Labour Code New Rule : अब कर्मचारियों को 8 की जगह 12 घंटे करना होगा काम, जानें कब से लागू होगा नया नियम

Labour Code New Rule: मोदी सरकार ऑफिस कर्मचारियों (Office Workers) के लिए बड़ी खबर लेकर आई है। 1 जुलाई से ऑफिस कर्मचारियों के ऑफिस के घंटे बढ़ सकते हैं। अब कर्मचारियों को 8 घण्टे की बजाय 12 घंटे काम करना होगा। मोदी सरकार की योजना जल्द ही श्रम कोड के नियमों (Labour Code Rules) को लागू करेगी। इन चार श्रम कोड नियमों (Labour Code Rules) को लागू होने में कम से कम तीन महीने का समय लग सकता है क्योंकि अभी तक सभी राज्यों ने यह नियम नहीं बनाए हैं। अधिकारियों के मुताबिक चार श्रम कोड नियमों (Labour Code Rules) को लागू करने में जून तक का समय लग सकता है।

1 जुलाई से लागू होंगे Labour Code New Rule

चार श्रम कोड नियमों (Labour Code New Rule) के लागू होने से निवेश को बढ़ावा मिलेगा और देश में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। श्रम नियम देश के संविधान का अहम हिस्सा है। अब तक 23 राज्य श्रम कोड नियमों (Labour Code Rules) ने नियम बनाए हैं। अब लेबर कोड के नए नियमों के मुताबिक ये नियम सिर्फ सात राज्यों में नहीं बनाए गए हैं। अभी इसे बनने में तीन महीने लग सकते हैं। 1 जुलाई से लेबर कोड का नियम (Labour Code Rules) लागू हो सकता है।

23 राज्यों ने इन नियमों को कर लिया तैयार

भारत में 29 केंद्रीय श्रम कानूनों को 4 कोड में बांटा गया है। संहिता के नियमों में 4 श्रम संहिताएं शामिल हैं जैसे मजदूरी, सामाजिक सुरक्षा, औद्योगिक संबंध और व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य और काम करने की स्थिति आदि। अब तक 23 राज्यों ने कानून का मसौदा तैयार किया है।

केंद्रीय श्रम कानूनों को 4 कोड में बांटा गया

इन चारों संहिताओं को संसद ने पारित कर दिया है लेकिन केंद्र के अलावा राज्य सरकारों को भी इन संहिताओं नियमों को अधिसूचित करना आवश्यक है। तभी ये नियम राज्यों पर लागू होंगे। नए मसौदे के नियमों के मुताबिक मूल वेतन कुल वेतन से 50 फीसदी ज्यादा होगा। इससे अधिकांश कर्मचारियों के वेतन ढांचे में बदलाव आएगा। बेसिक सैलरी बढ़ने से पीएफ और ग्रेच्युटी का पैसा पहले से ज्यादा कटेगा। पीएफ मूल वेतन पर आधारित होगा। पीएफ (PF) बढ़ने से हाथ में वेतन कम हो जाएगा।

अब कर्मचारियों को 12 घंटे करना होगा काम

मोदी सरकार ऑफिस कर्मचारियों के लिए काम के घंटे को बढ़ा रहे हैं। इसके साथ कंपनी के पास एक अधिकारी होगा कि वे काम के घंटे बढ़ाकर 12 घंटे प्रति दिन कर सकते हैं लेकिन फिर एक दिन और छुट्टी मिलेगी जिससे कर्मचारियों को 3 दिन की छुट्टी मिल जाएगी।

close button