15-15-15 Rule : क्या है 15-15-15 का नियम? इसे जानकर बने करोड़पति

15-15-15 Rule : अगर आपने हाल ही में नौकरी ज्वाइन की है या अपना खुद का व्यवसाय शुरू किया है? यदि आप अच्छे रिटर्न और निवेश के विकल्पों की तलाश में हैं तो आप म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) में निवेश करके एक अच्छा जीवन यापन कर सकते हैं। खुदरा निवेशक म्यूचुअल फंड के माध्यम से शेयर बाजार (Share Market) में पैसा लगा सकते हैं। अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करते समय 15-15-15 के नियम (15-15-15 Rule) का पालन करते हैं तो आप बहुत जल्द करोड़पति बन सकते हैं।

जानिए क्या है 15-15-15 का नियम

ऑप्टिमा मनी मैनेजर्स के संस्थापक और सीईओ पंकज मठपाल ने 15-15-15 के नियम (15-15-15 Rule) की व्याख्या करते हुए कहा कि 15-15-15 प्रति माह निवेश की जाने वाली राशि, समय और ब्याज दर के बारे में है। मान लीजिए कोई व्यक्ति 15 साल के लिए हर महीने 15,000 रुपये का निवेश करता है और उसे औसतन 15% का सालाना रिटर्न मिलता है, तो वह करोड़पति बन सकता है।

सीईओ पंकज मठपाल ने बताया कि अगर कोई व्यक्ति 15 साल के लिए हर महीने 15,000 रुपये जमा करता है तो उसे कुल 27 लाख रुपये का निवेश करना होगा। यदि रिटर्न की औसत वार्षिक दर 15 प्रतिशत है तो वह 27 लाख रुपये के निवेश पर 15 वर्षों में कुल 74,52,946 रुपये का रिटर्न प्राप्त कर सकता है। इस प्रकार उसके निवेश का कुल मूल्य 1.01 करोड़ रुपये हो जाएगा।

15000 निवेश करने पर मिलेगा दो गुना फायदा

वित्तीय योजनाकारों का कहना है कि जब आप लंबी अवधि के लिए निवेश करते हैं तो आपको चक्रवृद्धि लाभ मिलता है। उदाहरण के लिए अगर आप 15 के बजाय 20 साल के लिए 15,000 रुपये का निवेश करते रहेंगे तो आपको 20 साल बाद 15% की दर से 2.27 करोड़ रुपये मिलेंगे। इसका मतलब है कि पांच साल और निवेश करने के बाद आपको मिलने वाली राशि दोगुनी हो जाती है।

AMFI ने जारी किए आंकड़े

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) ने शुक्रवार को अपने आंकड़े जारी किए। आंकड़ों के मुताबिक फरवरी में इक्विटी म्यूचुअल फंड में शुद्ध निवेश 19,705 करोड़ रुपये रहा। जनवरी में यह आंकड़ा 14,888 करोड़ रुपये था।

रूस-यूक्रेन युद्ध में बाजार में आई गिरावट

रूस-यूक्रेन युद्ध और कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों ने फरवरी के अंत और मार्च की शुरुआत में बाजार में भारी गिरावट देखने को मिली है। साथ ही SIP का योगदान मार्च में बढ़कर 12,328 करोड़ रुपये हो गया। यह फरवरी के 11,438 करोड़ रुपये के मुकाबले करीब 8 फीसदी ज्यादा है। मार्च 2022 में सभी श्रेणियों में निवेश किया गया। 8,170 करोड़ रुपये के शुद्ध निवेश के साथ सबसे ज्यादा रकम मल्टी-कैप फंड कैटेगरी में आई। पिछले महीने मार्च में निवेश में 44 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई।

close button