Gas Cylinder हादसे में मिलता है 50 लाख का मुआवजा, जानिए क्या करना होगा

Gas Cylinder Accident Compensation: गैस सिलेंडर इन दिनों अपने बढ़ते दाम को लेकर काफी चर्चा में है यह इसलिए भी आम है क्योंकि आज के समय में लगभग हर घर में गैस सिलेंडर का इस्तेमाल होता है लेकिन इन सब खबरों के बीच क्या आप जानते हैं कि गैस सिलेंडर दुर्घटना की स्थिति में ग्राहक को 50 लाख तक का मुआवजे के तौर पर सरकार द्वारा दिए जाते हैं और क्या आप जानते हैं पेट्रोलियम और गैस कंपनियां अपने ग्राहकों को हर गैस कनेक्शन पर पर्सनल एक्सीडेंट कवर भी देती हैं इसलिए किसी भी गैस सिलिंडर के दुर्घटना स्तिथि में 50 लाख तक का मुआवजा दिया जाता है आइये जानते हैं LPG Cylinder Accident Compensation की पूरी जानकारी-

गैस दुर्घटना में 50 लाख का मुआवजा

गैस सिलेंडर से दुर्घटना में हुए नुकसान की भरपाई के लिए 50 लाख रुपये तक की राशि दी जाएगी सिलेंडर में रिसाव या फटने के कारण दुर्घटना होने की स्थिति में ग्राहक को यह वित्तीय सहायता मिलती है। यदि ग्राहक की संपत्ति या घर किसी दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो जाता है तो उसे 2 लाख रुपये तक का बीमा दावा दिया जाता है। दुर्घटना में घायल होने पर चिकित्सा सुविधाओं के लिए प्रति दुर्घटना मुआवजा 30 लाख

सिलेंडर खरीदते समय यह अवश्य जांच लें

आज के समय में लगभग हर घर में सिलेंडर का इस्तेमाल किया जाता है सभी ग्राहकों की सुरक्षा के लिए यह आवश्यक है कि एलपीजी सिलेंडर खरीदते समय यह अवश्य जांच लें कि वे जो सिलेंडर ले रहे हैं वह सही स्थिति में है या नहीं कहीं कोई लीकेज या कोई अन्य समस्या न हो। इतना ध्यान देने से ही ग्राहक अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा कर सकते हैं। इसके अलावा घर में गैस सिलेंडर का प्रयोग करते समय कुछ सावधानी भी जरूरी है, जैसे गैस सिलेंडर से ज्वलनशील पदार्थ आदि दूर रखें

राष्ट्रीय उपभोक्ता मंच के आदेश के आधार पर एलपीजी वितरण के लिए विपणन अनुशासन दिशानिर्देश 2014 के अनुसार, यदि ऐसी कोई घटना होती है, तो डीलर और कंपनी इसके लिए जिम्मेदार होगी। गाइडलाइन के मुताबिक, यह जरूरी है कि डीलर गैस सिलेंडर की डिलीवरी से पहले सिलेंडर की स्थिति की जांच कर ले। ICICI लोम्बार्ड इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम, हिंदुस्तान पेट्रोलियम से एलपीजी कनेक्शन के लिए बीमा प्रदान करता है। ध्यान रहे कि यह मुआवजा तभी मिलेगा जब ग्राहक गैस एजेंसी के पास पंजीकृत हो।

दुर्घटना होने पर क्या करना है?

Gas Cylinder Accident Compensation Rules: सबसे पहले आपको एलपीजी सिलेंडर दुर्घटना की सूचना अपने नजदीकी पुलिस थाने में देनी होगी और इस संबंध में रिपोर्ट दर्ज करनी होगी। इसके बाद संबंधित एजेंसी द्वारा ग्राहक के इलाके की जांच की जाती है कि हादसे की असली वजह क्या है? एलपीजी सिलेंडर दुर्घटना का कारण है, तो एलपीजी वितरक एजेंसी/क्षेत्र कार्यालय इस बारे में बीमा कंपनी के स्थानीय कार्यालय में सूचित करता है इसके बाद संबंधित कंपनी में दावा दायर किया जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इसके लिए ग्राहकों को सीधे तौर पर क्लेम (Gas Cylinder Accident Compensation) करने या इससे संबंधित किसी भी तरह का आवेदन करने की जरूरत नहीं है

ताजा खबर अपडेट sarkariiyojana.in से जानें और साइट को बुकमार्क करें

Leave a Comment