7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को 1 जुलाई से मिलेगा बढ़ा हुआ वेतन, जानिए डिटेल्स

7th Pay Commission: एक दो महीने में केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए और अच्छी किस्मत आ सकती है। केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में एक और बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है क्योंकि सरकार जुलाई में महंगाई भत्ता (डीए) बढ़ाने की योजना बना रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कर्मचारी जुलाई या अगले महीने अगस्त में अपने बैंक खातों में बढ़ा हुआ वेतन खाता देख सकते हैं। यहां यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि सरकार द्वारा कर्मचारियों को जनवरी और जुलाई के महीनों में वर्ष में दो बार डीए वृद्धि प्रदान की जाती है। खुदरा मुद्रास्फीति पर नवीनतम आंकड़ों के आधार पर वृद्धि प्रतिशत तय किया गया है

उम्मीद है कि अप्रैल 2022 के लिए खुदरा मुद्रास्फीति के आंकड़े इसी सप्ताह सामने आएंगे। इस साल फरवरी में 6.1 फीसदी से 0.9 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद मार्च में मुद्रास्फीति की दर बढ़कर 7 फीसदी हो गई. खाद्य और खाद्य उत्पादों की बढ़ती कीमतों के बीच मुद्रास्फीति में हालिया वृद्धि आई है।

7th Pay Commission

एक जुलाई से केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ने जा रहा है। कर्मचारियों का महंगाई भत्ता अब सीधे 38 फीसदी होगा। इस बढ़ोतरी का फायदा उन्हें वेतन में बंपर बढ़ोतरी के रूप में देखने को मिलेगा। आइए जानते हैं कि कितनी बढ़ेगी सैलरी? बढ़ती महंगाई के बीच जुलाई में कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की जा सकती है। मार्च में आए All India Consumer Price Index (AICPI) से फैसला लिया गया है कि जुलाई-अगस्त में महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।

central government employees के लिए कितनी वृद्धि की उम्मीद है?

बढ़ती महंगाई के बीच केंद्र जुलाई में कर्मचारियों का DA बढ़ा सकता है। रिपोर्ट के अनुसार, डीए में 4% की बढ़ोतरी की जा सकती है, जो जुलाई-अगस्त के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक AICPI के आधार पर तय की गई है।

2022 के पहले दो महीनों – जनवरी और फरवरी के लिए AICP Index में गिरावट देखी गई। जनवरी में 125.1 से फरवरी में 125 तक, इसके बाद मार्च में 1 अंक की छलांग लगाकर 126 पर पहुंच गया। अप्रैल, मई और जून के अगले तीन महीनों के लिए एआईसीपी के आंकड़े आने बाकी हैं। सूचकांक 126 से ऊपर चढ़ने से सरकार को 4% डीए बढ़ोतरी देने में मदद मिलेगी।

वेतन पर असर

4 प्रतिशत की वृद्धि से डीए का आंकड़ा मौजूदा 34 प्रतिशत से 38 प्रतिशत हो जाएगा। इससे केंद्र सरकार के कर्मचारियों को उनके बैंक खातों में मिलने वाले अधिकतम और न्यूनतम मूल वेतन में बढ़ोतरी पर असर पड़ेगा। बढ़ती महंगाई के बीच जुलाई में कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की जा सकती है। मार्च में आए ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स AICPIसे तय हुआ है कि जुलाई-अगस्त में महंगाई भत्ता 4 फीसदी की दर से बढ़ सकता है

आंकड़े क्या कहते हैं?

गौरतलब है कि जनवरी और फरवरी 2022 के AICP Index में गिरावट आई थी। जहां जनवरी में AICP Index का आंकड़ा 125.1 पर था, वहीं फरवरी में 125 पर था, जबकि मार्च में यह 1 अंक बढ़कर 126 हो गया। अप्रैल के लिए संख्या- मई और जून अभी बाकी हैं। अगर यह आंकड़ा 126 से ऊपर जाता है तो सरकार डीए को 4 फीसदी बढ़ा सकती है

वेतन में कितनी वृद्धि होगी?

अगर सरकार डीए 4 फीसदी बढ़ा देती है तो केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 34 फीसदी से बढ़कर 38 फीसदी हो जाएगा. अब यहां देखते हैं कि अधिकतम और न्यूनतम मूल वेतन में कितनी बढ़ोतरी होगी.

अधिकतम मूल वेतन पर कैलकुलेशन

  • मूल वेतन प्रति माह: 56,900 रुपये
  • डीए प्राप्त (34%): रु 19,346
  • रिवीजन के बाद डीए (38%): 21,622 रुपये
  • डीए में मासिक वृद्धि: 2,276 रुपये
  • वार्षिक वृद्धि (मासिक वृद्धि x 12): रु 27,312

न्यूनतम मूल वेतन के लिए

  • मूल वेतन प्रति माह: 18,000 रुपये
  • डीए प्राप्त (34%): रु 6,120
  • संशोधन के बाद डीए (38%): रु: 6840
  • डीए में मासिक वृद्धि: 720 रुपये
  • वार्षिक वृद्धि: रु. 8,640

Leave a Comment

close button