7th Pay Commission: गुड न्यूज! तनख्वाह में आएगा 96,000 तक उछाल, लेटेस्ट अपडेट

7th Pay Commission September Salary News: त्योहारों के मौसम में केंद्र सरकार के कर्मचारियों को एक साथ कई तोहफे मिल सकते हैं। एक तरफ जहां 4% कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाने (DA Hike 4%) को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं, वहीं उम्मीद है कि दशहरे से पहले फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor Latest Update) पर भी विचार किया जा सकता है। यदि ऐसा होता है तो मूल वेतन 26000 होगा और विभिन्न स्तरों के कर्मचारियों को Salary में 49000 से 96000 तक लाभ मिलेगा। पिछले वेतन आयोग की रिपोर्ट (last Pay Commission report) में फिटमेंट फैक्टर (fitment factor) एक महत्वपूर्ण सिफारिश है, जिसके आधार पर वेतन वृद्धि निर्णय लिया जाएगा।

7th Pay Commission September Salary

दरअसल, केंद्रीय कर्मचारियों (central employees) का मूल वेतन तय करने में फिटमेंट फैक्टर (fitment factor) की अहम भूमिका मानी जाती है। 7th Pay Commission में कर्मचारियों की सैलरी फिटमेंट फैक्टर के हिसाब से तय होती है। इस वजह से केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में ढाई गुना से ज्यादा का इजाफा हो जाता है। फिलहाल कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 फीसदी है। फिटमेंट फैक्टर के आधार पर पुराने मूल वेतन से संशोधित मूल वेतन की गणना की जाती है। पिछली बार 2017 में एंट्री लेवल बेसिक पे को 7000 रुपये से बढ़ाकर 18000 रुपये प्रति माह किया गया था। इसके लागू होने से Level Matrix 1 से केंद्रीय कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 26,000 रुपये से शुरू हो जाएगा।

तनख्वाह में आएगा 96,000 तक उछाल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आने वाले चुनावों से पहले मोदी सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर को बढ़ा सकती है. फिटमेंट फैक्टर को 2.57 प्रतिशत से बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत किया जा सकता है। 18000 से बढ़कर 26000 हो जाएगी। इससे 52 लाख से अधिक कर्मचारियों को लाभ होगा। हालांकि, सरकार की ओर से अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि या बयान नहीं आया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक माना जा रहा है कि इसके लिए एक ड्राफ्ट भी तैयार किया जाएगा, जिसे जल्द ही केंद्र सरकार के साथ साझा किया जाएगा। इसी संघ और सरकार की बैठक में विस्तार से चर्चा करने के बाद सितंबर में इस पर निर्णय लिया जा सकता है। हाल ही में सदन में केंद्र सरकार ने 8वीं वेतन राशि लागू करने के विषय पर किसी भी विचार और प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कर्मचारी संघों का कहना है कि वे कर्मचारियों के वेतन को लेकर एक ज्ञापन तैयार कर रहे हैं, जिसे जल्द ही सरकार को सौंप दिया जाएगा। इस ज्ञापन में सिफारिशों के मुताबिक वेतन बढ़ाने या आठवां वेतन आयोग लाने की मांग की जाएगी। सूत्रों की मानें तो सरकार नए वेतन आयोग की जगह नई वेतन व्यवस्था लागू कर सकती है, जिससे सरकारी कर्मचारियों की सैलरी अपने आप बढ़ जाएगी। यह एक ‘Automatic Pay Revision System’ हो सकता है, जिसमें डीए 50 फीसदी से ज्यादा होने पर सैलरी में ऑटोमेटिक रिवीजन होगा।

`तनख्वाह में होगा बड़ा फायदा

उदाहरण के लिए, वर्तमान में केंद्रीय कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना है, इस आधार पर न्यूनतम मूल वेतन 18000 रुपये और अधिकतम मूल वेतन 56900 रुपये है। यदि किसी केंद्रीय कर्मचारी का मूल वेतन 18,000 रुपये है, तो उसका वेतन को छोड़कर भत्ते होंगे 18,000 X 2.57 = 46,260 रुपये का लाभ। 3.68 होने पर वेतन 95,680 रुपये (26000 X 3.68 = 95,680) होगा यानी वेतन में 49,420 रुपये का लाभ होगा।

Home PageClick Here

नोट-यह न्‍यूज वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है, SarkariiYojana.in अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

close button