7th Pay Commission Salary Update: सरकारी कर्मचारी को मिलेगी गुड न्यूज! सैलरी में 49,000 से 95,000 तक उछाल

7th Pay Commission Salary Update News: मीडिया रिपोर्ट्स (7th Central Pay Commission News) के मुताबिक, August में केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) महंगाई भत्ते (7th Pay Commission) और डीए एरियर (DA arrears) के साथ फिटमेंट फैक्टर (fitment factor) बढ़ाने पर फैसला ले सकती है। fitment factor को 2.57 फीसदी से बढ़ाकर 3.68 फीसदी किए जाने की संभावना है।

7th Pay Commission Salary Update

सहमति हुई तो इसे 1 सितंबर 2022 से लागू किया जा सकता है। इससे मूल वेतन 8,000 की बढ़ोतरी होगी जिससे सैलरी 18,000 से बढ़कर 26,000 हो जाएगा। इसके लागू होने से केंद्रीय कर्मचारियों (central employees) का न्यूनतम वेतन स्तर का मैट्रिक्स 1 26,000 रुपये से शुरू हो जाएगा। हालांकि अभी तक सरकार की ओर से कोई पुष्टि नहीं की गई है।

CUET UG Phase 2 Admit Card 2022

कैसे तय होता है मूल वेतन?

दरअसल केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी (basic salary of central employees) तय करने में fitment factor की अहम भूमिका मानी जाती है. इससे केंद्रीय कर्मचारियों (central employees) के वेतन में ढाई गुना से अधिक की वृद्धि हो जाती है। fitment factor के आधार पर पुराने मूल वेतन (old basic pay) से संशोधित मूल वेतन की गणना की जाती है। पिछले वेतन आयोग की रिपोर्ट ( last Pay Commission report) में fitment factor एक महत्वपूर्ण सिफारिश है, जिसके आधार पर वेतन वृद्धि (salary hike) तय की जाएगी। मांग को 2.57 प्रतिशत से बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत किया जा रहा है ताकि मूल वेतन में वृद्धि की जा सके।

Reet Answer Key 2022

वर्तमान में कर्मचारियों का fitment factor 2.57 गुना है। इस आधार पर न्यूनतम मूल वेतन 18,000 रुपये और अधिकतम मूल वेतन 56,900 रुपये है। पिछली बार 2017 में प्रवेश स्तर के मूल वेतन को 7,000 रुपये से बढ़ाकर 18,000 रुपये प्रति किया गया था। अब अगर इसे मंजूरी मिलती है तो न्यूनतम मूल वेतन में 8,000 की वृद्धि की जाएगी। वर्तमान में वेतन-स्तर -1 पर मूल वेतन 18,000 रुपये है. अगर 7th pay commission fitment factor बढ़ता है तो यह 26,000 रुपये होगा।

NTA CUET Admit Card 2022

फिटमेंट फैक्टर सैलरी कैलकुलेशन (Fitment Factor Salary Calculation)

6th Pay Commission के तहत न्यूनतम वेतनमान 7,000 रुपये था, जिसमें 1.86 गुना फिटमेंट फैक्टर और 54 फीसदी की वृद्धि हुई थी।
7th Pay Commissionके तहत न्यूनतम वेतनमान फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना और 14.29 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 18,000 रुपये कर दिया गया है।
अब यदि 8th Pay Commission के तहत fitment factor 3.68 गुना है तो न्यूनतम वेतनमान 26,000 होगा।
उदाहरण के लिए, यदि एक केंद्रीय कर्मचारी का मूल वेतन 18,000 रुपये है, तो उसका वेतन भत्ते को छोड़कर 18,000 रुपये X 2.57 = 46,260 रुपये का लाभ होगा।
3.68 होने पर सैलरी 95,680 रुपए (26000 X 3.68 = 95,680) यानी 49,420 रुपए होगी।

Home PageClick Here
close button