PM Garib Kalyan Yojana 2021: नहीं होगा मुफ्त राशन वितरण का विस्तार, नवंबर में होगी बंद

PM Garib Kalyan Yojana: केंद्र सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को और आगे नहीं लेगी। कोरोना काल में गरीबों को भूखा न सोने के लिए शुरू की गई गरीब कल्याण अन्न योजना PM Garib Kalyan Yojana नवंबर में समाप्त हो जाएगी। खाद्य सचिव सुधांशु पांडेय के मुताबिक, मुफ्त राशन वितरण को नवंबर के बाद बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है

प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना की विशेषताएं

  • PMGKY के तहत हर महीने एक व्यक्ति को 5 किलो चावल या गेहूं दिया जाता है। 81 करोड़ लोगों को इसका लाभ मिल रहा है
  • इस योजना के तहत 19.4 करोड़ परिवारों को हर महीने 1 किलो चना मुफ्त दिया जा रहा है
  • इस योजना के तहत 20 करोड़ जनधन खातों और 3 करोड़ वृद्धों, गरीब विधवाओं और विकलांगों को नकद राशि दी गई
  • 20.97 लाख करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज 1.0 में PM गरीब कल्याण योजना की घोषणा की गई

मुफ्त राशन की योजना 30 नवंबर के बाद नहीं चलेगी

Free Ration Update News: कोरोना संकट का सामना कर रहे गरीबों को मुफ्त राशन की योजना नवंबर तक बढ़ाए जाने की संभावना नहीं है। यानी मुफ्त राशन की यह योजना 30 नवंबर के बाद नहीं चलेगी. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के विस्तार का कोई प्रस्ताव फिलहाल खाद्य मंत्रालय के पास विचाराधीन नहीं है. केंद्रीय खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पटरी पर आ रही है. इसलिए मुफ्त राशन देने की योजना को आगे ले जाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार हो रहा है. इसके साथ ही OMSS (ओपन मार्केट सेल स्कीम open market sale scheme) के तहत अनाज की मांग भी बढ़ गई है। इसलिए सरकार के पास प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुफ्त राशन वितरण को बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

PM Garib Kalyan Yojana latest Updates

सरकार ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन के दौरान मार्च 2020 में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) की शुरुआत की थी। इस साल अप्रैल-मई में फिर से इस योजना की शुरुआत की गई। बाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएमजीकेएवाई को दीपावली तक यानी 30 नवंबर तक ही जारी रखने की घोषणा की।

PMGKAY के तहत, खाद्य सुरक्षा गारंटी योजना (NFSA) के तहत आने वाले लाभार्थियों को प्रति सदस्य पांच किलो अनाज (गेहूं-चावल) मुफ्त दिया गया। यह एनएफएसए के तहत उपलब्ध प्रति व्यक्ति पांच गेहूं या चावल के अतिरिक्त था। सरकार की इस योजना से कोरोना में लोगों को काफी राहत मिली है.

हमारे साथ जुड़े रहे और देखे PM Garib Kalyan Yojana मुफ्त राशन योजना पर सभी विस्तृत जानकारी। सभी राज्य और केंद्र सरकार की योजनाएं प्राप्त करने के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें