7th Pay Commission : केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, घर बनवाना हुआ सस्ता

7th Pay Commission : RBI इस महीने के अंत तक एक बार फिर रेपो रेट में 0.25 फीसदी से लेकर 0.35 फीसदी की बढ़त कर सकते हैं। बता दें कि पिछले महीने ही RBI ने रेपो रेट में बढ़त की थी जिसके चलते देश के कई बैंकों ने अपने Savings और FD interest rates में बदलाव किया था। RBI के Repo rate में वृद्धि करने से लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती है।

7th Pay Commission

रेपो रेट बढ़ने से लोन अपडेट

आपको बता दें कि रेपो रेट (Repo Rate) बढ़ने से बैंक लोन महंगा हो जाता है। वहीं जिन लोगों ने पहले से लोन लिया है उनकी EMI में बढ़त हो जाती है। हालांकि इस फैसले पर केंद्रीय कर्मचारियों पर कोई असर नहीं होगा। क्योंकि केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को कम ब्याज दर पर घर बनाने के लिए लोन देती है। शहरी विकास मंत्रालय ने HBA की ब्याज दर को घटाकर 7.1 फीसदी कर दिया गया है। वहीं अगर RBI रेपो रेट को बढ़ाता है तो बैंक होम लोन पर ब्याज दर 8.50 से 9 फीसदी हो जाएगा।

7th Pay Commission के तहत ले सकते हैं 25 लाख तक का लोन

पहले केंद्रीय कर्मचारियों के लिए house building advance 7.90 फीसदी था। वहीं इस साल इसे घटाकर 7.1 फीसदी कर दिया गया। केंद्रीय कर्मचारी हाउस बिल्डिंग एडवांस लेकर कम ब्याज दर पर अपना घर बनवा सकते हैं। केंद्र सरकार हाउस बिल्डिंग एडवांस (House Building Advance) पर ब्याज दरें 10 साल के सरकारी बांड के रिटर्न के आधार पर तय करती है। सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) और हाउस बिल्डिंग एडवांस के अनुसार केंद्रीय कर्मचारी को 25 लाख तक का लोन घर बनवाने के लिए ले सकते हैं।

7th Pay Commission जल्द मिलेगा DA का पैसा

केंद्रीय कर्मचारियों को लेकर सरकार त्योहारी सीजन में महंगाई भत्ते का भुगतान करेगी। इस बार सरकार ने 4 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता बढ़ाया जा सकता है । अब केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 38 फीसदी से भुगतान किया जा सकता है। महंगाई भत्ता AICPI इंडेक्स पर निर्भर करता है। महंगाई भत्ता बढ़ने से करीब 60 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 40 लाख पेंशनर्स को फायदा होगा। बढ़ा हुआ महंगाई भत्ते का भुगतान सितम्बर 2022 की सैलेरी में होगा। इसके साथ ही 2 महीने जुलाई और अगस्त के एरियर का पैसा भी दिया जा सकता है।

7th Pay CommissionClick Here
Home PageClick Here

नोट-यह न्‍यूज वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. SarkariiYojana.in अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

close button