PM Modi- भारत में नागरिकता को अब जन्म प्रमाण पत्र से जोड़ा जा सकता है

PM Modi: जन्म प्रमाण पत्र को नागरिकता से जोड़ना, व्यापार समझौतों के दौरान नई नौकरियों के लिए जोर देना, रोजगार के अवसर प्रदान करना और पर्यावरण को बचाने के लिए कानून बनाना ये प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल के लिए लक्ष्य के रूप में निर्धारित किया हुए हैं।

एक प्रतिष्ठित अख़बार ने अपनी न्यूज़ रिपोर्ट में लिखा है कि 18 सितंबर को सभी मंत्रालयों और विभागों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक के बाद केंद्र सरकार ने 60 सूत्री कार्य योजना (60-point action plan) तैयार की है. अखबार लिखता है कि उसे जो कार्य योजना दस्तावेज मिला है, उसमें लिखा है, ”भारत में नागरिकता को अब जन्म प्रमाण पत्र से जोड़ा जा सकता है.”

केंद्र सरकार के एक शीर्ष अधिकारी का कहना है कि सभी सचिवों को ‘कार्रवाई की जानकारी’ भेज दी गई है. कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने 20 सितंबर को सभी सचिवों को एक अलग पत्र में प्रधानमंत्री के निर्देश पर “तत्काल कार्रवाई” करने और इसे “समय पर लागू” सुनिश्चित करने के लिए कहा।

60-सूत्रीय कार्य योजना के उद्देश्य

60-सूत्रीय कार्य योजना विभागों के तीन उद्देश्य हैं।

  • पहला, शासन के लिए आईटी और प्रौद्योगिकी का लाभ,
  • दूसरा कारोबारी माहौल में सुधार और
  • तीसरा नागरिक सेवाओं में सुधार के लिए।

इस से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए सरकारीयोजना को बुकमार्क करें।