सरकार की मदद से मात्र 53,000 में शुरू करें यह बिजनेस, 35 लाख होगी कमाई, जानें आईडिया

Business Idea (सरकारी मदद से घर बैठे शुरू करें यह बिजनेस और कमाएं 35 लाख रुपये): अगर आप भी अपना खुद का बिजनेस प्लान कर रहे हैं तो यह खबर आपके लिए ही है। सरकार नया व्यवसाय शुरू करने में मदद के लिए कई योजनाएं भी चला रही है, जिसका फायदा छोटे कारोबारियों को हो रहा है. आज हम यहां आपको एक ऐसे बिजनेस के बारे में बता रहे हैं जिसमें आप बहुत कम निवेश करके जबरदस्त मुनाफा कमा सकते हैं। कड़कनाथ मुर्गे का है ये धंधा मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के साथ-साथ देश के कई राज्यों में इसका जमकर कारोबार हो रहा है मध्य प्रदेश के कड़कनाथ मुर्गे को भी GI टैग मिला है

बिजनेस से बड़ी कमाई

अगर आप भी हर महीने अपने बिजनेस से बड़ी कमाई करना चाहते हैं तो यह खबर आपके काम की है। आज हम आपको बता रहे हैं कड़कनाथ मुर्गा के बिजनेस के बारे में। इस कड़कनाथ मुर्गे ने दुनिया भर में अपनी एक अलग पहचान बना रखी है इसका अधिकांश व्यवसाय मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में होता है। आदिवासी इलाकों में इसे कालीमासी कहा जाता है। इसका मांस स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जाता है। अपने औषधीय गुणों के कारण कड़कनाथ मुर्गे की काफी मांग है।

कड़कनाथ मुर्गे को भी मिला है GI टैग

कड़कनाथ मुर्गे का कारोबार अब मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के साथ-साथ देश के कई राज्यों में भी हो रहा है। इससे होने वाली कमाई का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कृषि विज्ञान केंद्र कड़कनाथ मुर्गियां समय पर नहीं दे पा रहे हैं. कड़कनाथ मुर्गे की उत्पत्ति मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले में हुई, इसलिए मध्य प्रदेश के कड़कनाथ मुर्गे को भी जीआई टैग मिला है। इस टैग का मतलब है कि कड़कनाथ मुर्गे जैसा दूसरा कोई मुर्गा नहीं है

दिल और मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद

आपको बता दें कि कड़कनाथ मुर्गे और मुर्गे का रंग काला है, मांस काला है और खून भी काला है औषधीय गुणों की वजह से इसकी काफी मांग है। इस मुर्गे के मांस में आयरन और प्रोटीन सबसे ज्यादा पाया जाता है। इसके मीट में फैट और कोलेस्ट्रॉल भी पाया जाता है। इस वजह से यह चिकन दिल और मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके नियमित सेवन से शरीर को भरपूर मात्रा में पोषक तत्व प्राप्त होते हैं। इसकी मांग और फायदे को देखते हुए सरकार भी अपना कारोबार शुरू करने में हर स्तर पर मदद करती है

Business Idea: मात्र 53,000 में निवेश में 35 लाख कमाई

कड़कनाथ मुर्गे की खेती की जरूरत को समझते हुए मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ सरकार इसे बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं चला रही है. छत्तीसगढ़ में मात्र 53,000 रुपये जमा करने पर सरकार की ओर से तीन किस्तों में 1000 चूजे, 30 मुर्गे की झोपड़ी और छह माह का मुफ्त चारा दिया जाता है. साथ ही टीकाकरण और स्वास्थ्य देखभाल की जिम्मेदारी भी सरकार पर है। इतना ही नहीं, मुर्गियां बड़े होने पर मार्केटिंग का काम भी सरकार करती है

कड़कनाथ मुर्गी पालन का बिजनेस

अगर आप भी कड़कनाथ मुर्गी पालन का बिजनेस करना चाहते हैं तो आप कृषि विज्ञान केंद्र से चूजे ले सकते हैं। कुछ किसान 15 दिन के चूजे को लेते हैं, जबकि कुछ लोग एक दिन के चूजे को। कड़कनाथ के चूजे साढ़े तीन से चार महीने में बिक्री के लिए तैयार हो जाते हैं। आपको बता दें कि कड़कनाथ मुर्गे के मुर्गे का भाव 70-100 रुपए के बीच है।एक अंडे का रेट 20-30 रुपए तक होता है यानी आपका बजट भी इस बिजनेस को ना नहीं कहेगा

अब बात करते हैं प्रॉफिट की

बाजार में एक कड़कनाथ मुर्गे की कीमत करीब 3,000-4,000 रुपये है। इसका मीट 700-1000 रुपये प्रति किलो बिकता है। सर्दियों में जब मांस की खपत बढ़ जाती है तो कड़कनाथ मुर्गे की कीमत 1000-1200 रुपये किलो तक पहुंच जाती है। अब अगर मुनाफे पर नजर डालें तो मान लीजिए आपने 53,000 रुपये में सरकार से 1000 मुर्गियां खरीदीं। एक मुर्गे में औसतन 3 किलो मांस निकलता है तो एक सर्दी के मौसम में आप 35 लाख रुपए से भी ज्यादा कमा सकते हैं। इसके अलावा 6 महीने तक इनका अनाज और शेड बनाने पर आपको कोई खर्चा नहीं करना पड़ता है. यानी कम मेहनत और कम निवेश में आपको जबरदस्त मुनाफा मिलेगा

लेटेस्ट न्यूज़ के लिए sarkariiyojana.in को जरूर बुकमार्क करें