7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के 1 मई को एक साथ आएंगे इतने हजार रुपये

7th Pay Commission latest news : केंद्रीय कर्मचारियों (central employees) के लिए लगातार खुशखबरी आ रही है केंद्र सरकार (central government) ने अपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते (dearness allowance) में इजाफा किया है। केंद्र सरकार ने जैसे ही महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की, केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 9 महीने में दोगुना हो गया है।

केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को अब 34 प्रतिशत यानी करीब 9 महीने की दर से डीए मिलेगा। पहले यह केवल 17 प्रतिशत था। यानी 9 महीने में केंद्रीय कर्मचारियों का DA 17 फीसदी से दोगुना होकर 34 फीसदी हो गया है। इससे 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को लाभ होगा। हालांकि, इस पहल पर सरकार को सालाना 9544.50 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

7th Pay Commission
7th Pay Commission

latest new on 7th pay commission

पिछले साल जुलाई 2021 में कर्मचारियों का डीए 17 प्रतिशत था। इसके बाद सरकार ने जुलाई माह में डीए में 11 फीसदी की बढ़ोतरी की थी। इससे उनका DA 17 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी हो गया था। इसके बाद नवंबर 2021 में डीए में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की गई। इसके बाद डीए 31 फीसदी हो गया। पिछले महीने 30 मार्च को सरकार ने एक बार फिर कर्मचारियों के डीए में 3 फीसदी की बढ़ोतरी का ऐलान किया था, जो अब बढ़कर 34 फीसदी हो गया है।

डीए और डीआर में यह बढ़ोतरी एक जनवरी 2022 से लागू हो गई है। अब मार्च का वेतन जारी होने के बाद कर्मचारियों के खाते में डीए का बकाया जारी किया जा सकेगा। यानी अप्रैल के महीने में केंद्रीय कर्मचारियों के खाते में भारी रकम आने वाली है। केंद्र सरकार की इस घोषणा से एक करोड़ से अधिक सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों यानी 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा

आपको बता दें कि केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन 18,000 रुपये से 56,900 रुपये के बीच होता है। महंगाई भत्ता 34 फीसदी होने पर न्यूनतम मूल वेतन की गणना पर नजर डालें तो एक केंद्रीय कर्मचारी का न्यूनतम मूल वेतन 18,000 रुपये है। डीए के 34 प्रतिशत होने के बाद यह 5580 रुपये बढ़कर 6120 रुपये प्रति माह हो जाएगा। यानी वेतन में 540 रुपये प्रति माह की वृद्धि होगी। ऐसे में मई माह में 18,000 रुपये के मूल वेतन वाले कर्मचारियों के खाते में 2160 रुपये (540X4 = 2160) की वृद्धि होगी। वहीं अगर सालाना आधार पर सैलरी पर नजर डालें तो इसमें 6,480 रुपये की बढ़ोतरी होगी।

वहीं, अधिकतम मूल वेतन 56,900 के वेतन में मासिक रूप से 1707 रुपये की बढ़ोतरी की जाएगी। ऐसे में मई माह में 56,900 रुपये के मूल वेतन वाले कर्मचारियों के खाते में 6828 रुपये (1707X4 = 6828) बढ़ जाएंगे। इस हिसाब से इन कर्मचारियों के वेतन में सालाना आधार पर 20,484 रुपये का इजाफा होगा। केंद्रीय कर्मचारी चाहें तो वेतन के हिसाब से वेतन की गणना कर सकते हैं।

बेसिक पे पर ऐसे बढ़ेगा DA

न्यूनतम बेसिक सैलरी पर कैलकुलेशन

बेसिक सैलरी: 18,000 रुपये

नया महंगाई भत्ता (34%): 6120 रुपये/महीने

नया महंगाई भत्ता (34%): 73,440 रुपये/सालाना

अब तक महंगाई भत्ता (31%): 5580 रुपये/महीने

महंगाई भत्ता कितना बढ़ा: 6120- 5580 = 540 रुपये/महीने

मई में कितना मिलेगा: 540X4= 2,160 रुपये

सालाना सैलरी में इजाफा: 540X12= 6,480 रुपये

अधिकतम बेसिक सैलरी पर कैलकुलेशन

बेसिक सैलरी: 56,900 रुपये

नया महंगाई भत्ता (34%): 19,346 रुपये/महीने

नया महंगाई भत्ता (34%): 232,152 रुपये/सालाना

अबतक महंगाई भत्ता (31%): 17639 रुपए/महीने

कितना महंगाई भत्ता बढ़ा: 19346-17639= 1,707 रुपये/महीने

मई में कितना मिलेगा: 1,707 X4= 6,828 रुपये

सालाना सैलरी में इजाफा: 1,707 X12= 20,484 रुपये

बढ़ने वाली है रिटायरमेंट उम्र और पेंशन

central employees के लिए खुशखबरी है। central government एक बार फिर अपने 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को बड़ा तोहफा देने की तैयारी में है। अगर सब कुछ ठीक रहा तो केंद्रीय कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र बढ़ सकती है, लेकिन पेंशनभोगियों की पेंशन की रकम एक बार फिर बढ़ सकती है।

बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु (retirement age)और पेंशन राशि ( pension amount) बढ़ाने पर सरकार विचार कर रही है। जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार समिति की ओर से सरकार के पास एक प्रस्ताव भेजा गया है, जिसमें सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने की बात कही गई है. साथ ही समिति ने सरकार को Universal Pension System लागू करने का सुझाव दिया है।

close button