Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

7th Pay Commission: DA के साथ ही Fitment Factor लेटेस्ट न्यूज़, सैलरी में जबरदस्त इजाफा

लगातार बढ़ती महंगाई के बीच केंद्र सरकार के कर्मचारियों (central government employees) और pensioners के लिए एक 7th Pay Commission में अच्छी खबर है। जुलाई में उनका महंगाई भत्ता (DA hike 5 percent) पांच फीसदी तक बढ़ सकता है। सरकार इसी महीने इसका ऐलान कर सकती है। अगर ऐसा हुआ तो केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 34 फीसदी से बढ़कर 39 फीसदी (DA 34 percent to 39 percent) हो जाएगा. साथ ही उनके fitment factor को भी बढ़ाया जा सकता है। केंद्र सरकार के कर्मचारी संघ ( Central government employees unions) लंबे समय से फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाने की मांग कर रहे थे। वर्तमान में यह 2.57 प्रतिशत है, जिसे बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत करने की मांग की जा रही है। अगर सरकार इसे मान लेती है तो कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 18,000 रुपये से बढ़ाकर 26,000 रुपये कर दिया जाएगा।

All India Consumer Price Index (AICPI) के आधार पर सरकार साल में दो बार अपने कर्मचारियों का DA तय करती है। डीए जनवरी और जुलाई में रिवाइज होता है। जनवरी से डीए में तीन फीसदी की बढ़ोतरी की गई, जिसके बाद इसे बढ़ाकर 34 फीसदी कर दिया गया। अब अगर यह पांच फीसदी बढ़ता है तो यह 39 फीसदी तक पहुंच जाएगा. इसका फायदा 1.16 करोड़ केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को होगा।

7th Pay Commission

कितनी बढ़ेगी सैलरी

मौजूदा समय में अगर किसी कर्मचारी का मूल वेतन 1,8000 रुपये है तो उसे 34 प्रतिशत के हिसाब से 6,120 रुपये DA मिलता है. अगर डीए 39 फीसदी (DA 39 percent) हो जाता है तो कर्मचारी को 7020 रुपये dearness allowance मिलेगा, यानी उन्हें 900 रुपये और मिलेंगे। केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों को 18 महीने यानी 1 जनवरी, 2020 से 30 जून, 2021 के बीच डीए का भुगतान नहीं किया है। कर्मचारी लंबे समय से इसके भुगतान की मांग कर रहे हैं। अगर सरकार इस पर फैसला लेती है तो कर्मचारियों को मिलकर बड़ी रकम मिल सकती है।

डीए में वृद्धि से कर्मचारी का PF और gratuity योगदान भी बढ़ जाता है। इसका कारण यह है कि यह कर्मचारी के Basic Salary और DA से काटा जाता है। डीए में वृद्धि (DA hike) से कर्मचारियों के transport allowance और city allowance में वृद्धि का रास्ता भी साफ हो गया है। मीडिया में ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के एचआरए (HRA of central employees) को भी बढ़ाने की योजना बना रही है। वर्तमान में कर्मचारियों को 27 फीसदी, 18 फीसदी और 9 फीसदी HRA मिल रहा है। यह शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के आधार पर दिया गया है।

fitment factor का क्या है फायदा

अगर सरकार fitment factor को मंजूरी दे देती है तो वह कर्मचारियों का minimum basic pay 26,000 रुपये कर देगी। मौजूदा समय में एंट्री लेवल पर बेसिक सैलरी 18,000 रुपये है। यानी एंट्री लेवल पर कर्मचारियों के मूल वेतन में आठ हजार रुपये की बढ़ोतरी होगी। फिलहाल उन्हें 2.57 fitment factor के हिसाब से 46,260 रुपये वेतन मिलता है। fitment factor को बढ़ाकर 3.68 कर दिया जाए तो यह 95,680 रुपये तक पहुंच जाएगा।

केंद्र सरकार (central government ) अपने कर्मचारियों और सेवानिवृत्त लोगों को ऐसे समय में राहत प्रदान कर सकती है जब भारत की मुद्रास्फीति दर (India’s inflation rate) लगातार Reserve Bank of India’s comfort zone से अधिक हो गई है। CPI inflation rate पहले ही अपने आठ साल के उच्च स्तर को पार कर चुकी है, और विभिन्न वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि देखी जा रही है। मुद्रास्फीति के प्रभावों का मुकाबला करने के लिए सरकार 7th pay commission के तहत केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए एक और डीए वृद्धि (DA Hike) की घोषणा कर सकती है।

सरकार जुलाई में डीए को 5 फीसदी (DA by up to 5%) तक बढ़ाने पर विचार कर सकती है। दावे की माने तो केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 39 फीसदी का डीए (DA of 39%) मिलेगा। सरकारी कर्मचारियों को वर्तमान में उनके मूल वेतन का 34 प्रतिशत डीए ( 39 percent dearness allowance) मिलता है। अगर डीए 5% (DA raise of 5%) बढ़ा दिया जाता है, तो उन्हें उनके मूल वेतन के अलावा 39 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलेगा। सरकारी कर्मचारियों (Government employees) को dearness allowance (DA) मिलता है, जबकि पेंशनरों को dearness relief (DR) मिलती है

7th Pay CommissionClick Here
Home PageClick Here
close button