA नवीनतम वृद्धि के बाद वेतन ?

7th Pay Commission Diwali Gift: आगामी त्योहारी सीजन के बीच, केंद्र 7th pay commission के तहत पेंशनभोगियों और केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए संशोधित महंगाई भत्ते (DA ) और महंगाई राहत (DR ) की घोषणा कर सकता है। हालांकि इस पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है, लेकिन रिपोर्ट्स दावा कर रही हैं कि सितंबर के अंतिम सप्ताह में घोषणा की जा सकती है।

7th Pay Commission Diwali Gift

अनुमान है कि डीए/डीआर की दर मौजूदा 34 फीसदी से बढ़कर 38 फीसदी हो जाएगी। केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद, जिसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे, घोषणा की जाएगी। सामान्य तौर पर, DA/DR मामले को हमेशा सरकार द्वारा अनुमोदित किया जाता है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक,DA/DR Rate मौजूदा 34 फीसदी से बढ़कर 38 फीसदी होने की उम्मीद है। इस साल की शुरुआत में, केंद्र ने मार्च में DA/DR Rate में बढ़ोतरी को मंजूरी दी थी, जिससे दर 34 प्रतिशत हो गई थी .

PM Ujjwala Yojana list 2022

क्या है डीए और डीआर?

महंगाई भत्ता (DA) जीवन-यापन समायोजन भत्ता है जो सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों के साथ-साथ उसी के पेंशनभोगियों को भुगतान करती है।
महंगाई राहत (DR) भत्ते के समान है और केंद्र सरकार के पेंशनरों को दी जाती है।

जैसा कि त्योहारी सीजन करीब है, केंद्र द्वारा जल्द ही सातवें वेतन आयोग के तहत पेंशनभोगियों और केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए संशोधित महंगाई भत्ता (DA) और महंगाई राहत (DR) की घोषणा करने की उम्मीद है। भले ही केंद्र सरकार ने अभी तक इस मामले पर आधिकारिक रूप से कोई टिप्पणी नहीं की है, लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि सितंबर के अंतिम सप्ताह में घोषणा की जा सकती है। कई अन्य रिपोर्टों में यह भी दावा किया गया है कि DA/DR Hike के संबंध में DA/DR Hike File अंतिम चरण में पहुंच गई है और केंद्रीय मंत्रिमंडल की Approval की प्रतीक्षा कर रही है।

सरकार DA/DR में संशोधन क्यों करती है?

केंद्र सरकार आम तौर पर केंद्र सरकार के कर्मचारियों को महंगाई भत्ता और केंद्र सरकार के पेंशनभोगियों को महंगाई राहत की घोषणा करती है ताकि महंगाई के प्रभाव को कम किया जा सके। सरकारी कर्मचारियों को ध्यान देना चाहिए कि महंगाई की दर को ध्यान में रखते हुए डीए/डीआर की दरों में समय-समय पर संशोधन किया जाता है।

E Shram Card Nipun Yojana 2022

सरकार आमतौर पर हर छह महीने में डीए/डीआर रेट में बदलाव करती है। यह मुद्रास्फीति के कारण मासिक वेतन/पेंशन संपत्ति की क्रय शक्ति में होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए किया जाता है

कैसे कैलकुलेट किया जाता है डीए?

यह मूल वेतन के प्रतिशत के रूप में गणना की जाती है:

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए: Dearness Allowance percent = ((पिछले 12 महीनों के लिए AICPI का औसत (Base Year 2001=100) -115.76)/115.76) *100
AICPI Meaning: All India Consumer Price Index है।
सार्वजनिक क्षेत्र (central government) के कर्मचारियों के लिए इस फॉर्मूले का प्रयोग किया जाता है:
महंगाई भत्ता प्रतिशत = ((पिछले 3 महीनों के लिए AICPI का औसत (आधार वर्ष 2016=100)-126.33)/126.33) *100

SSO ID Registration 2022 Check SSO ID Raj Login

डीए/डीआर बढ़ोतरी के बाद वेतन की गणना कैसे होगी?

यदि मूल वेतन/पेंशन 25,000 रुपये है, तो 38% की दर से DA/DR 9500 रुपये होगा। 34% वृद्धि दर पर, डीए/डीआर राशि 8500 रुपये है। इसका मतलब है कि वेतन 9500 रुपये से 8500 रुपये = 1000 रुपये बढ़ जाएगा।

वहीं अगर मूल वेतन/पेंशन 35,000 रुपये है, तो DA/DR 38% की दर से 13,300 रुपये होगा। 34% वृद्धि दर पर डीए/डीआर राशि 11,900 रुपये है। यानी सैलरी में 13,300 रुपये से 11,000 रुपये = 1400 रुपये की बढ़ोतरी होगी।

Samagra ID Download by Name

इसके अलावा, अगर मूल वेतन/पेंशन 45,000 रुपये है, तो 38% की दर से DA/DR 17,100 रुपये होगा। 34 फीसदी की दर से डीए/डीआर राशि 15,300 रुपये है। यानी सैलरी में 17,100 रुपये से 15,300 रुपये = 1800 रुपये की बढ़ोतरी होगी।

फिर से, यदि मूल वेतन/पेंशन 55,000 रुपये है, तो DA/DR 38% की दर से 20,900 रुपये होगा। 34% की दर से DA/DR की राशि 18,700 रुपये है। यानी सैलरी में 20,900 रुपये से 18,700 रुपये = 2200 रुपये की बढ़ोतरी होगी।

Home PageClick Here

नोट-यह न्‍यूज वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है, SarkariiYojana.in अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

Leave a Comment

close button