PM Awas Yojana Latest List: कहीं आपका घर भी किसी और ने फ़र्ज़ी तरीके से अपने नाम ना करा लिया हो, देखें लिस्ट

PM Awas Yojana Latest List: पीएम आवास योजना के तहत कई बार गाँव के सरपंच, प्रधान और ब्लाक प्रमुख के द्वारा धोखेधड़ी और फर्जी कार्य किये जाते हैं , इससे भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलता है। गाँव के प्रधान सरपंच और ब्लाक प्रमुख लोगों के फर्जी आधार कार्ड लगाकर किसी को भी मकान आवंटित करवा देते हैं, और उन लोगों से रिश्वत खाते हैं। इसके अलावा कई बार एक व्यक्ति दो जिलों में पीएम आवास योजना का लाभ उठाने की कोशिश में लगे रहते हैं , जो कि गलत है, क्योंकि जो जरूरतमंद है उसे लाभ नहीं मिल पता है। इस तरह के फर्जी और धोखे के मामलों में पकड़े जाने पर सजा और जुर्माने का प्रावधान है। लेकिन अब सरकार इस तरह के फर्जी वाले मामलों में सख्त हो गई है। अब ऐसे मामलों में शामिल लोगों को सख्त सजा भी हो सकती है। कुछ समय पहले ही सरकार ने योजना की ऑफिसियल वेबसाइट pmay-urban.gov.in पर धोखाधड़ी और फर्जीवाड़ा करने वाले लोगों की सूची अपलोड की थी।

पीएम योजनाओं के तहत गलत फायदा लेने पर होगी करवाई

बहुत सारे ऐसे किसान हैं जो सरकारी नौकरी में है या कोई बिजनेस कर रहे हैं। इस तरह के फर्जीवाड़े वाले कई मामले भी सामने आये जिनमें कहीं पति और पत्‍नी दोनों के बैंक खातों में योजना की रकम मिल रही थी तो कहीं लाभार्थी किसान की मृत्यु होने के बाद भी योजना की रकम का लाभ लिया जा रहा था।

इसके अतिरिक्त कुछ मामलों में तो गलत खाते में योजना की राशि पहुँच रही थी। योजना के संबंध में हो रहे धोखाधड़ी और फर्जीवाड़ा की शिकायतें केंद्र सरकार के पास तीन महीने पहले पहुंची थी। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आयकर दाता या पेंशन धारक योजना के अंतर्गत लाभ पाने के लिए पात्र नहीं हैं। लेकिन अगर किसी परिवार में एक ही जमीन पर एक से अधिक सदस्यों के बैंक खाते में योजना की किस्‍त आयी हो तो उन्हें वह पैसा वापस करना होगा। यह जानने के लिए कि आप योजना के तहत पात्र है या अपात्र आप लाभार्थी सूची में अपना नाम चेक कर सकते हैं। जो लोग योजना के तहत अपात्र साबित हुए हैं , पैसा वापस ना करने पर उन लोगों पर धोखाधड़ी का मामला भी दर्ज हो सकता है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए sarkariiyojana.in को जरूर बुकमार्क करें