LIC IPO Listing आज: ग्रे मार्केट प्रीमियम में आई बड़ी गिरावट, देखें अपडेट

LIC IPO : भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) की ग्रे मार्केट प्रीमियम (GMP) में हिस्सेदारी की कीमत पिछले 10 कारोबारी सत्रों में 111 प्रतिशत गिर गई है। GMP जो 3 मई को 85 रुपये था, आज गिरकर माइनस 10 रुपये हो गया जो 3 मई से 111.76 प्रतिशत दुर्घटना का संकेत है। IPO 4 मई को खुला और 9 मई को बंद हुआ। पिछले तीन सत्रों के दौरान IPO वॉच के अनुसार, IPO का GMP माइनस 10 रुपये के स्तर पर अटका हुआ है।

LIC IPO 17 मई को सूचीबद्ध होने की संभावना

बीमाकर्ता के शेयर 12 मई को बोली लगाने वालों को आवंटित किए गए थे। स्टॉक के BSE और NSE पर 17 मई को सूचीबद्ध होने की संभावना है। आखिरी दिन को आईपीओ 2.95 गुना सब्सक्राइब हुआ था। शेयर बिक्री में 47.83 करोड़ से अधिक शेयरों के लिए बोलियां प्राप्त हुईं जबकि कुल निर्गम आकार 16.20 करोड़ से अधिक था। जहां पॉलिसीधारकों के हिस्से को 6.1 गुना सब्सक्राइब किया गया था वहीं कर्मचारी के हिस्से को 4.4 गुना बुक किया गया था।

LIC IPO 12 मई को 8 रुपये माइनस

बाजार पर्यवेक्षकों ने कहा कि द्वितीयक बाजारों में कमजोर धारणा के कारण LIC IPO ग्रे मार्केट प्रीमियम करीब एक सप्ताह से कम हो रहा है और अब यह लाल क्षेत्र में फिसल गया है। उन्होंने कहा कि LIC, IPO, GMP 12 मई को माइनस 8 रुपये था जो 13 मई के ग्रे मार्केट प्रीमियम में 25 रुपये से 33 रुपये कम था। उन्होंने कहा कि LIC IPO सब्सक्रिप्शन खोलने की तारीख से पहले LIC, IPO, GMP 92 रुपये तक बढ़ गया। हालांकि यह गिरने लगा उसके बाद से वैश्विक बाजारों में बाजार की धारणा नकारात्मक हो गई।

LIC IPO ग्रे मार्केट में आई गिरावट

LIC के आईपीओ को कुल मिलाकर 2.95 गुना अभिदान मिला। पॉलिसीधारकों के हिस्से को 6.12 गुना सब्सक्राइब किया गया, इसके बाद कर्मचारी कोटे के लिए 4.4 गुना बोली लगाई गई। एचएनआई और क्यूआईबी कोटा को 2 गुना से अधिक सब्सक्राइब किया गया। निवेशकों ने 20,557 करोड़ रुपये के इश्यू के लिए करीब 60,000 करोड़ रुपये की बोली लगाई जो बाजार की उम्मीद से काफी कम थी। इस बोली के चलते बीमा की दिग्गज कंपनी ग्रे मार्केट में फिसल गई।

close button