किसान 20 नवंबर तक करें आवेदन, मिलेंगे 18000 रूपये, ये रही आवेदन प्रक्रिया

Agricultural Input Grant Scheme: देश के किसानों के लिए सरकार के द्वारा कृषि इनपुट अनुदान योजना शुरू की गयी है। यदि किसानों की फसलें प्राकृतिक आपदा की वजह से बरबाद हो जाती है तो उन्हें इस योजना के तहत सरकार के द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाती है। इस योजना का संचालन केंद्र और राज्य सरकार दोनों के द्वारा किया जाता है। केंद्र सरकार द्वारा अधिसूचित प्राकृतिक आपदाओं एवं राज्य सरकार के द्वारा स्थानीय आपदाओं के लिए निर्धारित सहायता DBT के माध्यम से की जाती है। कृषि इनपुट अनुदान योजना के तहत फसलों के नुकसान की भरपाई हेतु अनुदान देने की व्यवस्था की जाती है। जो किसान पहले से ही पंजीकृत हैं , उन्हें फिर से किसान पंजीकरण करने की आवश्यकता नहीं है वह सीधे कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस योजना का लाभ लेने के लिए सर्वप्रथम आवेदक को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनका जिला सूखाग्रस्त घोषित हुआ है या नहीं।

Latest : बिहार सरकार ने राज्य के किसानों को राहत देने का फैसला किया है इसके तहत कृषि इनपुट अनुदान (agricultural input grant) योजना के तहत खरीफ 2021 में आयी बाढ़ के कारण प्रभावित राज्य के किसानों को फसल की क्षति के लिए अनुदान दिए जाएंगे। प्रभावित किसान कृषि इनपुट अनुदान का लाभ लेने के लिए 5 से 20 नवम्बर तक कृषि विभाग, बिहार सरकार की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के तहत यदि असिंचित क्षेत्र में किसानों को आपदा का सामना करना पड़ता है तो उन्हें 6800 प्रति हेक्टेयर दिया जाएगा किन्तु सिंचित क्षेत्र के किसानों के लिए यह रकम 13500 रुपये रहेगी और यह राशि अधिकतम 2 हेक्टेयर तक की भूमि के लिए ही दी जायेगी। इसके साथ ही फसल क्षेत्र के लिए कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के तहत न्यूनतम ₹1000 का अनुदान दिया जाएगा ।

Agricultural Input Grant Scheme के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

पात्र किसान कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन के लिए किसानों के आधार कार्ड में मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होना जरुरी है। कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के तहत पंजीकरण के लिए आवेदक को कोई भी शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है।

  • सर्वप्रथम आवेदक को अपने राज्य सरकार के द्वारा कृषि विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आवेदक को होमपेज पर “सूखाग्रस्त प्रखंडों के लिए कृषि इनपुट सब्सिडी योजना” का मीनू दिखाई देगा।
  • अब आवेदक को सूखाग्रस्त प्रखंड के लिए कृषि इनपुट योजना का चयन करना होगा।
  • उसके बाद किसान को आवेदन करने के लिए 13 अंकों की किसान पंजीकरण संख्या को भरना होगा।
  • इसके बाद किसान को कुछ आवश्यक जानकारियाँ भरनी होगी।
  • इसके अतिरिक्त किसानों को पंजीकरण विवरण के साथ एक आवेदन शपथ पत्र यानी “डिक्लेरेशन फॉर्म” भी अपलोड करना होगा।

नवीनतम अपडेट के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें |

Leave a Comment