Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

DA Hike for 7th Pay Commission employees: कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए टेक-होम वेतन में वृद्धि होगी

ऐसी संभावना है कि केंद्र की सत्तारूढ़ नरेंद्र मोदी सरकार 1 जुलाई से एक बार फिर महंगाई भत्ते (dearness allowance DA Hike for 7th Pay Commission ) ) को बढ़ा सकती है, हालांकि इसकी घोषणा हमेशा की तरह अगस्त या सितंबर में की जाएगी। लेकिन अगर डीए में वृद्धि होती है तो केंद्र के करीब 48 लाख कर्मचारी-अधिकारियों और पेंशन पाने वाले 69 लाख लोगों को इसका लाभ मिलेगा।

7th Pay Commission के आधार पर वेतन और पेंशन पाने वाले लाखों सरकारी कर्मचारियों-अधिकारियों और पेंशनभोगियों को जल्द ही dearness allowance में वृद्धि का बड़ा तोहफा मिल सकता है। ऐसी संभावना है कि केंद्र की सत्तारूढ़ नरेंद्र मोदी सरकार 1 जुलाई से एक बार फिर dearness allowance DA Hike) को बढ़ा सकती है, हालांकि इसकी घोषणा हमेशा की तरह अगस्त या सितंबर में की जाएगी। लेकिन अगर डीए में वृद्धि होती है तो केंद्र के करीब 48 लाख कर्मचारी-अधिकारियों और पेंशन पाने वाले 69 लाख लोगों को इसका लाभ मिलेगा

7th Pay Commission

दरअसल, इस साल जनवरी और फरवरी में All India Consumer Price Index (CPI or AICPI) लगभग स्थिर था, लेकिन मार्च 2022 में यह बढ़ गया, जिसके चलते माना जा रहा है कि केंद्र सरकार एक बार फिर महंगाई भत्ते में इजाफा फैसला कर सकते हैं।

जल्द ही महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का बड़ा तोहफा

ज्ञात हो कि केंद्र सरकार ( Central Government ) हर साल दो बार (1 जनवरी और 1 जुलाई) Dearness Allowance और Dearness Relief में संशोधन करती है, जिसकी घोषणा आमतौर पर मार्च और सितंबर में ही की जाती है, लेकिन करीब ढाई साल पहले 31 दिसंबर 2019 के बाद, डेढ़ साल तक कोविड महामारी के चलते इसमें न तो कोई बढ़ोतरी हुई और न ही इसमें संशोधन किया गया। इसके बाद पिछले साल यानि जुलाई 2021 में ही 7th Pay Commission के आधार पर वेतन पाने वाले सभी कर्मचारियों के लिए 17 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता 11 फीसदी बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया गया और उसके बाद अक्टूबर 2021 में इसमें एक बार फिर तीन फीसदी की बढ़ोतरी की गई।

अक्टूबर में की गई वृद्धि भी 1 जुलाई 2021 से लागू हो गई थी, इसलिए सभी केंद्रीय कर्मचारियों (central employees ) के वेतन पर DA और पेंशनभोगियों को पेंशन पर 1 जुलाई 2021 से 31 प्रतिशत की दर से डीए मिल रहा था।

फिर अगले साल यानी 1 जनवरी 2022 से dearness allowance में तीन फीसदी की बढ़ोतरी की घोषणा की गई, जिसके चलते सभी केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को 34 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता दिया जा रहा है.

7th Pay Commission के आधार पर वेतन और पेंशन

केंद्र सरकार हर साल सितंबर और मार्च के आसपास डीए में संशोधन की घोषणा करती है और महंगाई के नए आंकड़ों के आधार पर यह उम्मीद की जा सकती है कि इस बार भी वेतन पाने वाले सभी कर्मचारियों और अधिकारियों का डीए बढ़ा दिया जाए। अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक का नया डेटा जारी होने के बाद डीए में बढ़ोतरी की प्रबल संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।

अब केंद्र सरकार द्वारा dearness allowance यानी DA में जो भी बढ़ोतरी की घोषणा की जाएगी, वह 1 जुलाई 2022 से लागू होगी और कर्मचारी-पेंशन धारकों को भी जुलाई से लेकर फैसला लागू होने तक का एरियर दिया जाएगा. यदि डीए में यह वृद्धि 4 प्रतिशत है, तो 7th Pay Commission के आधार पर भुगतान करने वालों को 18,000 रुपये के मूल वेतन पर डीए में 720 रुपये की वृद्धि मिलेगी, और यह वृद्धि 1,000 रुपये प्रति माह होगी यदि मूल वेतन 25,000 होगा इसी प्रकार 50,000 मूल वेतन पाने वालों को 2,000 रुपये प्रति माह का लाभ मिलेगा, और मूल वेतन यानी 1,00,000 रुपये प्राप्त करने वालों को 4 प्रतिशत की वृद्धि के बाद कुल वेतन में 4,000 रुपये का लाभ मिलेगा।

लेकिन अगर यह बढ़ोतरी 5 फीसदी है तो 7th Pay Commission की सिफारिश के मुताबिक अगर आपका मूल वेतन 18,000 रुपये है तो आपका DA 900 रुपये बढ़ जाएगा, जो सालाना 10,800 रुपये हो जाएगा। अगर आपकी बेसिक सैलरी 25,000 है, तो आपको 1,250 रुपये प्रति माह या 15,000 रुपये सालाना का लाभ मिलेगा। इसी तरह यदि आपका मूल वेतन 50,000 रुपये है, तो आपको अपने कुल वेतन में 2,500 रुपये प्रति माह या 30,000 रुपये प्रति वर्ष की वृद्धि मिलेगी, और यदि आपका मूल वेतन 1,00,000 रुपये है, तो महंगाई भत्ते में 5 प्रतिशत की वृद्धि इसके बाद होगी। कुल वेतन 5,000 रुपये प्रति माह या 60,000 रुपये प्रति वर्ष बढ़ जाएगा।

HomepageClick Here
close button