EPFO New Rules: EPF खाताधारक को मिलेगा 50,000 का अतिरिक्त Bonus, जानें डिटेल्स

EPFO New Rules: Employees’ Provident Fund Organization (EPFO) के सदस्यों को PF खाते से जुड़े अहम नियमों की जानकारी नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ सदस्य अपने खाते से जुड़े लाभों का लाभ भी नहीं उठा पाएंगे।

EPFO New Rules

50,000 रुपये तक का फायदा

ऐसे में नुकसान की संभावना बनी रहती है। ज्यादातर सदस्य EDLI scheme के तहत बीमा, पेंशन, 7 लाख रुपये की आयकर कटौती (income tax deduction ) जैसे नियम जानते हैं। लेकिन, इसके अलावा लॉयल्टी कम लाइफ बेनिफिट (loyalty-cum-life benefit) से जुड़ा एक नियम भी है। इस बेनिफिट में कर्मचारी को रिटायरमेंट के समय 50,000 रुपये तक का फायदा मिल सकता है। वास्तव में, सभी EPF account holders को सलाह दी जाती है कि नौकरी बदलने के बाद भी उसी EPF account में योगदान करना जारी रखें।

साथ ही, वे लगातार 20 वर्षों तक एक ही खाते में योगदान करने के बाद वफादारी-सह-जीवन लाभ प्राप्त कर सकते हैं। EPFO ​​expert भानु प्रताप शर्मा के मुताबिक, CBDT ने उन खाताधारकों को loyalty-cum-life benefit का लाभ देने की सिफारिश की है, जिन्होंने अपने EPF account में 20 साल से योगदान दिया है।

EPFO ​​account खुला रखा जाए

इसे केंद्र सरकार (Central Government) ने मंजूरी दे दी है। इसका मतलब है कि यदि कोई योग्य है तो उसे 50,000/- रुपये का अतिरिक्त लाभ मिलेगा। loyalty-cum-life benefit के तहत 5,000 रुपये तक के मूल वेतन वाले लोगों को 30,000 रुपये का लाभ मिलेगा। जिनकी बेसिक सैलरी 5,001 रुपये से 10,000 रुपये के बीच है, उन्हें भी बम्पर लाभ मिलेगा। इसका लाभ उठाने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि EPFO ​​member के नौकरी बदलने पर भी EPFO ​​account खुला रखा जाए।

इसके लिए आपको अपने पुराने नियोक्ता और मौजूदा नियोक्ता को सूचित करना होगा। सलाह दी जाती है कि काम के दौरान पीएफ न निकालें। रिटायरमेंट फंड (Retirement fund ) के सदस्यों को income tax समेत पेंशन लाभ नुकसान हो सकता है।

EPFOClick Here
Home PageClick Here
close button