छात्रों को मिला स्मार्टफोन/ टैबलेट, जानें कहाँ

Free Smartphone: सरकार ने युवाओं की मदद करने के उद्देश्य से छात्रों के बीच स्मार्ट फोन और टैबलेट बाँटने का आयोजन किया गया । सिटी लॉ कॉलेज लखनऊ में स्मार्टफोन और टैबलेट बांटे गए ये गैजेट छात्रों को रोजगार के अवसरों के बारे में जानकारी हासिल करने और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद करेंगे।

स्नातक और स्नातकोत्तर छात्रों को राज्य सरकार द्वारा मुफ्त स्मार्टफोन/ टैबलेट प्रदान किए जाएंगे। यूपी सीएम ने आगे कहा कि हर लाभार्थी तक पहुंचने का लक्ष्य पूरा करना होगा। योजना बनाई गई है कि पहले लॉट में करीब 2.5 लाख टैबलेट और 5 लाख स्मार्टफोन बांटे जाएंगे। उल्लेखनीय है कि इस योजना का उद्देश्य छात्रों को गैजेट्स से लैस करना है ताकि वे बिना किसी बाधा के अच्छी तरह से पढ़ाई कर सकें।

योजनाFree Smartphone Yojana
प्रदेशउत्तर प्रदेश
शुभारम्भ तिथि19 अगस्त 2021
योजना का बजट3000 करोड़
पात्र अभ्यर्थीस्नातक, परास्नातक, तकनीकी डिप्लोमा और कौशल विकास कर्मी
अभ्यर्थियों की संख्या1 करोड़
रजिस्ट्रेशनजारी
आवंटन परिणाम2022
आधकारिक वेबसाइटup.gov.in & upcmo.up.nic.in

City Law College Smartphone Distribution

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमने सफलतापूर्वक कोविड 19 की चुनौतियों का सामना किया। महामारी ने पढ़ाई पर असर डाला, मैंने जब भी छात्रों से पूछताछ की तो उन्होंने कहा कि वे पढ़ना चाहते हैं लेकिन ऑनलाइन पढ़ाई का कोई साधन नहीं है। यहां मैंने एक करोड़ छात्रों को स्मार्टफोन देने का फैसला किया, ”योगी ने कहा।

सिटी लॉ कॉलेज लखनऊ में आज स्मार्टफोन का वितरण किया गया जिसमे छात्रों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। मिला हुआ स्मार्टफोन नयी तकनीक से लेश है। जिसमे छात्रों को सभी सुविधाएँ प्राप्त होंगी जो उन्हें डिजिटली आगे बढ़ाएंगे।

Free Smartphone
Free Smartphone

क्या यूपी में छात्रों को मिलते रहेंगे टैबलेट और स्मार्टफोन?

राज्य में 1 करोड़ छात्रों के बीच स्मार्ट फोन` और टैबलेट वितरित किए जाने का ऐलान किया गया था जिसको धीरे धीरे सरकार पूरा करने पे लगी हुई है , जिससे उन्हें मुफ्त में डिजिटल सामग्री तक पहुंच प्राप्त होगी। युवाओं को रोजगार योजनाओं की जानकारी सिर्फ एक क्लिक से प्राप्त होगी।” योगी आदित्यनाथ ने कहा कि टैबलेट और स्मार्टफोन छात्रों को उनके करियर को आकार देने के लिए मानक सामग्री और संबंधित सूचनाओं तक मुफ्त डिजिटल पहुंच प्राप्त करने में मदद करेंगे। उन्होंने टैबलेट और स्मार्टफोन के वितरण को तकनीक के जरिए उत्तर प्रदेश का सशक्तिकरण करार दिया।

उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान प्रौद्योगिकी के वास्तविक महत्व का एहसास हुआ, क्योंकि सब कुछ ऑनलाइन मोड में चला गया था। “महामारी के दौरान प्रौद्योगिकी का महत्व महसूस किया गया था। बच्चों के पास ऑनलाइन शिक्षा हासिल करने और साधनों के अभाव में कक्षाओं में जाने की सुविधा नहीं थी।

योगी सरकार ने युवाओं को free tablet and smart phone बांटने का ऐलान किया था। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इनके अलावा कुछ अन्य लोगों को भी मुफ्त स्मार्ट फोन और टैबलेट जैसे नर्स, प्लंबर, कारपेंटर, मैकेनिक, इलेक्ट्रीशियन आदि का लाभ मिलेगा. ये सभी लोग भी बेहतर सुविधा प्रदान कर सकेंगे. इन स्मार्ट फोन और टैबलेट के माध्यम से नागरिकों को आसानी से सेवाएं प्रदान करता है।

उत्तर प्रदेश में Bharatiya Janata Party ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में छात्रों को टैबलेट और स्मार्टफोन देने का ऐलान किया था. सीएम योगी आदित्यनाथ ने उस वक्त ऐलान किया था कि प्रदेश के 2 करोड़ छात्रों को स्मार्टफोन और टैबलेट से लैस किया जाएगा. कोरोना काल में डिजिटल शिक्षा के महत्व को देखते हुए योगी सरकार के इस ऐलान को काफी अहम माना जा रहा है. चुनाव के दौरान लगभग सभी राजनीतिक दलों के घोषणापत्र में स्मार्टफोन, टैबलेट और लैपटॉप बांटे जाने का दावा किया गया था। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी एक बार फिर जीत गई. सत्ता में लौटने के बाद अब छात्रों से किए गए वादों को पूरा करने की कवायद तेज हो गई है.

close button