Agnipath Scheme: वापस नहीं होगी अग्निपथ योजना, जानिए क्या कहते हैं सैन्य अधिकारी

अग्निपथ योजना (Agnipath scheme) को लेकर हंगामे के बीच तीनों सेनाओं ने रविवार को प्रेस वार्ता की। इसमें सैन्य मामलों के विभाग के अतिरिक्त सचिव, लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने कहा कि ‘अग्निवीर’ को सियाचिन और अन्य क्षेत्रों में वही भत्ता और सुविधाएं मिलेंगी जो वर्तमान में नियमित सैनिकों के लिए लागू हैं। उनके साथ सेवा के मामले में कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा।

तीनों सेनाओं के संयुक्त बयान में कहा गया कि अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) वापस नहीं ली जाएगी। सेना का कहना है कि कोचिंग संस्थान छात्रों को भड़का रहे हैं। अनिल पुरी ने कहा कि सेना में जाने वाले उम्मीदवार हिंसा और प्रदर्शनों में हिस्सा नहीं लें। सेना ने तीनों सेवाओं में भर्ती प्रक्रिया की तारीखों की घोषणा करते हुए कहा कि सेना की भर्ती प्रक्रिया 1 जुलाई से शुरू होगी, वायु सेना की भर्ती प्रक्रिया 24 जून से शुरू होगी और नौसेना की भर्ती प्रक्रिया 25 जून से शुरू होगी।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने कहा कि हर साल करीब 17,600 लोग तीनों सेनाओं से समय से पहले सेवानिवृत्ति ले रहे हैं। किसी ने कभी उनसे यह पूछने की कोशिश नहीं की कि रिटायरमेंट के बाद वे क्या करेंगे। अनिल पुरी ने कहा कि यहां-वहां भटक रहे युवाओं को अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहिए क्योंकि फिजिकल टेस्ट पास करना किसी के लिए भी आसान नहीं होता। उनसे निवेदन है कि वह अपना पूरा ध्यान अगले महीनों में होने वाले टेस्ट पर केंद्रित करें।

Agnipath Scheme

तीनों सेनाओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान

केंद्र सरकार द्वारा अग्निपथ योजना की घोषणा के बाद से कई राज्यों में उग्र विरोध प्रदर्शन जारी है, पिछले चार दिनों में प्रदर्शनकारियों ने कई इलाकों में ट्रेन के डिब्बों में आग लगा दी और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया इस बीच तीनों सेनाओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। इस दौरान सेना ने क्या-क्या महत्वपूर्ण बातें कही, नीचे पढ़ें-

नियमित जवानों की तरह मिलेगी सुविधाएं

‘अग्निवीर (agniveer)’ को सियाचिन जैसे क्षेत्रों और अन्य क्षेत्रों में वही भत्ते और सुविधाएं मिलेंगी जो वर्तमान में नियमित सैनिकों पर लागू होती हैं। उनके साथ सेवा के मामले में कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा।

‘अग्निपथ योजना’ वापस नहीं होगी

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने कहा कि यह योजना किसी भी सूरत में वापस नहीं ली जाएगी। सेना में भर्ती होने के लिए सबसे पहली आवश्यकता अनुशासन की होती है इसलिए युवाओं को शांत होकर योजना को समझना चाहिए।

1 जुलाई से सेना में भर्ती प्रक्रिया शुरू

विरोध के बीच सेना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में तीनों बलों की भर्ती प्रक्रिया की तारीखों की घोषणा कर दी है। सेना ने कहा है कि उसकी भर्ती प्रक्रिया 1 जुलाई से शुरू होगी।

वायु सेना में पहले बैच के लिए 24 जून से प्रक्रिया शुरू

एयर मार्शल एसके झा ने कहा कि भारतीय वायुसेना में अग्निवीरों के पहले बैच को शामिल करने की प्रक्रिया 24 जून से शुरू होगी। यह एक ऑनलाइन प्रणाली है। उसके तहत इस पर रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। एक महीने बाद 24 जुलाई से पहले चरण की ऑनलाइन परीक्षाएं शुरू होंगी।

नौसेना 25 जून को जारी करेगी अधिसूचना

नेवी वाइस एडमिरल डी.के. त्रिपाठी ने कहा कि हमने भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी है। हमारा विज्ञापन 25 जून तक सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय तक पहुंच जाएगा। एक महीने के भीतर भर्ती प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। हमारे पहले अग्निवीर 21 नवंबर को हमारे प्रशिक्षण संस्थान में रिपोर्ट करेंगे।

निकट भविष्य में अग्निवीरों की संख्या बढ़कर 1.25 लाख हो जाएगी

लेफ्टिनेंट जनरल पुरी ने कहा कि निकट भविष्य में ‘अग्निवर’ की संख्या 1.25 लाख हो जाएगी और यह 46,000 पर नहीं रहेगी जो कि वर्तमान आंकड़ा है।

एफआईआर हुई तो नहीं मिलेगा मौका

लेफ्टिनेंट जनरल पुरी ने कहा कि अग्निवीर बनने के लिए आवेदन करने वाला प्रत्येक उम्मीदवार एक प्रमाण पत्र प्रस्तुत करेगा कि वह विरोध, आगजनी, तोड़फोड़ और हिंसा का हिस्सा नहीं था। पुलिस वेरिफिकेशन शत-प्रतिशत होता है, उसके बिना कोई भी शामिल नहीं हो सकता है। अगर किसी उम्मीदवार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाती है तो वे भारतीय सशस्त्र बलों में शामिल नहीं हो सकते। उन्हें नामांकन फॉर्म के हिस्से के रूप में लिखने के लिए कहा जाएगा कि वे आगजनी का हिस्सा नहीं थे, उनका पुलिस सत्यापन किया जाएगा।

फिर देनी होगी मेडिकल परीक्षा

सेना ने स्पष्ट किया है कि नियमित सेना में भर्ती के लिए दो साल पहले मेडिकल परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को फिर से मेडिकल जांच से गुजरना होगा.

‘अग्निवर’ को आयु में छूट

गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अग्निवीरों के लिए आयु सीमा में छूट की घोषणा की। आयु सीमा को 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष किया गया। मंत्रालय ने एक ट्वीट में घोषणा की कि अग्निवीर के पहले बैच के लिए आयु में छूट पांच साल की होगी।

Agnipath Recruitment Scheme Official WebsiteClick Here
Home PageClick Here
close button