BHU दे रहा छात्रों को 6000 रुपये की छात्रवृत्ति, इन छात्रों को मिलेगा इसका लाभ

BHU Scholarship Scheme : बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) ने अंतरराष्ट्रीय छात्रों को भारत में अध्ययन के लिए प्रोत्साहित करने और प्रेरित करने के लिए नई छात्रवृत्ति योजनाएं शुरू की हैं। BHU ने विदेशी छात्रों के लिए छात्रवृत्ति योजना शुरू की है। इस योजना के तहत विदेशी छात्रों को BHU विश्वविद्यालय में अध्ययन के लिए वित्तीय सहायता के रूप में प्रति माह 6000 रुपये मिलेंगे। आइए जानते हैं इस स्कॉलरशिप का लाभ कैसे उठा सकते हैं।

भारतीय छात्रों को भी मिलती है स्कॉलरशिप

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) में पढ़ने के लिए देश विदेश से छात्र पढ़ने आते हैं। BHU में पढ़ने वाले प्रत्येक छात्रों को स्कॉलरशिप का लाभ दिया जाता है। BHU में पढ़ने वाले प्रत्येक छात्र को भारत सरकार के द्वारा NSP स्कॉलरशिप और राज्य सरकार के द्वारा UP स्कॉलरशिप भी दी जाती है। देश विदेश के छात्र इस स्कॉलरशिप का लाभ उठा सकते हैं।

BHU में पढ़ते हैं 40 देशों के छात्र

BHU का इंस्टीट्यूशन ऑफ एमिनेंस सेल छात्रवृत्ति कार्यक्रम के लिए जमा किए गए सभी आवेदन पत्रों को संभालेगा। वर्तमान में BHU में लगभग 40 देशों के 431 अंतर्राष्ट्रीय छात्र हैं। इनमें संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्राजील, फ्रांस, रूस, आयरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, यमन, ईरान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, मॉरीशस, श्रीलंका, दक्षिण कोरिया, थाईलैंड, म्यांमार और कंबोडिया शामिल हैं। इसमें 261 पुरुष और 170 छात्राएं हैं।

BHU को माना जाता है संस्कृति का प्रतीक

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) प्राचीन शहर वाराणसी में स्थित है जो सदियों से ज्ञान, शिक्षा और संस्कृति का प्रतीक रहा है। मानविकी, सामाजिक विज्ञान, चिकित्सा, प्रौद्योगिकी की सभी शाखाओं से संबंधित कार्यक्रमों की पेशकश करने का एक अनूठा गौरव प्राप्त हुआ है। इस शहर को वास्तव में ज्ञान की राजधानी कहते हैं।

विदेशी छात्रों को मिलता है 15 प्रतिशत सीटों का लाभ

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय हर साल सैकड़ों विदेशी छात्रों को प्रवेश देता है जो स्नातक, स्नातकोत्तर, PhD में कृषि विज्ञान, कला, सामाजिक विज्ञान, प्रदर्शन कला, दृश्य कला, कानून, वाणिज्य और विज्ञान के विभिन्न विषयों में प्रवेश लेते हैं। विदेशी छात्रों का कुल प्रवेश 15 प्रतिशत तक होता है।

close button