Revised Pay Scale Arrear: कर्मचारियों-पेंशनरों को राहत, इस राज्य में मिलेगा 60,000 रुपये तक का नकद एरियर

Revised Pay Scale Arrear: लाखों कर्मचारियों को संशोधित वेतनमान (revised pay scale) के सितंबर वेतन के बकाया में नकद राशि मिलेगी। इस संबंध में अपर मुख्य सचिव, वित्त की ओर से सभी डीसी व एसपी समेत उच्च न्यायालय के सभी सचिवों, विभागाध्यक्षों, Registrar General को पत्र जारी किया गया है।

Revised Pay Scale Arrear

हिमाचल प्रदेश के लाखों कर्मचारियों को September Salary के बकाया में संशोधित वेतनमान मिलेगा। इस संबंध में अपर मुख्य सचिव, वित्त की ओर से सभी डीसी व एसपी समेत उच्च न्यायालय के सभी सचिवों, विभागाध्यक्षों, रजिस्ट्रार जनरल को पत्र जारी किया गया है। शासन द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार संशोधित वेतनमान की बकाया राशि (arrears of revised pay scale payment) का भुगतान सरकारी कर्मचारियों को आवश्यक समायोजन कर नकद भुगतान किया जायेगा। arrears का भुगतान ग्रुप A, B, C और D कैटेगरी में किया जाएगा। इन श्रेणी के Employees को 50,000 रुपये तक का बकाया नकद में दिया जाएगा। चतुर्थ श्रेणी के Employees को 60,000 रुपये तक के बकाया का भुगतान नकद में किया जाएगा।

साथ ही, उन सरकारी सेवकों (Govt Employees) को संशोधित वेतन बकाया का भुगतान नहीं किया जा सकता है, जिन्होंने निर्देश संख्या (पीआर)-बी (7)-1/2021 के तहत न्यूनतम 15 प्रतिशत की वृद्धि के माध्यम से संशोधित वेतन का निर्धारण किया है। वहीं, कर्मचारियों को पहले से जारी अंतरिम राहत राशि का समायोजन बकाया राशि (interim relief amount ) में किया जाएगा। सरकार ने अपने आदेशों में स्पष्ट किया है कि राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (National Pension System) के अंतर्गत आने वाले कर्मचारियों के मामले में बकाया का भुगतान आयकर की कटौती के अधीन होगा।

इसी प्रकार 1 जनवरी 2016 से 31 दिसम्बर 2021 तक विभिन्न सरकारी विभागों या राज्य सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों/बोर्डों/निगमों आदि में कार्य कर चुके राज्य सरकार के कर्मचारियों के arrears का बकाया तैयार कर वितरण विभाग की ओर से किया जायेगा। यह आदेश उन सरकारी कर्मचारियों पर भी लागू होगा जिनका वेतन UGC के वेतन ढांचे के तहत जारी किया जाता है। इनमें विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के सैकड़ों शिक्षक (Teachers) शामिल हैं।

श्रेणी एरियर(हजार रुपये में)
क्लास-1 ऑफिसर(ग्रुप A) 50,000
क्लास-2ऑफिसर(ग्रुप B)50,000
तृतीय श्रेणी कर्मी(ग्रुप C)50,000
चतुर्थ श्रेणी कर्मी(ग्रुप D)60,000

पेंशनरों को मिलेगा ये लाभ

सरकार द्वारा जारी आदेशों के अनुसार, 1 जनवरी 2016 को या उसके बाद सेवानिवृत्त/मृत्यु होने वाले Employees को September 2022 के महीने में Pension और पारिवारिक पेंशन बकाया के प्रत्येक तत्व का 20 प्रतिशत का भुगतान किया जाएगा। इसके लिए उच्चतम सीमा 50,000 रुपये निर्धारित की गई है। साथ ही 1 जनवरी, 2016 को या उसके बाद सेवानिवृत्त/मृत्यु हो चुके Employees को भी 20 प्रतिशत Gratuity का भुगतान किया जाएगा। वहीं, 2016 से पहले के पेंशनभोगियों/पारिवारिक पेंशनभोगियों को भी 20 प्रतिशत बकाया का भुगतान किया जाएगा। पेंशन/कुटुंब पेंशन में संशोधन के कारण 1 जनवरी 2016 को अर्जित पेंशन/पारिवारिक पेंशन। यह बकाया 1 जनवरी 2016 से 31 जनवरी 2022 तक 50,000 की उच्चतम सीमा और आवश्यक समायोजन के साथ देय होगा।

30 सितंबर को हजारों सरकारी कर्मचारी नियमित होंगे

वहीं, राज्य सरकार (State Govt) के विभिन्न विभागों, निगमों और बोर्डों में दो साल की सेवा पूरी करने वाले हजारों कर्मचारियों को 30 सितंबर को नियमित किया जाएगा। कार्मिक विभाग के आदेश पर विभागीय अधिकारियों (departmental officers) ने दो साल की सेवा पूरी करने वाले कर्मचारियों को नियमित करने की कवायद शुरू कर दी है। जिला अधिकारियों को सभी वर्ग के ऐसे कर्मचारियों की सूची निदेशालयों को सौंपने को कहा गया है। राज्य सरकार प्रत्येक वर्ष 31 मार्च और 30 सितंबर को दो वर्ष की सेवा पूर्ण करने वाले Employees को नियमित करती है।

Home PageClick Here

नोट-यह न्‍यूज वेबसाइट से मिली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है, SarkariiYojana.in अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

close button