7th Pay Commission: सैलरी बहुत आसानी से करें कैलकुलेट [Pay matrix]

7th Pay Commission Calculator: केंद्रीय कर्मचारी बहुत आसानी से अपने वेतन की गणना कर सकते हैं। विभाग के अनुसार सातवें वेतन आयोग में जो pay matrix बनाया गया है वह अलग है। आपको बता दें कि 1 जनवरी 2016 को 7th Pay Commission लागू होने के बाद से सरकारी कर्मचारियों के वेतन में इजाफा हुआ है. new pay scale आने के बाद सकल वेतन में 14 फीसदी की वृद्धि हुई. हालांकि बाद में मोदी सरकार ने डीए देना शुरू किया, जिससे सैलरी में और इजाफा हुआ

6th pay commission में मूल वेतन कम था

sixth pay scale में प्रवेश स्तर पर मूल वेतन 7000 रुपये था (pay band 5200 + grade pay 1800)। वहीं डीए 125% पर मिलता था, यानी बेसिक से ज्यादा डीए बना दिया गया। बाकी भत्तों और कटौतियों को मिलाकर कर्मचारी को महीने में 14,757 रुपये मिलते थे। लेकिन, 7th pay scale लागू होने के बाद सकल वेतन में बढ़ोतरी हुई. इसके बाद DA की राशि भी जुड़ जाती है, जो अभी 34 फीसदी है

7th Pay Commission

पे मेट्रिक्स (Pay Matrix)

नए वेतनमान (new pay scale) में वेतनमान Pay Matrix के आधार पर दिया जाता है। वेतन मैट्रिक्स फिटमेंट फैक्टर (fitment factor) से जुड़ा था। शुरुआती स्तर के कर्मचारी को फिटमेंट फैक्टर के आधार पर सैलरी का 2.57 गुना मिलता है। यानी पे मैट्रिक्स में लेवल 1 पर बेसिक 18 हजार रुपये प्रति माह है। जबकि लेवल 18 पर यह 2.5 लाख रुपये प्रति माह है। यह व्यवस्था 1 जनवरी 2016 से लागू है।

सबसे पहले ये समझें कि Pay Matrix क्या है और इसका कर्मचारियों के वेतन पर क्या असर पड़ने वाला है। इससे सरकारी कर्मचारियों को कैसे होगा फायदा? मूल वेतन संरचना (basic pay structure) सातवें वेतन के तहत पे मैट्रिक्स लेवल 3 (Pay Matrix Level 3) से तय होती है। वर्तमान में, लेवल-3 (basic pay structure in level-3) में मूल वेतन संरचना न्यूनतम 21,700 रुपये और अधिकतम या 69,100 रुपये 40 वेतन वृद्धि के साथ है।

लेवल-3 के सैलरी स्ट्रक्चर को ऐसे समझें (salary structure of Level-3)

उदाहरण के द्वारा समझते हैं। अगर कोई सरकारी कर्मचारी किसी भी विभाग में पे मैट्रिक्स लेवल 3 के अंतर्गत आता है। उनकी बेसिक बेसिक सैलरी 21,700 रुपये है तो आइए जानते हैं कि उस कर्मचारी की कुल सैलरी क्या होगी?

लेवल और ग्रेड-पे: लेवल -3 (ग्रेड-पे -2000)
लोकेशन: दिल्ली
मूल वेतन : 21,700 रुपये
महंगाई भत्ता (डीए): रु.6,727 (मूल वेतन का 31%)
हाउस रेंट अलाउंस (HRA): 5,859 रुपये (27% / X शहर)
यात्रा भत्ता: रु.4,716 (लेवल-3/ए1 शहर)
सकल वेतन : 39,002 रुपए

Leave a Comment

close button