7th Pay Commission Fitment Factor Update: फिटमेंट फैक्टर को लेकर बनेगी बात, बढ़ेगी ढाई गुना सैलरी

7th Pay Commission Fitment Factor Latest News: केंद्रीय कर्मचारियों ( central employees) के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार (central government) इसी महीने फिटमेंट फैक्टर (fitment factor) पर बड़ा फैसला ले सकती है। केंद्र सरकार (Central Govt.) के इस फैसले से कर्मचारियों का न्यूनतम मूल वेतन (minimum basic salary) बढ़ जाएगा।

7th Pay Commission Fitment Factor

सूत्रों का कहना है कि केंद्र सरकार इसका मसौदा तैयार करेगी। जिसे सरकार से साझा किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ड्राफ्ट (draft) जमा करने के बाद इस महीने के अंत तक इस मुद्दे पर बैठक की जा सकती है। अगर यूनियन से इस पर सहमति बन जाती है तो फिटमेंट फैक्टर ( fitment factor) के तहत 52 लाख से अधिक केंद्रीय कर्मचारियों के मूल वेतन में बड़ी वृद्धि होगी।

NTA CUET Admit Card 2022

कर्मचारियों का बंपर वेतन बढ़ेगा

AICPI data के मुताबिक इस महीने dearness allowance 4 से 5 फीसदी (DA increase by 4 to 5%) तक बढ़ सकता है। अगर ऐसा हुआ तो 38 से 39 फीसदी डीए होगा. जुलाई तक के AICPI index के आंकड़े बाहर हैं। अगर सरकार फिटमेंट फैक्टर (fitment factor hike) पर सहमत होती है तो केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के Salary और Pension में वृद्धि होगी। इस बीच संघ की ओर से 8th Pay Commission की भी मांग की जा रही है, लेकिन पंकज चौधरी ने इससे साफ इनकार कर दिया है।

7th Pay Commission में अगर केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन फिटमेंट फैक्टर से तय होता है तो केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन में वृद्धि होगी. इससे केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन (salary of central employees ) में ढाई गुना से अधिक की वृद्धि हुई। फिलहाल कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर (fitment factor of the employees) 2.57 गुना की दर से है। इस आधार पर न्यूनतम मूल वेतन 18000 और अधिकतम मूल वेतन 56900 रुपये है।

CUET UG Phase 2 Admit Card 2022

कर्मचारियों की 8,000 रुपये बढ़ जायेगी सैलरी

केंद्र सरकार के कर्मचारियों (central government employees Salary) के वेतन में एक लाख रुपये की बढ़ोतरी होने जा रही है। अगर नरेंद्र मोदी सरकार फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी ( fitment factor increment) को मंजूरी दे देती है तो केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन 18,000 रुपये से बढ़कर 26,000 रुपये हो जाएगा। कर्मचारी संघ लंबे समय से फिटमेंट फैक्टर ( 7th Pay Commission Fitment Factorfitment factor) को बढ़ाने की मांग कर रहा था।

7th Pay Commission Fitment Factor को बढ़ाकर 3.68% करने की मांग

केंद्रीय कर्मचारियों की मांग है कि उनका Fitment Factorबढ़ाकर 3.68 प्रतिशत किया जाए। मौजूदा समय में उन्हें फिटमेंट फैक्टर के तहत 2.57 फीसदी के आधार पर वेतन मिलता है। अगर सरकार फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने के फैसले को मंजूरी दे देती है तो कर्मचारियों को छूट दी जाएगी।

Reet Answer Key 2022

2017 में मूल वेतन में 11,000 रुपये की वृद्धि की गई थी

बताया जा रहा है कि फिटमेंट फैक्टर बढ़ने से न्यूनतम वेतन में 8,000 रुपये की वृद्धि होगी। यानी न्यूनतम वेतन जो फिलहाल 18,000 रुपये है, उसे बढ़ाकर 26,000 रुपये कर दिया जाएगा। बता दें कि साल 2017 में केंद्र सरकार ने एंट्री लेवल बेसिक पे (entry level basic pay) को 7,000 रुपये से बढ़ाकर 18,000 रुपये प्रतिमाह कर दिया था।

34 संशोधनों के साथ Seventh Pay Commission को मिली मंजूरी

नरेंद्र मोदी सरकार ने 7th Central Pay Commission की सिफारिशों को जून 2017 में 34 संशोधनों के साथ मंजूरी दी थी। इसमें प्रवेश स्तर पर न्यूनतम वेतन 7,000 रुपये प्रति माह से बढ़ाकर 18,000 रुपये प्रति माह कर दिया गया। वहीं, उच्चतम स्तर यानि सचिव रैंक के अधिकारियों का मूल वेतन 90,000 रुपये से बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये कर दिया गया है. प्रथम श्रेणी के अधिकारियों के लिए प्रारंभिक वेतन या न्यूनतम वेतन 56,100 रुपये था।

इस प्रकार फिटमेंट फैक्टर की गणना (How Fitment Factor Calculated?)

मान लीजिए कि वर्तमान में किसी सरकारी कर्मचारी (government employee) का न्यूनतम वेतन 18,000 रुपये है। अन्य भत्तों को छोड़कर और वेतन की गणना केवल 2.57 प्रतिशत फिटमेंट फैक्टर (fitment factor) के आधार पर की जाती है, तो आपकी सैलरी 18,000X2.57 = 46,260 रुपये होगी। अगर फिटमेंट फैक्टर बढ़कर 3.68 हो जाता है, तो आपका वेतन 26,000X3.68 = 95,680 रुपये होगा।

Home PageClick Here
close button