Employee pension
News

Employee’s pension scheme 2022 : 25 हज़ार मिलेगी पेंशन, देखें गणना

Employee’s pension scheme : Private sector कर्मियों को मिल सकती है राहत, जल्द ही उनकी कर्मचारी पेंशन योजना की न्यूनतम पेंशन राशि में भी बड़ा इजाफा होगा।एक झटके में पेंशन की राशि 7500 रुपये से बढ़कर 25000 रुपये हो सकती है।कर्मचारियों की पेंशन (Pension, EPS) 300% से अधिक का उपयोग करने की सहायता से बढ़ सकती है।

Employee’s pension scheme

EPFO के सभी ईपीएफ ग्राहकों के लिए कर्मचारी पेंशन योजना-1995 है।इसमें निजी क्षेत्र के नीचे काम करने वाले लोगों को 58 वर्ष की आयु के बाद पेंशन मिलती है।
कर्मचारी के लिए कम से कम 10 साल की सेवा होना अनिवार्य है।कर्मचारी अपनी आय का 12% ईपीएफ में योगदान देता है और संगठन भी उतनी ही राशि प्रदान करता है।लेकिन, संगठन के योगदान का कुछ हिस्सा ईपीएस में जमा किया जाता है।

Super Senior Citizen Fixed Deposits : यह बैंक दे रहा सुपर सीनियर सिटीजन फिक्स्ड डिपॉजिट, होगी बंपर कमाई

पेंशन की गणना 15000 रुपये पर की जाती है

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) कर्मचारी पेंशन योजना में सबसे ज्यादा पेंशन 15,000 रुपये है। इसका मतलब, भले ही आपकी कमाई 15 हजार रुपये (प्राथमिक कमाई) महीने से ज्यादा हो, लेकिन 15 हजार रुपये की अधिकतम कमाई पर पेंशन की गणना की जा सकती है।

EPS Pension Scheme: नई गणना के साथ कई गुना बढ़ेगी EPS पेंशन , 33+2= 35/70×50,000 इस गणना से 333 परसेंट वेतन में इंक्रीमेंट, समझें कितनी बनेगी आपकी पेंशन?

EPFO Pension की गणना Closing pay पर की जाएगी

कर्मचारियों की पेंशन की गणना क्लोजिंग अर्निंग यानी बेहतर वेतन श्रेणी के आधार पर की जाए तो उन्हें बड़ी राहत मिल सकती है!कर्मचारी पेंशन योजना के तहत पेंशन होने की स्थिति यह है कि कर्मचारी भविष्य निधि (EPS) में 10 साल के लिए अंशदान करना बेहद महत्वपूर्ण है।वहीं, दो दशक की सेवा के फाइनल टच पर दो साल का वेटेज दिया जाता है।

PM Kisan New List 2022: किसान योजना की नई लिस्ट बिना देर किये तुरंत चैक करें

EPS Pension पर 15 हजार रुपये की है लिमिट

वर्तमान व्यवस्था के अनुसार यदि कोई कर्मचारी 1 जनवरी, 2022 से काम कर रहा है और वह 15 वर्ष की सेवा पूरी करने के बाद पेंशन लेना चाहता है तो उसकी कर्मचारी पेंशन योजना पेंशन की गणना 15,000 रुपये ही हो सकती है।
कर्मचारी चाहे 20 हजार रुपये के साधारण वेतन के भीतर हो या 30 हजार रुपये के भीतर।सूत्र के मुताबिक, पूरे 15 साल में कर्मचारी को 2 जनवरी 2017 से करीब 3000 रुपये पेंशन मिलती है।पेंशन की गणना के लिए घटक हैं- (सेवा इतिहास x 15,000/70)।लेकिन, अगर पेंशन की सीमा समाप्त हो जाती है, तो समान कर्मचारी की पेंशन बढ़ जाएगी.

Employee Pension Yojana उदाहरण संख्या 1

मान लीजिए किसी कर्मचारी का प्रॉफिट (बेसिक सैलरी डीए) 20 हजार रुपये है।कर्मचारी पेंशन योजना के घटकों से गणना करते हुए, उसकी पेंशन 4000 रुपये (20,000X14)/70 = 4000 रुपये हो सकती है।इसी तरह, बेहतर मुनाफा, बेहतर पेंशन का लाभ हो सकता है।ऐसे लोगों की पेंशन में तीन सौ फीसदी का उछाल आ सकता है।

Employee Pension Yojana उदाहरण संख्या-2

मान लीजिए एक कार्यकर्ता का कार्य 33 वर्ष का है।उनका अंतिम साधारण मुनाफा 50 हजार रुपये है।वर्तमान कर्मचारी पेंशन योजना प्रणाली के तहत, पेंशन को 15,000 रुपये के अधिकतम लाभ पर गणना में बदल दिया गया।इस प्रकार (सूत्र: 33 वर्ष 2 = 35/70×15,000) पेंशन केवल 7,500 रुपये थी।यह आधुनिक व्यवस्था के भीतर सबसे अधिक पेंशन है।लेकिन, अंतिम वेतन के साथ पेंशन सहित पेंशन की सीमा समाप्त करने के बाद, उन्हें 25000 हजार रुपये की पेंशन मिलेगी।मतलब (33 साल 2 = 35/70×50,000 = 25000 रुपये)

333% तक का मिलेगा अधिक लाभ

आपको बता दें कि ईपीएफओ के नियमों के मुताबिक अगर कोई कर्मचारी लगातार बीस साल या उससे ज्यादा समय तक ईपीएफ में योगदान करता है तो उसके कैरियर में ज्यादा मुनाफा हो सकता हैं।इस तरह अगर कैरियर के 33 साल पूरे हो गए तो भी , हालांकि 35 साल के लिए भी पेंशन की गणना हो सकती है ।ऐसे में उस कर्मचारी की Employee Pension Yojana की राशि में 333% की भारी वृद्धि हो सकती है।

7th Pay Commission: सरकार ने दी सफाई- महंगाई भत्ता बढ़ाने का जारी हो गया आदेश? जानें अपडेट