7th Pay Commission: मिलने जा रहा है बड़ा तोहफा, अगले महीने इतनी बढ़कर आएगी Salary

7th Pay Commission: सितंबर का महीना केंद्रीय कर्मचारियों के लिए तीन खुशखबरी लेकर आने वाला है। अगस्त-सितंबर में केंद्रीय कर्मचारियों (Central employees) को तीन सौगात मिलने जा रही है। उनके ऐलान पर कर्मचारियों के खाते में बड़ी रकम आएगी. पहली अच्छी खबर कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) को लेकर है, सरकार सितंबर के पहले हफ्ते में महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी ( 4 percent increase in the dearness allowance ) का ऐलान कर सकती है. दूसरा डीए बकाया (DA arrears) पर सरकार के साथ चल रही बातचीत पर फैसला आ सकता है। तीसरा तोहफा प्रोविडेंट फंड (Provident Fund (PF)) से जुड़ा है, जिसके तहत सितंबर के आखिर तक PF account में ब्याज का पैसा आ सकता है।

7th Pay Commission

बढ़ जाएगा महंगाई भत्ता !

June AICPI index 129.2 अंक पर आने से महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी (DA Hike 4%) का रास्ता साफ हो गया है. कर्मचारियों के डीए में 4 प्रतिशत की वृद्धि (4 per cent DA) के साथ यह बढ़कर 38 प्रतिशत हो जाएगा। फरवरी के बाद से AICPI Index में उछाल आया है। जून के आंकड़ों के मुताबिक, यह बढ़कर 129 हो गया। सरकार सितंबर के पहले सप्ताह में महंगाई भत्ते की घोषणा कर सकती है, जो 1 जुलाई से प्रभावी होगी। कर्मचारियों के सितंबर वेतन के साथ DA का बकाया (arrears of DA) भी आएगा।

डीए बकाया (DA arrears) पर निर्णय

18 महीने के एरियर (18 months arrears) का मामला पीएम मोदी तक पहुंच गया है. इस पर भी जल्द ही फैसला आने की उम्मीद है। केंद्रीय कर्मचारियों (Central employees) को सरकार से उम्मीद है कि उन्हें जल्द ही 18 माह का बकाया महंगाई भत्ता (18 months of outstanding dearness allowance) मिल जाएगा। आपको बता दें कि मई 2020 में कोविड-19 महामारी के चलते वित्त मंत्रालय ने 30 जून 2021 तक डीए वृद्धि (DA increment) पर रोक लगा दी थी।

मिलेगा पीएफ का ब्याज पैसा (PF interest money )

Employees’ Provident Fund Organization (EPFO) के 7 करोड़ से अधिक अंशधारकों को भी खाते में ब्याज मिलने की खुशखबरी मिल सकती है. पीएफ खाताधारकों (PF account holders ) के खाते में सितंबर माह में ब्याज का पैसा ट्रांसफर होने की उम्मीद है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पीएफ पर ब्याज (interest of PF) की गणना की गई है. इस बार खाते में 8.1 प्रतिशत की दर से पीएफ का ब्याज आएगा

7th pay commission Fitment Factor Update

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगस्त में केंद्र की मोदी सरकार dearness allowance (7th Pay Commission) और DA arrears के साथ fitment factor बढ़ाने पर फैसला ले सकती है. fitment factor को 2.57 फीसदी से बढ़ाकर 3.68 फीसदी किए जाने की संभावना है। अगर सहमति हुई तो इसे 1 सितंबर 2022 से लागू किया जा सकता है। इससे मूल वेतन में 8,000 की वृद्धि होगी, यह 18,000 से बढ़कर 26,000 हो जाएगी। इसके लागू होने से केंद्रीय कर्मचारियों ( central employees) का न्यूनतम वेतन स्तर का मैट्रिक्स 1 26,000 रुपये से शुरू हो जाएगा। हालांकि अभी तक सरकार की ओर से कोई पुष्टि नहीं की गई है।

कैसे तय होता है बेसिक सैलरी?

दरअसल केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी तय करने में fitment factor की अहम भूमिका मानी जाती है. इससे केंद्रीय कर्मचारियों (central employees) के वेतन में ढाई गुना से अधिक की वृद्धि हो जाती है। fitment factor,के आधार पर पुराने मूल वेतन से संशोधित मूल वेतन की गणना की जाती है। पिछले वेतन आयोग की रिपोर्ट में फिटमेंट फैक्टर एक अहम सिफारिश है, जिसके आधार पर वेतन वृद्धि तय की जाएगी। मांग को 2.57 प्रतिशत से बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत किया जा रहा है ताकि मूल वेतन में वृद्धि की जा सके।

अभी कर्मचारियों का fitment factor 2.57 गुना है। इस आधार पर न्यूनतम मूल वेतन 18,000 और अधिकतम मूल वेतन 56,900 रुपये है। अंतिम प्रवेश स्तर के मूल वेतन को 2017 में 7,000 रुपये से बढ़ाकर 18,000 रुपये प्रति माह किया गया था। अब अगर इसे मंजूरी दी जाती है, तो न्यूनतम मूल वेतन में 8,000 रुपये की वृद्धि की जाएगी। वर्तमान में वेतन-स्तर-1 पर मूल वेतन 18,000 रुपये है। अगर फिटमेंट फैक्टर बढ़ता है तो यह 26,000 रुपये होगा।

फिटमेंट फैक्टर सैलरी कैलकुलेशन (Fitment Factor Salary Calculation)

6th Pay Commission के तहत न्यूनतम वेतनमान 7,000 रुपये था, जिसमें 1.86 गुना फिटमेंट फैक्टर और 54 फीसदी की वृद्धि हुई थी।
7th Pay Commissionग के तहत न्यूनतम वेतनमान फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना और 14.29 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 18,000 रुपये कर दिया गया है।

अब यदि 8th Pay Commission के तहत फिटमेंट फैक्टर 3.68 गुना है तो न्यूनतम वेतनमान 26,000 होगा।
उदाहरण के लिए, यदि एक केंद्रीय कर्मचारी का मूल वेतन 18,000 रुपये है, तो उसका वेतन भत्ते को छोड़कर 18,000 रुपये X 2.57 = 46,260 रुपये का लाभ होगा।
3.68 होने पर सैलरी 95,680 रुपए (26000 X 3.68 = 95,680) यानी 49,420 रुपए होगी।

Home PageClick Here
close button