7th Pay Commission Fitment Factor: कर्मचारियों की बल्ले – बल्ले, फिटमेंट फैक्टर से बढ़ सकता है 31,740 रुपये का वेतन, जानें कैसे

7th Pay Commission : सरकारी कर्मचारियों को जल्द वेतन वृद्धि का तोहफा मिल सकता है। वेतन में यह भारी बढ़ोतरी महंगाई भत्ते से अलग होगी। इस बार सैलरी में बढ़ोतरी की वजह फिटमेंट फैक्टर (7th Pay Commission Fitment Factor) होगा। सूत्रों के मुताबिक सरकार जल्द ही फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने की मंजूरी दे सकती है। पिछले दो साल से रुका हुआ महंगाई भत्ता अब जल्द ही बढ़ने वाला है। इस बढ़ोतरी के बाद डीए 34 फीसदी से अधिक हो जाएगा।

इस बार महंगाई भत्ता बढ़ाने के बाद न्यूनतम वेतन (minimum salary ) में भी इजाफा होने की संभावना बढ़ गई है . इसकी मांग कर्मचारी संघ भी लगातार कर रहे हैं। यूनियनों की मांग है कि फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना (Increase in fitment factor from 2.57 to 3.68) किया जाए। अगर ऐसा होता है तो minimum wage 18,000 रुपये से बढ़कर 26,000 रुपये हो जाएगी। इससे पहले सरकार ने 2017 में एंट्री लेवल पर सैलरी बढ़ाई थी। तब सरकार ने बेसिक सैलरी को 7000 रुपये से बढ़ाकर 18,000 रुपये कर दिया था।

केंद्र और राज्य सरकार के लिए काम करने वाले सभी सरकारी कर्मचारियों (Government Employees) के लिए जल्द ही एक और अच्छी खबर आ सकती है। DA , HRA और TA मिलने के बाद अब सभी कर्मचारियों को फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) में वृद्धि का लाभ मिल सकता है। इसको लेकर अभी भी चर्चा जारी है। अगर फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) बढ़ा दिया जाता है तो यह इस साल केंद्र और राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए एक बड़ा तोहफा हो सकता है।

7th Pay Commission

फिटमेंट फैक्टर से बढ़ सकता है 31,740 रुपये का वेतन

लंबे समय से राज्य और केंद्र सरकार के अधीन आने वाले सरकारी कर्मचारियों की मांग कर रही है कि उनका फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) बढ़ाया जाए। फिटमेंट फैक्टर को वर्तमान में 2.57 प्रतिशत से बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत किया जाना है। जल्द ही अगले साल की शुरुआत तक सरकारी कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर बढ़ सकता है।

जानकारी के मुताबिक साल 2016 में भी फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाया गया था। इसी साल 7वां वेतन आयोग (7th Pay Commission) भी लागू किया गया था। उस समय सरकारी कर्मचारियों का वेतन 6000 रुपये था। जो फिटमेंट फैक्टर में वृद्धि के कारण 18000 रुपये हो गया। अब साल 2022 में फिर से फिटमेंट फैक्टर बढ़ने से सरकारी कर्मचारियों के वेतन में फिर से इजाफा होगा।

फिटमेंट फैक्टर क्या है?

सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) की सिफारिशों के अनुसार फिटमेंट फैक्टर 2.57 है। महंगाई भत्ता (DA), यात्रा भत्ता (TA), हाउस रेंट अलाउंस (HRA) आदि जैसे भत्तों के अलावा केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन तय करते समय कर्मचारी का मूल वेतन सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के अधीन होगा। गुणनखंड को 2.57 से गुणा करके प्राप्त किया जाता है।

वेतन में 31,740 रुपये की हो सकती बढ़ोतरी

यदि किसी केंद्रीय कर्मचारी का मूल वेतन 18,000 रुपये है तो उसका वेतन भत्तों को छोड़कर 18,000 X 2.57 = 46,260 रुपये होगा। अगर इसे 3 के रूप में लिया जाए तो वेतन 26000X3 = 78000 रुपये होगा। इसमें कर्मचारियों को बंपर लाभ मिलेगा। कुल मिलाकर कर्मचारियों के वेतन में 31,740 रुपये की बढ़ोतरी होगी।

केंद्रीय कर्मचारियों को नहीं मिला पिछले 18 महीने से एरियर

केन्द्र सरकार की तरफ से एक बार फिर केन्द्रीय कर्मचारियों को अच्छी खबर मिलने वाली है, क्योंकि केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचार‍ियों के महंगाई भत्‍ते में बढ़ोतरी (hike in dearness allowance) करने पर विचार कर रही है। इसके अलावा, केंद्र सरकार, केन्द्रीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ते का बकाया एरियर (arrears of dearness allowance) भी देने वाली है। जल्द ही केंद्र सरकार द्वारा इस विषय पर निर्णय लिया जायेगा। केंद्र सरकार के इस फैसले से केंद्रीय कर्मचारी के वेतन में बढ़ोतरी होने वाली है, साथ ही बकाया एरियर (arrearsभी मिलेगा।

जेसीएम सचिव शिव गोपाल मिश्रा के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों को पिछले 18 माह से एरियर नहीं मिला है। सरकार ने भी फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) बढ़ाने पर कोई ठोस फैसला नहीं लिया है। अगर फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) 3 है तो कर्मचारियों को जरूर फायदा होगा।

केन्द्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों को 18 महीने से बकाये डीए पर एरियर नहीं दिया है और काफी समय से कर्मचारी डीए भुगतान की मांग कर रहे हैं। अगर सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के बकाये डीए का भुगतान करती है, तो केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में भारी बढ़ोतरी हो जाएगी।

केंद्रीय कर्मचारियों के 18 महीने के बकाये डीए एरियर के भुगतान के विषय में नेशनल काउंसिल ऑफ जेसीएम की वित्त मंत्रालय से बातचीत की गयी, जिसमें जेसीएम ने केन्द्र सरकार से डीए के साथ -साथ 18 महीने के बकाया डीए एरियर पर भी फैसला लेने की बात कही है। अब अगर केंद्र की मोदी सरकार डीए एरियर के भुगतान के लिए मान जाती है, तो केंद्रीय कर्मचारियों को 2 लाख रुपये तक का लाभ अवश्य होगा।

केंद्रीय कर्मचारियों को जुलाई या अगस्त के महीने में कई बड़ी खुशखबरी मिल सकती है। सरकार महंगाई भत्ते (DA) में एक बार फिर बढ़ोतरी की घोषणा कर सकती है जिससे केंद्र सरकार के कर्मचारियों को खुशी का एक और कारण मिल सकता है।

7th Central Pay Commission जुलाई महीने में बढ़ेगा DA

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को साल में दो बार संशोधित किया जाता है। पहला जनवरी से जून तक दिया जाता है, जबकि दूसरा जुलाई से दिसंबर तक आता है। अब जबकि वर्ष 2022 के लिए पहली बार महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की घोषणा मार्च में की गई है, नई रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि जुलाई में अगला संशोधन एआईसीपी इंडेक्स (AICP Index) में बढ़ोतरी के कारण हो सकता है।

Seventh Pay Commission में AICPI का आंकड़ा

आपको बता दें कि दिसंबर 2021 में AICPI का आंकड़ा 125.4 था। लेकिन जनवरी 2022 में यह 0.3 अंक गिरकर 125.1 पर आ गया। फरवरी 2022 के लिए अखिल भारतीय CPI-IW 0.1 अंक कम होकर 125.0 पर रहा। 1 महीने के प्रतिशत परिवर्तन पर यह पिछले महीने की तुलना में 0.08 प्रतिशत कम हो गया, जबकि एक साल पहले इसी महीने के बीच 0.68 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई थी। मार्च महीने में 1 अंक का उछाल आया था। मार्च के लिए AICPI इंडेक्स के आंकड़े 126 हैं।

7th Pay Commission जुलाई में कितना DA बढ़ने की संभावना

रिपोर्ट्स की मानें तो महंगाई भत्ते (DA) में और 4 % की बढ़ोतरी हो सकती है। यानी टोटल महंगाई भत्ता 38 फीसदी तक पहुंच सकता है। जुलाई-अगस्त की अवधि में डीए बढ़ोतरी 4 % के आसपास आ सकती है। हालांकि आने वाले तीन महीनों यानी अप्रैल, मई और जून के ACPI के आंकड़ों का अभी पता नहीं चल पाया है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 30 मार्च को महंगाई भत्ते (DA) और महंगाई राहत (DR) को 3 प्रतिशत बढ़ाकर 34 प्रतिशत कर दिया था जिससे 1.16 करोड़ से अधिक केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को लाभ हुआ। अब जुलाई महीने में DA में बढ़त होती है तो यह महंगाई भत्ता 4 % बढ़कर 38 % DA तक पहुंच सकता है

मार्च 2022 में AICPI index में उछाल आया था, जिसके बाद यह तय है कि सरकार महंगाई भत्ते (डीए) को 3 फीसदी नहीं, 5 फीसदी बढ़ा सकती है

केंद्रीय कर्मचारियों की सैलेरी होगी डबल

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों को महंगाई भत्ते (DA) की अतिरिक्त किस्त और पेंशनभोगियों को महंगाई राहत (DR) की एक अतिरिक्त किस्त जारी करने की मंजूरी दे दी है। पेंशन के 31 प्रतिशत की मौजूदा दर से 3 प्रतिशत की वृद्धि का प्रतिनिधित्व करता है।

7th Pay Commission DA में बढ़ोतरी

केंद्र ने कहा कि यह वृद्धि स्वीकृत फॉर्मूले के अनुसार है, जो सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) की सिफारिशों पर आधारित है। वर्तमान संशोधन के बाद केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए DA को बढ़ाकर 34 % कर दिया गया है। जुलाई 2021 तक महंगाई भत्ते (DA) की दर 17 फीसदी थी यानी पिछले छह महीने में सैनिकों के लिए भत्ते को दोगुना कर दिया गया है। जुलाई के बाद सरकार ने 11 प्रतिशत डीए वृद्धि की घोषणा की थी जिससे यह 28 प्रतिशत हो गई, जिसके बाद 3 प्रतिशत डीए वृद्धि की घोषणा की गई।

7th Pay Commission बढ़ने के बाद कितनी बढ़ेगी सैलरी?

नवीनतम वृद्धि के बाद केंद्र सरकार के कर्मचारियों को कर्मचारी के मूल वेतन से DA की वर्तमान दर को 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलेगा। बता दें कि यह गणना एक ऐसे कर्मचारी के वेतन के लिए की जाती है जिसका मूल वेतन 18,000 रुपये है। पहले 31 फीसदी डीए की दर से कर्मचारी को 5,580 रुपये DA मिल रहा था। ताजा बढ़ोतरी के बाद कर्मचारी को 6,120 रुपये का DA मिलेगा। इसका मतलब है कि ताजा DA बढ़ोतरी के बाद 540 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।

7th Pay Commission में 68 लाख से अधिक पेंशनभोगियों को होगा लाभ

सरकार ने यह भी कहा कि इस कदम से 47 लाख से अधिक कर्मचारियों और 68 लाख से अधिक पेंशनभोगियों को लाभ होगा। “महंगाई भत्ते और महंगाई राहत दोनों के कारण राजकोष पर संयुक्त प्रभाव प्रति वर्ष 9,544.50 करोड़ रुपये होगा। इससे लगभग 47.68 लाख केंद्र सरकार के कर्मचारियों और 68.62 लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा।

7th Pay Commission Latest News TodayClick Here
Home PageClick Here

Leave a Comment

close button