KSY: कन्या सुमंगला योजना के तहत एक घर से सिर्फ़ इतनी बेटियों को मिल सकता है 15000 का लाभ

KSY: देश में केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर बालिकाओं के हित में योजनायें चलाई जाती हैं, इसी तरह बालिकाओं को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने हेतु यूपी सरकार द्वारा मुख्यमंत्री Kanya Sumangala Yojana शुरू की गयी है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में बालिका के जन्म से लेकर पढाई तक का पूरा खर्च दिया जाता है और बालिकाओं के लिए यह आर्थिक सहायता 6 किस्तों में प्रदान की जाती है। इस योजना के अंतर्गत 15 साल की आयु में बालिका को 15000 रुपये प्रदान किए जाते हैं।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत स्वालंबन कैंप का आयोजन अक्टूबर माह से दिसंबर माह तक आयोजित किया जाएगा और कैंप के माध्यम से पात्र आवेदकों से आवेदन पत्र प्राप्त किए जाएंगे एवं उन्हें योजना का लाभ दिया किया जाएगा। यह कैंप 26 अक्टूबर, 12 एवं 25 नवंबर तथा 8 एवं 22 दिसंबर को यूपी राज्य के सभी जिलों में आयोजित किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त इस योजना का लाभ केवल वही परिवार उठा सकते हैं जिनके परिवार में दो बच्चे से अधिक न हो एवं जिनके परिवार की वार्षिक आय अधिकतम ₹300000 है।

KSY कन्या सुमंगला योजना- पात्रता

  • आवेदक कन्या उत्तर प्रदेश राज्य की स्थाई निवासी होना अनिवार्य है था आवेदनकर्ता के पास स्थाई निवासी होने का प्रमाण पत्र होना भी जरुरी है।
  • आवेदनकर्ता के परिवार की सालाना आय 3 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • अगर किसी परिवार ने अनाथ बालिकाओं को गोद लिया है तो गोद ली हुई अधिकतम दो बालिकायें ही इस योजना का लाभ उठा सकती हैं और इसके साथ -साथ उसी परिवार से दो अन्य लड़कियां भी इस योजना का लाभ लेने हेतु पात्र होंगी। इसका मतलब है कि उस परिवार में 4 बालिकायें कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने के लिए पात्र होंगी।
  • कन्या सुमंगला योजना का फायदा लेने के लिए एक परिवार की दो बेटियाँ ही पात्र हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत यह शर्त है कि अगर किसी परिवार में दो से अधिक बच्चे हैं तो उस परिवार को कन्या सुमंगला योजना 2021 का लाभ प्रदान नहीं किया जायेगा।
  • कन्या सुमंगला योजना के तहत दो बेटियों को ही लाभ देने का प्रावधान है किन्तु अगर किसी महिला की जुड़वा बेटियां हैं तो उन जुड़वा बेटियों को इस योजना का लाभ अलग-अलग मिलेगा और इस स्थिति में यदि परिवार में तीन बेटियां हैं तो तीनों बेटियां योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं, दोनों जुड़वा बेटियां और एक अन्य बेटी।

कन्या सुमंगला योजना के तहत एक घर से कितनी बेटियां आवेदन कर सकती हैं ?

कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत एक घर से दो बेटियां आवेदन कर सकती हैं। किन्तु यदि किसी परिवार की कोई महिला जुड़वा बेटियों को जन्म देती है तो दोनों बेटियों को योजना का लाभ मिलेगा साथ ही यदि एक अन्य बेटी भी है तो तीनों बेटियां योजना के अंतर्गत लाभ पाने के लिए पात्र होंगी। इसके अतिरिक्त यही कोई बेटी गोद ली गयी है तो वह बेटी भी योजना के तहत लाभ लेने के लिए पात्र होगी।

राज्य केंद्र सरकार की योजनाओं को जानने के लिए sarkariiyojana.in को बुकमार्क करें |