PM Awas Yojna 2021: आवास योजना में धोखाधड़ी पकड़े जाने पर सजा और जुर्माने का प्रावधान, चेक करें धोखाधड़ी करने वालों की सूची

PM Awas Yojna: प्रधानमंत्री आवास योजना में धोखाधड़ी की खबर आपने कई बार सुनी होगी जिसमें सरपंच, प्रधान और प्रखंड प्रमुख की ओर से भ्रष्टाचार किया जाता है और समय-समय पर इसकी खबरें मीडिया में आती रहती हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि जिन लोगों के नाम पर धोखाधड़ी हुई है या जो दो बार प्रधानमंत्री आवास योजना का फायदा उठाना चाहते हैं उन्हें सचेत रहने की आवस्यकता है क्योंकि सरकार अब इस मामले को लेकर सख्त हो गई है। ऐसे में अगर आपने भी ऐसा किया है तो आप पर जुर्माना लग सकता है इसके साथ ही आपको सजा भी हो सकती है

PM Awas Yojna Latest News

आवास योजना के तहत कई घटनाएं ऐसे सुनने को मिल रही है जिसने अपात्र व्यक्ति भी प्रधान मंत्री आवास योजना का लाभ उठा रहा है कई बार प्रधान सरपंच और ब्लाक किसी और का आधार कार्ड लगाकर किसी और को मकान दिला दे रहे हैं ऐसे घटनाएं भी सुनने आयी है इसके साथ ही कई बार पात्र व्यक्ति भी दो जिलों में प्रधानमंत्री आवास योजना ( PM Awas Yojna ) का फायदा उठाने की कोशिश करते है और ऐसा पाए जाने पर सरकार द्वारा सजा और जुर्माने का नियम है

किसे मिलेगा प्रधानमंत्री आवास योजना फायदा

  • आवेदक या उसके परिवार के किसी सदस्य के नाम से भारत में कहीं भी पक्का मकान नहीं होना चाहिए
  • परिवार के किसी भी सदस्य को सरकार द्वारा पूर्व में शुरू की गई आवास योजना का लाभ नहीं लेना चाहिए था
  • विवाहित जोड़े के मामले में एकल और संयुक्त दोनों स्वामित्व की अनुमति है। लेकिन दोनों विकल्पों पर सिर्फ 1 सब्सिडी मिलेगी
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS), निम्न आय वर्ग (LIG) और मध्यम आय वर्ग CLSS के लिए पात्र हैं
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को केवल एक नई आवासीय संपत्ति खरीदने या निर्माण करने की अनुमति है

ये दस्तावेज जरूरी

पहचान प्रपत्र: पैन कार्ड, वोटर आईडी, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकार द्वारा जारी किया गया कोई भी फोटो आईडी कार्ड, मान्यता प्राप्त प्राधिकारी या लोक सेवक से प्राप्त फोटो के साथ कोई भी पत्र।
पते का प्रमाण: वोटर कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, बीमा, निवास का पता प्रमाण पत्र, स्टाम्प पेपर पर किराया समझौता या बैंक पासबुक पर लिखा हुआ पता।
आय प्रमाण: पिछले 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट, आईटीआर की प्राप्ति, पिछले 2 महीने की वेतन नींद
संपत्ति प्रमाण: बिक्री विलेख, बिक्री / खरीद समझौता, संपत्ति पंजीकरण प्रमाण पत्र, यदि उपलब्ध हो, भुगतान की प्राप्ति।

चेक करें धोखाधड़ी करने वालों की सूची

सरकार ने धोखाधड़ी करने वालों की सूची PM Awas Yojna की आधिकारिक पोर्टल pmay-urban.gov.in वेबसाइट पर डाली है। किसी दूसरे का आधार कार्ड का प्रयोग करना: कई बार मुखिया सरपंच और प्रखंड प्रमुख दूसरे लोगों का आधार कार्ड लगाकर किसी और को मकान दे देते हैं जिसमें पकड़े जाने पर सजा व जुर्माने का प्रावधान है। दो जिलों में प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेना गलत: इसके साथ ही कई बार पात्र व्यक्ति भी दो जिलों में प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेने की कोशिश करते हैं, आइए पाए जाने पर भी सरकार एक्शन लेगी कई लोगों ने अपने सरकारी घर को किराए पर दे दिया और कहीं और रहने लगे और सरकारी योजना का दुरुपयोग किया

सरकार द्वारा जारी की गई सभीजानकारी पाने के लिए sarkariiyojana.in को जरूर बुकमार्क करें